1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. siwan
  5. criminals sit first then shoot from behind

दरवाजे पर पहुंचे अपराधियों ने टिंकू दूबे से बैठकर की बात, जाने के क्रम में पीछे से मारी गोली

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
दरवाजे पर पहुंचे अपराधियों ने टिंकू दूबे से बैठकर की बात, जाने के क्रम में पीछे से मारी गोली
दरवाजे पर पहुंचे अपराधियों ने टिंकू दूबे से बैठकर की बात, जाने के क्रम में पीछे से मारी गोली

सीवान/आंदर : आंदर थाने के घेराई गांव में मंगलवार की सुबह साढ़े छह बजे लॉकडाउन के दौरान अपराधियों ने अंतरराष्ट्रीय ब्राम्हाण महासभा के जिलाध्यक्ष एवं युवा सामाजिक कार्यकर्ता शेषनाथ द्विवेदी उर्फ टिंकू दूबे की गोली मार कर हत्या कर दी. जिले में हत्या खबर की जंगल में आग की तरह फैल गयी. देखते ही देखते काफी संख्या में लोग सदर अस्पताल पहुंच गये. परिजन सदर अस्पताल में एसपी को बुलाने की मांग कर रहे थे. इसी बीच मौके पर पहुंचे एसडीपीओ जितेंद्र पांडे, दरौंदा विधायक कर्णजीत कुमार सिंह उर्फ व्यास सिंह, अंतरराष्ट्रीय ब्राम्हाण महासभा के प्रांतीय नेता विनोद तिवारी, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष रामाकांत पाठक ने लोगों को समझा-बुझाकर प्रशासन का सहयोग करने की बात कह शांत कराया. इसके बाद शव को पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया गया.

घटना के संबंध में बताया जाता है कि सुबह करीब छह बजे दो बाइक से पांच हमलावर स्व. बच्चा दूबे के पुत्र अंतरराष्ट्रीय ब्राम्हाण महासभा के जिलाध्यक्ष सह स्टेशन सुरक्षा सलाहकार समिति सदस्य शेषनाथ द्विवेदी के घर पर पहुंचे. अपराधी घर के आगे बैठे टिंकू दूबे से कुछ समय तक बातचीत की. इसके बाद जाने के दौरान अपराधियों ने पीछे से शेषनाथ द्विवेदी पर अंधाधुंध फायरिंग करना शुरू कर दिया. गोली लगने के बाद टिंकू दूबे जमीन पर गिर गये तो अपराधी बाइक से फरार हो गये. इधर गोलियों की आवाज सुनकर आसपास एवं घर के लोग पहुंचे तथा घायल अवस्था में उपचार कराने के लिए सदर अस्पताल पहुंचे. सदर अस्पताल में चिकित्सकों को मृत घोषित कर दिया. टिंकू दूबे से मिलने दो-तीन दिन से आ रहे थे पांचों हमलावरपरिजनों का कहना है कि पांचों हमलावर दो-तीन दिनों से शेषनाथ द्विवेदी के घर आ रहे थे. वे किसी मामले में पैरवी कराने के कराने आ रहें थे. परिजनों को अभी यह नहीं पता है कि वे किस मामले में पैरवी करा रहे थे. पुलिस पांचों हमलावरों की पहचान में जुटी हुई हैं. प्रांतीय नेता व पूर्व जिलाध्यक्ष ने अपराधियों की गिरफ्तारी की मांगअंतरराष्ट्रीय ब्राम्हण महासभा के प्रांतीय नेता विनोद तिवारी व भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष रामाकांत पाठक सदर अस्पताल पहुंच घटना की जानकारी ली. नेताद्वय ने कहा कि पुलिस निर्धारित समय अनुसंधान कर घटना में संलिप्त अपराधियों की पहचान कर उनकी गिरफ्तारी करें. उन्होंने यह भी कहा की पुलिस मामले में जांच के नाम पर खानापूर्ति कर किसी निर्दोष को नहीं फंसाया. इस घटना में शामिल अपराधियों को पुलिस शीघ्र गिरफ्तार करें.

मौके पर नगर इंस्पेक्टर जयप्रकाश पंडित भी मौजूद थे.1997 में टिंकू दूबे के चचेरे भाई की हुई थी हत्याआंदर थाने के घेराई गांव निवासी शिवजी दूबे की सात जून 1997 को हमलावरों ने बाजार जाने के दौरान के दौरान गोली मार दिया था. शिवजी दुबे की मौत इलाज के दौरान हो गयी थी. मृतक शिवजी दूबे टिंकू बाबा के चचेरे भाई थे. इस मामले में भाकपा माले के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को आरोपित किया गया था. परिजनों का कहना है कि टिंकू दुबे इस मुकदमे में पैरवी करते थे तथा अपने चचेरे भाई के परिवार को मुकदमा लड़ने के लिए मदद करते थे. पुलिस इसे भी आधार मानकार मामले की जांच में जुटी हुयी हैं. सांसद ने शोक संवेदना व्यक्त किया सीवान. सांसद कविता सिंह ने अंतरराष्ट्रीय ब्राह्मण संघ के जिला अध्यक्ष सह समाजसेवी शेषनाथ द्विवेदी उर्फ टिंकू बाबा के निर्मम हत्या पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त किया. सांसद ने कहा कि द्विवेदी निहायत शरीफ, मृदु भाषी व मिलनसार व्यक्तित्व के धनी थे.

जदयू नेता अजय सिंह ने कहा कि टिंकू बाबा समग्र समाज के हितैसी थे तथा दिन दुःखियों व अभावग्रस्तों के सेवा में लगे रहते थे. उनकी हत्या मानवीय मूल्य की हत्या है. हत्यारों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए.टिंकू दूबे हत्या मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांगमहाराजगंज. अखिल भारतीय ब्राह्मण युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष सह भाजयुमो जिला मंत्री प्रफुल्ल राज पांडेय ने अंतरराष्ट्रीय ब्राह्मण महासंगठन के जिलाध्यक्ष शेषनाथ द्विवेदी उर्फ टिंकू के हत्या की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है. प्रेस विज्ञप्ति में श्री पांडे ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि टिंकू दूबे काफी मिलनसार प्रवृत्ति के व्यक्ति थे.

उन्होंने समाज के विकास के लिए बहुत मेहनत करते थे. शोक व्यक्त करने वालों में अनुज पांडे छोटू, शुभम पांडे, रोहित ओझा, आशुतोष मिश्रा, मनीष मिश्रा, अनमोल पांडे, आशीष पांडे, रवि पांडे, रीतेश दूबे आदि शामिल हैं. नरहर सरयू तट पर हुआ अंतिम संस्कार, नम हो गयी सबकी आंखें पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने परिजनों को शव सौंप दिया. रघुनाथपुर के नरहन घाट स्थित सरयू तट पर शेषनाथ तिवारी उर्फ टिंकू बाबा का अंतिम संस्कार किया. गांव से जैसे ही शव निकली ग्रामीणों का आंसू छलक उठे.घाट पर पहुंचे पूर्व सांसद ने बंधाया ढांढ़स पोस्टमार्टम के बाद टिंकू दूबे का शव लेकर परिजन दाह संस्कार के लिए नरहन घाट पर पहुंचे. जहां पहुंचे पूर्व सांसद ओपी यादव ने घटना की जानकारी ली.

उन्होंने समाज के विकास के लिए बहुत मेहनत करते थे. शोक व्यक्त करने वालों में अनुज पांडे छोटू, शुभम पांडे, रोहित ओझा, आशुतोष मिश्रा, मनीष मिश्रा, अनमोल पांडे, आशीष पांडे, रवि पांडे, रीतेश दूबे आदि शामिल हैं. नरहर सरयू तट पर हुआ अंतिम संस्कार, नम हो गयी सबकी आंखें पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने परिजनों को शव सौंप दिया. रघुनाथपुर के नरहन घाट स्थित सरयू तट पर शेषनाथ तिवारी उर्फ टिंकू बाबा का अंतिम संस्कार किया. गांव से जैसे ही शव निकली ग्रामीणों का आंसू छलक उठे.घाट पर पहुंचे पूर्व सांसद ने बंधाया ढांढ़स पोस्टमार्टम के बाद टिंकू दूबे का शव लेकर परिजन दाह संस्कार के लिए नरहन घाट पर पहुंचे. जहां पहुंचे पूर्व सांसद ओपी यादव ने घटना की जानकारी ली. यदि प्रशासन चाहती तो लॉक डाउन का उल्लंघन नहीं होता और आज एक समाजसेवी की हत्या नहीं होती. उन्होंने इस हत्या मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग की. वहीं जिले में एक बार फिर बढ़ रहे अपराधिक गतिविधियों पर जदयू राज्य परिषद सदस्य एवं सारण प्रमंडल मीडिया प्रभारी निकेश चंद्र तिवारी ने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि अपराधी बेखौफ हो कर घटना को अंजाम देने में कामयाब हो जा रहे हैं. सामाजिक कार्यकर्ता टिंकू दूबे की हत्या जिला प्रशासन के लिए एक चुनौती है, उसे शीघ्र ही अपनी श्रेष्ठता सिद्ध करना होगा.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें