29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

गोड्डा में नम आंखों से दी गयी मां दुर्गा को विदाई

शोभायात्रा में शामिल रहे सांसद व विधायक

आऊंगी-आऊंगी, अगले बरस फिर आऊंगी…गीत के साथ जिला मुख्यालय में मां चैती दुर्गा की प्रतिमा विसर्जन को लेकर भव्य शोभा यात्रा निकाली गयी. हजारो भक्ताें व श्रद्धालुओं ने नम आखों से विदायी दी. मां की शोभा यात्रा हटिया मंदिर प्रांगण से दिन के तकरीबन 3 बजे के बाद निकाली गयी. विसर्जन यात्रा को लेकर शहर में ही सुबह से ही उत्साह का माहौल रहा. पूजा कमेटियाें द्वारा हाथ में ध्वज लेकर मां दुर्गा का जयकारा लगाया गया. विसर्जन शोभा यात्रा में युवाओं उत्साह देखते ही बन रहा था. कार्यक्रम के दौरान सांसद डॉ निशिकांत दुबे, अन्नूकांत दुबे, के साथ गोड्डा विधायक अमित मंडल भी यात्रा में लोगों के साथ चल रहे थे. इस दौरान भाजपा के नेताओं में पूर्व जिला अध्यक्ष राजीव मेहता, दिशा सदस्य संतोष कुमार सिंह, राजेश कुमार झा, पवन कुमार झा, पवन कुमार साह, गोपाल सिंह, कृष्ण कन्हैया, अजीत कुमार सिंह, बंटी सिंह, सुमन कुमार सिंह, शेशाद्री दुबे, सुभाष यादव, श्रीकांत मंडल, प्रीतम गाडिया आदि मौजूद रहे. जगह-जगह महिलाओं का हुजूम भी मां के दर्शन के लिए उमड़ पड़ा. शहर के हटिया चौक, कारगिल चौक, असनबनी आदि जगहों पर मां दुर्गा की प्रतिमा दर्शन के लिए हजारों की संख्या में महिलाएं निकली तथा मां के दर्शन किये. मां के दर्शन के दौरान श्रद्धालुओ की आंखे नम हो गयी थी. बताते चलें कि प्रतिमा शोभा यात्रा हटिया प्रांगण से प्रतिमा निकालकर पहले शिवपुर ले जाया गया. फिर वहां से हटिया चौक होते हुए सरकंडा चौक तक ले जाया गया.

कई अखाडा समिति शामिल, भांजी तलवार व लाठियां

विसर्जन यात्रा के जुलूस में दर्जनों की संख्या में अखाडा समितियां भी शामिल थीं. अखाड़ा समितियों द्वारा जगह-जगह रुक कर तलवार व लाठियां भांजी गयी. हर साल चैत्र नवरात्र के विसर्जन में आसपास दर्जनों गांव के अखाडा समिति के लोग विसर्जन यात्रा में शामिल होते हैं तथा लाठी से करतब दिखाते हैं. अखाड़ा समितियों के साथ ढोल-नगाड़े की लय पर लाठी भांजा जा रहा था. जुलूस में शामिल लोगों के लिए जगह-जगह शरबत का इंतजाम किया गया था. शहर के मेला स्टोर, हटिया के समीप, काली मंदिर के समीप, नेहरू चौक व नहर चौक पर शरबत आदि का इंतजाम किया गया था. भारी संख्या में जुलूस में शामिल लोगों ने जगह-जगह शरबत आदि का लुफ्त उठाया.

संवेदनशील स्थानों में की गयी बैरिकेडिंग, पुलिस ने किया बाइक से मार्च

वहीं शहर के संवेदनशील स्थानों पर जिला प्रशासन द्वारा बैरिकेडिंग की गयी थी. शहर के न्यू मार्केट, असनबनी आदि के समीप बैरिकेडिंग की गयी थी. वहां देर शाम डीसी जिशान कमर व एसपी नाथू सिंह मीणा स्वयं जुलूस को देखने के लिए असनबनी चौक पर मौजूद रहे. असनबनी चौक को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया था. वहां चप्पे-चप्पे पर पुलिस की तैनाती की गयी थी.

ड्रोन से की गयी जुलूस की निगरानी, बड़े वाहनों का मार्ग हुआ परिवर्तित

जुलूस की निगरानी ड्रोन कैमरे से की जा रही थी्. शांतिपूर्ण विसर्जन यात्रा को लेकर शहर में दिन में ही नगर थाना प्रभारी के नेतृत्व में बाइक मार्च निकाला गया, ताकि शहर में शांतिपूर्ण तरीके से विसर्जन हो सके. वहीं विसर्जन यात्रा रूट में बड़े व छोटे वाहनों के रूट में परिवर्तन किया गया था. एक दिन पहले इसकी सूचना सोशल मीडिया पर वायरल कर दी गयी थी. बड़े वाहनों की इंट्री शहर में रात 12 बजे तक रोक दी गयी. वहीं छोटे वाहनों को भी परिवर्तित रूट से ही ले जाया जा सका.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें