26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

दो जगहों से 227 क्विंटल गांजा बरामद

मौके से पुलिस ने गांजा तस्करी में प्रयुक्त एक स्कॉर्पियो को भी जब्त किया है

बलुआ बाजार.

बलुआ पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर शनिवार की देर रात थाना क्षेत्र के ठाढ़ा भवानीपुर वार्ड नंबर 13 स्थित परियाही नहर के समीप से 124.360 किलो गांजा बरामद किया. वहीं एसएसबी 45वीं बटालियन रिफ़्यूजी कॉलोनी बीओपी के जवानों ने रविवार को विशेष नाका ड्यूटी के दौरान 102.770 किलोग्राम गांजा जब्त किया. मौके से पुलिस ने गांजा तस्करी में प्रयुक्त एक स्कॉर्पियो को भी जब्त किया है. हालांकि तस्कर रात के अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया. मिली रही जानकारी मुताबिक बलुआ पुलिस को बलुआ बाजार के रास्ते से एक उजले रंग की स्कॉर्पियो से गांजा की बड़ी खेप ढोये जाने की गुप्त सूचना मिली थी. सूचना सत्यापन के लिए बलुआ थानाध्यक्ष ने अपने दल बल के साथ बलुआ एसएच मार्ग पर पहुंचे. संदिग्ध स्कॉर्पियो को आते देख पुलिस ने उक्त वाहन का पीछा करने लगी. पुलिस को देख तस्कर अपने वाहन को तेज भगाने लगा. इस दौरान तस्कर लगातार पुलिस को चकमा देते रहा. तस्कर ने स्कॉर्पियो को मटियारी स्थित परियाही नहर व बरमोतरा की ओर जाने वाली कच्ची सड़क मार्ग में प्रवेश कर गया. इसी क्रम में वाहन नहर में जाकर फंस गयी. इसके बाद तस्कर अपनी स्कॉर्पियो छोड़कर मौके से भाग निकला. तलाशी के क्रम में पुलिस ने उक्त वाहन से 05 बोरी में भरे गांजा बरामद की. इस बाबत बलुआ थानाध्यक्ष मनीषा चक्रवर्ती ने बताया कि बलुआ बाजार के रास्ते से एक स्कॉर्पियो से गांजा की बड़ी खेप की गुप्त सूचना मिली थी. सूचना सत्यापन के लिए पीटीसी संतोष पासवान, चौकीदार अर्जुन, रामानंद के साथ टीम गठित की गयी. जिसके बाद उक्त गाड़ी का पीछा कर परियाही नहर के समीप 124.360 किलो गांजा बरामद किया गया. पुलिस अग्रेतर कार्रवाई में जुटी है.

मकई के छिलकों के नीचे छुपाकर रखें 102 किलो गांजा किया जब्त

वीरपुर.

एसएसबी 45वीं बटालियन रिफ़्यूजी कॉलोनी बीओपी के जवानों ने रविवार को विशेष नाका ड्यूटी के दौरान 102.770 किलोग्राम गांजा जब्त किया. जानकारी देते हुए एसएसबी 45वीं बटालियन के कमांडेंट गौरव सिंह ने बताया कि सूचना तंत्र से सूचना मिली थी कि बॉर्डर पीलर संख्या 200 और 201 के बीच खेतों में मक्के के छिलकों के बीच तस्करों द्वारा भारी मात्रा में गांजा छुपा कर रखा गया है. सूचना की विश्वसनीयता देखते हुए इंस्पेक्टर अजय नैथानी के नेतृत्व में कुल 12 सदस्यों का नाका दल नियुक्त कर चिह्नित स्थान के लिए रवाना किया गया. नाका दल अपने साजो-सामान के साथ चिह्नित स्थान पर सतर्कता के साथ ड्यूटी करने लगे. काफी समय बाद जब नाका दल को कोई हरकत नहीं दिखी तब नाका दल ने खेत में इकट्ठा की गई मकई के छिलकों को हटाकर तलाशी शुरू की. तलाशी के दौरान नाका दल को मकई के छिलकों के नीचे छुपाकर रखी दो बोरियां प्राप्त हुई. जिनमें से गांजा की सुगंध आ रही थी. जिसके बाद नाका दल ने बोरियों को खोलकर देखा. तब पाया गया कि बोरियों में गांजा जैसा दिखने वाला पदार्थ ही रखा गया है. तत्पश्चात बोरी में रखे सामान की जांच नरकोटिक्स ड्रग्स डिटेकशन किट से की गयी. जिससे बोरी में रखे सामान की पुष्टि गांजा के रूप में हुई. जिसका वजन 102 किलोग्राम 770 ग्राम पाया गया. जिसे नाका दल द्वारा जब्त किया गया. आवश्यक कागजी कार्यवाही के बाद जब्त किए गए गांजा को वीरपुर पुलिस को सौंप दिया गया.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें