28.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

लगातार हो रही बारिश से शहर लबालब

लगातार हो रही बारिश से शहर लबालब

माॅनसून की पहली बारिश नहीं ले रही रूकने का नाम,शहरी क्षेत्र में जलजमाव की स्थिति गंभीर जल निकासी को लेकर गंभीर नहीं दिख रहा नगर निगम,अगले पांच दिन जमकर बारिश की है संभावना सहरसा,पिछले छह दिनों से जारी हल्की एवं मध्यम बारिश से नगर निगम क्षेत्र में जल जमाव की समस्या जस की तस बनी हुई है. दिन भर मौसम साफ रहने के बाद संध्या होते ही बूंदाबांदी से जल-जमाव की समस्या से लोगों को छुटकारा नहीं मिल पा रहा है. निगम की ओर से अब तक इस ओर कोई पहल नहीं होने से आम लोगों में रोष दिख रहा है. हालांकि मौसम विभाग ने अगले पांच दिनों तक झमाझम बारिश की संभावना जतायी है. इस वर्ष जुलाई महीने में अब तक एक सौ एमएम से अधिक बारिश हो चुकी है. जबकि आगे तेज बारिश की संभावना व्यक्त की गयी है. वहीं पिछले महीने जून में काफी कम बारिश होने से किसान मायूस दिख रहे थे. लेकिन मॉनसून की पहली बारिश 30 जून से शुरू होने के बाद रूकने का नाम नहीं ले रही है. किसानों के चेहरे खिले हैं व जी जान से धान रोपनी कार्य में सपरिवार जुटे हैं. बारिश भी किसानों का जमकर साथ दे रही है. वहीं इस लगातार बारिश से शहरी क्षेत्र का जनजीवन परेशान हो उठा है. लगभग सभी वार्डों में भीषण जल-जमाव की समस्या खडी हो गयी है. सभी मुख्य चौक-चौराहे पर भी जल जमाव की समस्या से लोग परेशान हैं. जबकि जुलाई में अभी काफी समय बाकी है. जुलाई के मात्र पांच दिनों में लगभग एक सौ एमएम से अधिक बारिश अबतक हो चूकी है. जिलेवासी आने वाले संभावित खतरे से भयभीत नजर आ रहे हैं. मौसम विभाग द्वारा बुधवार तक मध्यम से तेज बारिश की संभावना जतायी है. इस दौरान लगभग तीन सौ एमएम से अधिक बारिश की संभावना जतायी है. अगवानपुर कृषि महाविद्यालय के तकनीकी पदाधिकारी जितेंद्र कुमार ने बताया कि अगले पांच दिनों के अंदर मध्यम से तेज बारिश व वज्रपात की संभावना है. उन्होंने इस दौरान किसानों को भी कृषि कार्य के दौरान अपने खेत पर जाने में सतर्कता बरतने की अपील की. जिससे जानमाल की रक्षा हो सके. जिले में मानसून की बारिश पिछले छह दिनों से रूक-रूक कर जारी है. ऐसे में इस वर्ष मॉनसून की पहली बारिश से ही जहां बाढ़ का खतरा मंडराना शुरू हो गया है. वहीं शहरी क्षेत्र में जल जमाव की स्थिति भी दिन प्रतिदिन विकराल होती जा रही है. सभी वार्डों के मुख्य चौराहों के साथ-साथ गली गली में पानी लगना शुरू हो गया है. लोगों का घरों से निकलना दूभर हो चला है. ऐसे में नगर निगम द्वारा किसी तरह की विशेष तैयारी नजर नहीं आना घोर संकट की ओर एक बार फिर से इशारा कर रहा है. ऐसी स्थिति में एक बार फिर से शहर नारकीय बनता दिख रहा है. जिससे शहरवासी बेचैन हो रहे हैं. एक बार फिर से शहर की स्थिति जल जमाव के कारण भयानक होने वाली है. बुडको एवं आरसीडी द्वारा निर्माण किये गये नाले की अब तक कनेक्टिविटी नहीं हो सकी है. जिससे पानी निकासी की कोई संभावना नहीं है. शहर के विभिन्न मोहल्ले में जल जमाव की समस्या से जल्द निजात पाने के लिए ठोस कदम उठाने की आवश्यकता है. अगले पांच दिन जमकर होगी बारिश अगवानपुर कृषि विज्ञान के मौसम विभाग के तकनीकी पदाधिकारी जितेंद्र कुमार ने बताया कि भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार आगामी पांच दिनों के लिए जारी मध्यम अवधि के पूर्वानुमान के अनुसार अधिकतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस एवं 31 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है. न्यूनतम तापमान 24 डिग्री एवं 26 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है. हवा की गति 15 किलोमीटर प्रतिघंटा से 20 किलोमीटर प्रतिघंटा चलने की उम्मीद है. हवा अधिकतर पश्चिमी पूर्वी व दक्षिणी पूर्वी दिशा में बहेगी. आने वाले दिनों में लगातार मध्यम बारिश होने के साथ बादल भी छाये रहने की संभावना बनी हुई है. शनिवार को एक सौ एमएम, रविवार को 120 एमएम, सोमवार को 25 एमएम, मंगलवार को 25 एमएम एवं बुधवार को 25 एमएम बारिश की संभावना है. उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में लगातार मध्यम से हल्की बारिश होने के साथ बादल भी छाये रहने की संभावना बनी हुई है. वहीं कुछ समय तेज हवाओं के साथ चमक गरज के साथ बारिश भी हो सकती है. किसान तैयार फसलों की उचित प्रबंधन करें एवं पके हुए फलों व सब्जियों की तुड़ाई करें. इस समय फसलों पर छिड़काव करने से बचे मौसम शुष्क होने पर ही छिड़काव करें. धान रोपाई के लिए खेत की तैयारी करें. फोटो – सहरसा 03 – बटराहा मुख्य सडक पर जल जमाव फोटो – सहरसा 04 – न्यू कॉलोनी में जलजमाव जल जमाव फोटो – सहरसा 05 – तिवारी टोला मुख्य सडक पर जल जमाव

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें