1. home Hindi News
  2. state
  3. gujarat
  4. pm modi said foreign nationals in india will be able to take advantage of ayush therapy vwt

भारत में विदेशी नागरिक ले सकेंगे आयुष चिकित्सा का लाभ, पीएम मोदी ने कहा - जल्द जारी होगा विशेष आयुष वीजा

गांधीनगर में वैश्विक आयुष निवेश एवं नवोन्मेष सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आयुष के क्षेत्र में निवेश और नवाचार की संभावनाएं असीमित हैं. उन्होंने कहा कि आयुष दवाओं, सप्लीमेंट और कॉस्मेटिक्स के उत्पादन में हम पहले ही अभूतपूर्व तेजी देख रहे हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
गांधीनगर में वैश्विक आयुष निवेश एवं नवोन्मेष सम्मेलन को संबोधित करते पीएम मोदी
गांधीनगर में वैश्विक आयुष निवेश एवं नवोन्मेष सम्मेलन को संबोधित करते पीएम मोदी
फोटो : ट्विटर

अहमदाबाद : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को गुजरात के गांधीनगर में वैश्विक आयुष निवेश एवं नवोन्मेष सम्मेलन में कहा कि भारत एक स्पेशल आयुष मार्क भी बनाने जा रहा है. उन्होंने कहा कि भारत में बने उच्चतम गुणवत्ता के आयुष प्रॉडक्ट्स पर ये मार्क लगाया जाएगा. ये आयुष मार्क आधुनिक टेक्नोलॉजी के प्रावधानों से युक्त होगा. इससे विश्व भर के लोगों को क्वालिटी आयुष प्रॉडक्ट्स का भरोसा मिलेगा.

इसके साथ ही, उन्होंने यह भी कहा कि जो विदेशी नागरिक भारत में आकर आयुष चिकित्सा का लाभ लेना चाहते हैं, उनके लिए सरकार एक और पहल कर रही है. उन्होंने कहा कि शीघ्र ही भारत एक विशेष आयुष वीजा कैटेगरी शुरू करने जा रहा है. इससे लोगों को आयुष चिकित्सा के लिए भारत आने-जाने में सहूलियत होगी.

गांधीनगर में वैश्विक आयुष निवेश एवं नवोन्मेष सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आयुष के क्षेत्र में निवेश और नवाचार की संभावनाएं असीमित हैं. उन्होंने कहा कि आयुष दवाओं, सप्लीमेंट और कॉस्मेटिक्स के उत्पादन में हम पहले ही अभूतपूर्व तेजी देख रहे हैं. वर्ष 2014 में जहां आयुष सेक्टर 3 बिलियन डॉलर से भी कम का था, आज ये बढ़कर 18 बिलियन डॉलर के भी पार पहुंच गया है. उन्होंने कहा कि एफएसएसएआई ने पिछले ही हफ्ते अपने नियमों में आयुष आहार नाम की एक नई श्रेणी घोषित की है. इससे हर्बल न्यूट्रिशनल सप्लीमेंट के उत्पादकों को बहुत सुविधा मिलेगी.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत एक स्पेशल आयुष मार्क भी बनाने जा रहा है. भारत में बने उच्चतम गुणवत्ता के आयुष प्रॉडक्ट्स पर ये मार्क लगाया जाएगा. ये आयुष मार्क आधुनिक टेक्नोलॉजी के प्रावधानों से युक्त होगा. इससे विश्व भर के लोगों को क्वालिटी आयुष प्रॉडक्ट्स का भरोसा मिलेगा. उन्होंने कहा कि जो विदेशी नागरिक भारत में आकर आयुष चिकित्सा का लाभ लेना चाहते हैं, उनके लिए सरकार एक और पहल कर रही है. शीघ्र ही भारत एक विशेष आयुष वीजा कैटेगरी शुरू करने जा रहा है. इससे लोगों को आयुष चिकित्सा के लिए भारत आने-जाने में सहूलियत होगी.

उन्होंने कहा कि भारत के स्टार्टअप्स का एक स्वर्णिम युग शुरू हो चुका है. एक प्रकार से भारत में आज यूनिकॉर्न का दौर है. वर्ष 2022 में ही अब तक भारत के 14 स्टार्टअप्स यूनिकॉर्न क्लब में जुड़ चुके हैं. मुझे पूरा विश्वास है कि बहुत ही जल्द आयुष के हमारे स्टार्टअप्स भी यूनिकॉर्न उभरकर सामने आएगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें