25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

विद्यार्थी के जीवन में शिक्षक की महत्वपूर्ण भूमिका : प्राचार्या

श्री अयप्पा पब्लिक स्कूल में कक्षा एकादश के लिए उन्मुखीकरण कार्यक्रम, छात्राओं ने श्लोक जप व विद्यालय प्रार्थना प्रस्तुत किया, अभिभावक भी शामिल

बोकारो. श्री अयप्पा पब्लिक स्कूल सेक्टर पांच में नव प्रवेशित कक्षा एकादश के विद्यार्थियों के लिए मंगलवार को विशेष रूप से ‘नव दिशा’ नामक एक उन्मुखीकरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया. प्राचार्या पी शैलजा जयकुमार, उप प्राचार्या राजलक्ष्मी, सुरेश नायर व वरिष्ठ शिक्षकों ने कार्यक्रम की शुरुआत की. प्राचार्या पी शैलजा जयकुमार ने कहा कि विद्यार्थियों के लिये शिक्षकों की छाया में रहना महत्वपूर्ण व प्रासंगिक है. विभिन्न विषयों की प्रासंगिकता व उनकी भविष्य की संभावनाओं को समझाया. उन्होंने स्कूल के मानदंडों व छात्रों को स्कूल परिसर के अंदर प्रदान की जाने वाली सुविधाओं पर भी प्रकाश डाला. अकादमियों व प्रतियोगी परीक्षाओं में स्कूल की उपलब्धियों का भी उल्लेख किया. स्कूल के आदर्श वाक्य सम्मान और जिम्मेदारी पर प्रकाश डाला. शिक्षकों का परिचय भी दिया. इससे पहले छात्राओं ने श्लोक जप व विद्यालय प्रार्थना प्रस्तुत किया. इसमें स्टूडेंट्स के साथ-साथ उनके अभिभावक भी शामिल हुए. विद्यार्थियों का स्वागत भारतीय संस्कृति की मूल पहचान ‘तिलक‘ लगाकर किया गया. तमिलनाडु सरकार की ओर से सम्मानित रंगमंच कलाकर विभिन्न कार्य परियोजना के आयोजक व निदेशक बीएसएल एचआरडी से सेवानिवृत प्रबंधक राजेंद्र कुमार मुख्य अतिथि थे. उन्होंने छात्रों द्वारा अभिभावकों व शिक्षिकों के सम्मान पर विशेष रूप से प्रकाश डाला.

महत्वपूर्ण आयामों की दी गयी जानकारी

वरिष्ठ शिक्षकाें ने भी विद्यार्थियों की उज्जवल भविष्य के लिए महत्वपूर्ण आयामों की जानकारी दी. योगेश कुमार, राजीव रंजन सहाय व सजीव एस ने अनुशासन के महत्व बताया. धन्यवाद ज्ञापन उप-प्राचार्या सुरेश नायर ने दिया. समापन राष्ट्रगान से हुआ.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें