1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. nitish kumar implemented night curfew in bihar as pm narendra modi says lockdown in india is last option know bihar bjp demand for coronavirus in bihar news skt

Bihar Corona News: पीएम मोदी ने लॉकडाउन को बताया अंतिम विकल्प, जानिये बिहार में नाइट कर्फ्यू के बदले क्या चाहती है भाजपा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (File Pic)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (File Pic)
सोशल मीडिया

बिहार सहित देशभर में कोरोना के दूसरे लहर से संक्रमण का खतरा फिर एकबार गहराने लगा है. बिहार में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देख सूबे की सरकार ने कई पाबंदियों को लागू करवाया है. सभी दलों के साथ राज्यपाल की अध्यक्षता में बैठक करने के बाद सीएम नीतीश कुमार ने सभी जिलों के डीएम और एसपी से विडियो कॉंफ्रेंसिंग के जरिये हालात का जायजा लिया और सूबे में नाइट कर्फ्यू लगाने का एलान किया. वहीं मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राज्यों को सलाह दिया कि वो लॉकडाउन को अंतिम विकल्प मानें. इस बीच बिहार भाजपा में नाइट कर्फ्यू लागू करने के फैसले को लेकर नाराजगी देखी जा रही है.

सीएम नीतीश कुमार ने सोमवार से पूरे बिहार में रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू लागू करने का आदेश दिया. जिसके बाद भाजपा के अंदर इस फैसले को लेकर विरोधाभास दिखा. बिहार बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने सोशल मीडिया पर इस फैसले को लेकर खुलकर अपनी नाराजगी जाहिर की. जिसके बाद विपक्ष ने भी इस मामले पर चुटकी लेना शुरु कर दिया.

संजय जायसवाल ने सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी बात रखी. उन्होंने लिखा कि ''आज बिहार सरकार ने बहुत सारे फैसले लिए हैं जो आज की परिस्थिति में बहुत अनिवार्य हैं. मैं कोई विशेषज्ञ तो नहीं हूं फिर भी सभी अच्छे निर्णयों में इस एक निर्णय को समझने में असमर्थ हूं कि रात का कर्फ्यू लगाने से करोना वायरस का प्रसार कैसे बंद होगा. अगर करोना वायरस के प्रसार को वाकई रोकना है तो हमें हर हालत में शुक्रवार शाम से सोमवार सुबह तक की बंदी करनी ही होगी.''

संजय जायसवाल का फेसबुक पोस्ट
संजय जायसवाल का फेसबुक पोस्ट
सोशल मीडिया

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने प्रदेश में शुक्रवार शाम से सोमवार सुबह तक की बंदी लागू करने की सलाह देकर उसका फायदा भी बताया है. उन्होंने कहा कि ''घरों में बंद इन 62 घंटों में लोगों को अपनी बीमारी का पता चल सकेगा और उनके बाहर नहीं निकलने के कारण बीमारी के प्रसार को रोकने में कुछ मदद अवश्य मिलेगी.''

उन्होंने कहा कि वैसे करोना प्रसार रोकने की महाराष्ट्र में सर्वोत्तम स्थिति यही रहती कि 4 दिन रोजगार और 3 दिन की बंदी. बिहार में अभी इसकी जरूरत नहीं है पर अगर हम हफ्ते में 2 दिन कड़ाई से कर्फ्यू नहीं लगा पाये तो हमारी स्थिति भी महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ जैसी हो सकती है. देशभर में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ने पर पीएम मोदी ने लॉकडाउन को बताया अंतिम विकल्प तथा News in Hindi से अपडेट के लिए बने रहें।

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें