30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

कोसी नदी में लाल पानी ने दी दस्तक तो, तटबंध के अंदर के लोगों को सताने लगा बाढ़ का भय

कोसी नदी में लाल पानी ने दी दस्तक तो, तटबंध के अंदर के लोगों को सताने लगा बाढ़ का भय

नवहट्टा.कोसी नदी में लाल पानी उतरना शुरू हो गया है जो खतरे की निशानी है. हालांकि एक माह बाद कोसी नदी 15 जून से उग्र रूप धारण करती है. जो जून के अंतिम या जुलाई माह के प्रथम सप्ताह में तटबंध के अंदर के गांवों के निचले हिस्से में फैलना शुरू हो जाती है. सरकारी केलेंडर के अनुसार भी 15 जून से 15 सितंबर तक बाढ़ व बरसात का महीना माना जाता है. दरअसल लाल पानी के उतरते ही तटबंध के अंदर बसे एक दर्जन से अधिक गांवों के लोगों की परेशानी बढ़ने लगी है. लोगो में ये संसय है कि कहीं समय से पहले नदी में जलस्तर बढ़ा तो प्रखंड मुख्यालय आवागमन के लिए कोसी नदी पर बने चचरी पुल क्षतिग्रस्त न हो जाए. जिससे तटबंध के अंदर बसे दर्जनों गांव के लोगों को प्रखंड मुख्यालय आवागमन में बलुआहा पुल से लंबी दूरी या दो से तीन नदी पार करना मुसीबत हो जायेगा. कोसी के लाल पानी को लोग बाढ़ के आगमन की निशानी मानते हैं. बताते चलें कि कोसी क्षेत्र में रह रहे लोग जैसे ही नदी में लाल पानी देखते हैं कि उसे अंदाजा हो जाता है कि अब नदी के पानी का उतार-चढ़ाव चलता रहेगा. कोसी क्षेत्र में क़ैदली, बकुनिया, डरहार, नौला, सतौर, शाहपुर, हाटी पंचायत के दर्जन से अधिक गांव तटबंध के अंदर हैं. जहां बाढ़ के समय में इन गांव होकर कोसी के दर्जनों मुहाने निकले हुए हैं. जिसमें बरसात के समय में पानी भर जाने से लोग एक तरह से घरों में कैद हो जाते हैं. बाढ़ व बरसात के मौसम के बाद जब नदी सूख जाती है तो इन मुहानों से लोग आसानी से पार करते हैं. लेकिन कोसी में पानी का रंग लाल हुई देखकर लोग सिहरने लगे हैं कि एक माह बाद बाढ़ बरसात के कारण आवागमन पूरी तरह ठप हो जायेगा. प्रखंड क्षेत्र के कोसी तटबंध के अंदर न कोई सरकारी स्वास्थ्य व्यवस्था है और ना ही आवागमन के लिए पक्की सड़क है. फोटो – सहरसा 14- नदी के पानी का बदला रंग. ……………………………………………………………………………………………………………………….. नेटबॉल संघ की बैठक में खेल के विस्तार को लेकर हुई चर्चा सहरसा. स्थानीय नया बाजार स्थित नेटबॉल कार्यालय में रविवार को नेटबॉल संघ की बैठक प्रमोद कुमार झा के संयोजन व संघ अध्यक्ष आनंद कुमार झा की अध्यक्षता में की गयी. बैठक का संचालन सचिव राजकिशोर गुप्ता ने किया. बैठक में प्रखंड के विभिन्न गांवों में नेटबॉल खेल का आयोजन व खिलाड़ियों को तैयार करने की बात रखी गयी. कार्यकारिणी का विस्तार व सभी विद्यालयों के पंजीकरण पर सहमति बनी. साथ ही बैठक में जिले के खिलाड़ियों का अधिक से अधिक रजिस्ट्रेशन कराने पर भी चर्चा की गयी. जिससे अधिक से अधिक खिलाड़ी सहरसा जिला से राज्य ही नहीं बल्कि राष्ट्र स्तर तक भाग ले सके. जानकारी देते हुए श्री गुप्ता ने बताया कि नेटबॉल से इस वर्ष सहरसा जिला की बेटी प्रतिभा कुमारी ने राष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रतिभा दिखायी है. नेटबॉल खेल में जिसका प्रदर्शन अच्छा होता है उस खिलाड़ी को बिहार सरकार द्वारा नौकरी का भी प्रावधान है. बैठक में सहरसा के अधिकांश खिलाड़ियों को सूचित किया गया कि वह अपना रजिस्ट्रेशन संघ अध्यक्ष व सचिव के पास अविलंब करा लें. इस खेल के जिला में विस्तार को लेकर राजेश कुमार, ब्रजेश कुमार, विनय कुमार, ऋषि कुमार, मो अशरफ, आशीष कुमार, जितेंद्र कुमार, शैलेश झा, अभिषेक सोनू, प्रणव प्रेम, विकास भारती, नीतीश, अनुज, मनीष खां, संतोष झा ने हर्ष व्यक्त करते हुए शुभकामना दी.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें