27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

नावाडीह गांव में तीन दिन से बंधक बनाकर रखे गए महिला-पुरुष को पुलिस ने कराया मुक्त

अवैध संबंध के शक में रविवार की रात में महिला व पुरुष को बंधक बनाकर गांव के लोग तीन लाख रुपये जुर्माना मांग रहे थे. पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद दोनों को ग्रामीणों के कब्जे से मुक्त करा लिया है.

रामगढ़. कारूडीह पंचायत के नवाडीह गांव में ग्रामीणों द्वारा तीन दिनों से बंधक बनाकर रखे गए पुरुष एवं महिला को रामगढ़ थाने की पुलिस ने मंगलवार की दोपहर बाद लगभग 3:30 बजे मुक्त करा लिया है. अवैध संबंध के शक के आधार पर ग्रामीणों ने दोनों को रविवार की रात से बंधक बनाकर रखा था. प्राप्त जानकारी के अनुसार दुमका जिले के गोपीकांदर थाना क्षेत्र के खरौनी बाजार के नजदीक के गांव बेंगडोभा निवासी लगभग तीस वर्षीय व्यक्ति साइमन मरांडी का अवैध संबंध नावाडीह की एक महिला के साथ होने के संदेह में नावाडीह के ग्रामीणों ने दोनों को रविवार की रात में बंधक बना लिया था. दूसरी तरफ युवक ऐसे किसी भी संबंध से इनकार कर रहा था. युवक के अनुसार उस महिला के पति के साथ वह गुजरात में काम करता है. वह कुछ दिन पूर्व ही गुजरात से आया था. महिला के पति द्वारा भेजे गए सामान को पहुंचाने के लिए वो महिला के घर गया था. जहां गांव वालों ने उसे पकड़ लिया. इसके बाद गांव में पंचायती हुई. पंचायती में गांव वालों द्वारा उस व्यक्ति पर तीन लाख रुपये जुर्माना लगाया गया. ग्रामीणों का कहना था कि वह व्यक्ति कई दिनों से उस महिला के घर में छुप कर रह रहा था. रविवार की रात में ग्रामीणों ने दोनों को संदिग्ध अवस्था में पकड़ा था. इसके बाद दोनों को बांधकर ग्राम प्रधान के हवाले कर दिया गया था. बंधक युवक के अनुसार गांव वालों ने दोनों के साथ मारपीट भी की थी. तीन लाख रुपये देने में असमर्थता जताने के बाद ग्रामीणों ने उन दोनों को ये कहकर ग्राम प्रधान के हवाले कर दिया कि जब तक तीन लाख रुपये नहीं दिए जाएंगे, तब तक उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा. इसके बाद युवक के परिजनों ने रामगढ़ थाना की पुलिस को सूचना देकर बंधकों को ग्रामीणों के चंगुल से मुक्त कराने का अनुरोध किया. परिजनों के अनुरोध के बाद सोमवार की रात में पुलिस नवाडीह पहुंची लेकिन आक्रोशित ग्रामीण बंधकों को छोड़ने तैयार नहीं हुए. पुलिस अधिकारियों के अनुरोध पर बंधकों को मुक्त कराने ग्राम प्रधान संगठन के नेता इंग्लिश लाल मरांडी भी पहुंचे. इसके बाद मंगलवार को एसडीपीओ जरमुंडी संतोष कुमार के नेतृत्व में रामगढ़ सहित आसपास के विभिन्न थानों की पुलिस नवाडीह पहुंची. दिन भर की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस अधिकारियों को ग्रामीणों द्वारा बंधक बनायी गयी महिला एवं पुरुष को मुक्त कराने में सफलता मिली. समाचार प्रेषित किए जाने तक पुलिस दोनों बंधकों को मुक्त कराकर रामगढ़ थाना ले आयी थी. प्राप्त जानकारी के अनुसार बंधक महिला का पति भी गुजरात से अपने गांव के लिए चल पड़ा है.

क्या कहते हैं पुलिस अधिकारी :

रामगढ़ थाना क्षेत्र के नवाडीह में ग्रामीणों द्वारा एक महिला एवं एक पुरुष को बंधक बनाकर रखे जाने की सूचना मिली थी. दोनों बंधकों को मुक्त कर लिया गया है. अभी तक किसी पक्ष ने किसी तरह का लिखित आवेदन नहीं दिया है. आवेदन मिलने पर विधि सम्मत अग्रसर कार्रवाई की जाएगी.

– शशिकांत साहू,थाना प्रभारी, रामगढ़.B

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें