1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. jharkhand crime news in gumla three old men were beaten unconscious on suspicion of witch hunt then they fled leaving them dead srn

गुमला में डायन बिसाही के शक में तीन वृद्धों को पीटा बेहोश हुए तो मरा समझ छोड़ कर भाग गये

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
डायन बिसाही के शक में तीन वृद्धों को पीटा
डायन बिसाही के शक में तीन वृद्धों को पीटा
Prabhat khabar

गुमला : बसिया थाना के कुम्हारी गढ़टोली में डायन बिसाही के शक में तीन वृद्धों को बेरहमी से पीटा गया. इसमें एक महिला व दो पुरुष हैं. इन तीनों को गंभीर चोट लगी है. हमलावरों ने तीनों को मरा समझ कर छोड़ कर भाग गये. तीनों का इलाज अस्पताल में चल रहा है. गांव की एक 13 वर्षीय लड़की की बीमारी से मौत के बाद कुछ लोगों ने सोमारी देवी, गंदुर इंदवार व बुटन टेटे पर डायन बिसाही करने का आरोप लगाया.

तीनों वृद्धों को लड़की के शव के समीप बैठा कर पीटा है. जब तीनों बेहोश हो गये तो हमलावरों को लगा कि तीनों वृद्ध मर गये हैं. इसलिए वे शव के पास ही तीनों वृद्धों को छोड़ कर हमलावर भाग गये. इस संबंध में सोमारी देवी ने बसिया थाना में लिखित आवेदन दी है. जिसमें गांव के तीन लोगों तेतरू टेटे, उत्तम इंदवार व केरिओ इंदवार को आरोपी बनाया गया है. सोमारी के अनुसार इन्हीं लोगों ने तीनों वृद्धों को पीटा है.

सोमारी देवी ने बसिया थाना में लिखित आवेदन देकर डायन बिसाही का आरोप लगाकर जान मारने की नीयत से लाठी डंडे से मारपीट करने का आरोप लगाया है. आवेदन में उन्होंने गांव के तीन लोगों को आरोपी बनाया है. महिला ने कहा है कि 17 जुलाई की शाम 6.00 बजे सुरेश इंदवार की पुत्री केतकी कुमारी (15) की किसी बीमारी से मौत हो गयी थी. जिस कारण गांव के तीन लोग मेरे घर आये और मुझे और मेरे पति गंदुर इंदवार एवं गांव के बुटन टेटे को घर से निकाल कर सुरेश इंदवार के घर ले गये.

जहां केतकी कुमारी के शव के पास ले जाकर डायन बिसाही का आरोप लगाते हुए लाठी डंडे से पिटाई की. जिस कारण मेरे सिर व शरीर में चोट लगी. जिससे मैं बेहोश होकर गिर पड़ी. वहीं बुटन टेटे का सिर फट गया और बायां हाथ को तोड़ दिया. मेरे पति गंदुर इंदवार को भी मारपीट कर जख्मी कर दिया. हम तीनों बेहोश होकर जमीन पर गिर गये, तो वे लोग मरा हुआ समझ कर वहां से भाग गये. घटना की सूचना जब हमारे घर वालों व ग्रामीणों को मिली, तो उनलोगों ने सुरेश इंदवार के घर से तीनों को उठा कर रेफरल अस्पताल बसिया में भर्ती कराया.

जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक इलाज के बाद बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल गुमला रेफर कर दिया. लेकिन आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण बसिया में ही एक प्राइवेट क्लिनिक में इलाज करवाया. सोमारी देवी ने उपरोक्त आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें