26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

दिन के ठंडे समय में भारी काम शेड्यूल करें कोल कंपनियां : डीजीएमएस

गर्मी को ले सभी खदानों के मालिक, एजेंट व प्रबंधकों को जारी किया गया निर्देश

वरीय संवाददाता, धनबाद,

खान सुरक्षा महानिदेशालय (डीजीएमएस) ने बीसीसीएल, इसीएल व सीसीएल समेत सभी कोल कंपनियों के खदानों के मालिक, एजेंट व प्रबंधकों को गर्मियों में लू और उच्च तापमान के संपर्क में आने से होने वाली दुर्घटनाओं के प्रति विशेष सावधानियां बरतने का निर्देश दिया है. साथ ही इस दौरान क्या करें और क्या न करें, की सूची तैयार कर खदानों के प्रमुख स्थानों पर चिपकाने व सभी कर्मचारियों को ‘गर्मी-तनाव पहचान और रोकथाम’ पर आवश्यक प्रशिक्षण प्रदान करने का निर्देश दिया है. इस आलोक में डीजीएमएस के डीजी प्रभात कुमार कुमार के हस्ताक्षर से अधिसूचना जारी कर दी गयी है. डीजी श्री कुमार ने कहा : इस गर्मी के मौसम की तैयारी में, विशेष रूप से खनिकों के लिए, गर्म वातावरण में काम करने से जुड़े जोखिमों को पहचानना और कम करना अनिवार्य है. गर्मी का तनाव एक बड़ा खतरा है. अगर इसका पर्याप्त रूप से समाधान नहीं किया गया, तो इससे कई तरह की स्वास्थ्य संबंधी जटिलताएं हो सकती है. इसलिए खदान मलिकों, एजेंट व प्रबंधकों को सलाह दी जाती है कि गर्म वातावरण में काम करने से जुड़े खनिकों के स्वास्थ्य के लिए जोखिम को कम करने के लिए खानों में गर्मी की लहर की स्थिति को प्रभावी ढंग से प्रबंधित करने और तैयारियों को सुनिश्चित करने के लिए सावधानियां बरतें. गर्मी के महीनों के दौरान उच्च वायुमंडलीय तापमान के संपर्क में आने के शारीरिक प्रभाव और स्थिति से निबटने के लिए जारी दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन किया जाये.

हीट स्ट्रेस के लक्षणों वाले व्यक्ति का इलाज करते समय क्या करें और क्या न करें:

खनिक को गर्म क्षेत्र से हटा दें. ठंडे गीले कपड़े लगायें. अगर खनिक जाग रहा है, तो पानी दें. अगर कोई सुधार नहीं होता है, तो डॉक्टर से सलाह लें. वहीं त्वचा पर सीधे बर्फ ना लगाएं. खनिक को इतना ठंडा ना होने दें कि उसे कंपकंपी होने लगे व खनिक को अकेला ना छोड़ दें. यदि कर्मचारी को कोई असुविधा महसूस होती है तो काम की गति को धीमा करने की अनुमति दी जायेगी. विश्राम क्षेत्र यथासंभव कार्य स्थल के निकट स्थित होने चाहिए. खानों में कार्य स्थल के पास ठंडा पीने का पानी और इलेक्ट्रोलाइट सप्लीमेंट उपलब्ध करायें. खनिकों को हर 15 से 20 मिनट में एक कप पानी पीने के लिए प्रोत्साहित करें. धूप अवरोधक, उचित सुरक्षात्मक कपड़े और छाया का उपयोग करें. गर्म कामों पर खनिकों को घुमाने के लिए प्रशासनिक नियंत्रण लागू करें. दिन के ठंडे समय के दौरान भारी कामों को शेड्यूल करें. सुनिश्चित करें कि कर्मचारी भूमिगत खदानों में वेंटिलेशन या अपर्याप्त वेंटिलेशन वाले वातावरण में प्रवेश/काम न करें. गर्मी के तनाव के लक्षणों के बारे में सभी कर्मचारियों के बीच जागरूकता प्रदान करें. नियमित रूप से पर्यावरण की स्थितियों की निगरानी करें. अनुभव की गयी किसी भी असुविधा या लक्षणों के बारे में खुले संचार को प्रोत्साहित करें.

हीट स्ट्रेस के लक्षणों को पहचानना और निवारक उपाय करना

हीट स्ट्रेस के लक्षणों को पहचानना हीट स्ट्रेस को रोकना

त्वचा गर्म, आमतौर पर सूखी, लाल या धब्बेदार होती है खनिकों के पास ठंडा पीने का पानी उपलब्ध कराएं

शरीर का तापमान बढ़ जाता है कैफीन और अधिक मात्रा में चीनी वाले पेय पदार्थों से बचें पीड़ित भ्रमित हो सकता है खनिकों को हर 15 से 20 मिनट में एक कप पानी पीने के लिए प्रोत्साहित करें

चेहरा पीला या लाल हो सकता है सन ब्लॉकर्स, उचित सुरक्षात्मक कपड़े और छाया का उपयोग करें

सोडियम की कमी से मांसपेशियों में ऐंठन खनिकों को गर्म कामों में घुमाने के लिए प्रशासनिक नियंत्रण लागू करें

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें