25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

कैंपस : आइआइटी-एनआइटी एडमिशन : पहली बार पांच राउंड में ऑनलाइन होगी काउंसेलिंग, 18 जून तक रजिस्ट्रेशन व च्वाइस फिलिंग

आइआइटी मद्रास की ओर से आयोजित जेइइ एडवांस्ड का रिजल्ट नौ जून को सुबह 10 बजे जारी कर दिया जायेगा.

-आइआइटी-एनआइटी में एडमिशन के लिए जोसा काउंसेलिंग का शेड्यूल जारी

– पिछले साल तक छह राउंड में आयोजित हुई थी काउंसेलिंग संवाददाता, पटना

आइआइटी मद्रास की ओर से आयोजित जेइइ एडवांस्ड का रिजल्ट नौ जून को सुबह 10 बजे जारी कर दिया जायेगा. परिणाम जारी होने के अगले दिन 10 जून से आइआइटी, एनआइटी, ट्रिपल आइटी व जीएफटीआइ में प्रवेश के लिए जोसा काउंसेलिंग प्रक्रिया प्रारंभ होगी. इस वर्ष जोसा काउंसेलिंग द्वारा 23 आइआइटी, 32 एनआइटी, 26 ट्रिपलआइटी व 40 जीएफटीआइ में प्रवेश दिया जायेगा. जोसा काउंसेलिंग का शेड्यूल जारी कर दिया गया है. काउंसेलिंग प्रक्रिया ऑनलाइन होगी.

पहली बार पांच राउंड में ऑनलाइन होगी काउंसेलिंग

इस वर्ष आइआइटी, एनआइटी व ट्रिपलआइटी में प्रवेश के लिए होने वाली जोसा काउंसेलिंग प्रक्रिया 10 जून से 26 जुलाई के बीच पांच राउंड में संपन्न होगी. एलन कैरियर इंस्टीट्यूट के कैरियर काउंसेलिंग एक्सपर्ट अमित आहूजा ने बताया कि पिछले वर्षों तक यह काउंसेलिंग छह राउंड में होती थी, पहली बार इस वर्ष यह पांच राउंड में होने जा रही है. स्टूडेंट्स 10 जून शाम पांच बजे से जोसा काउंसेलिंग वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन व कॉलेज च्वाइस फिलिंग कर सकेंगे, जिसकी अंतिम तिथि 18 जून को शाम पांच बजे तक है. 20 जून को पहले राउंड का सीट आवंटन होगा. जिन स्टूडेंट्स को पहले राउंड में सीट का आवंटन होगा, उन्हें ऑनलाइन रिपोर्टिंग के दौरान सीट असेपटेंस फीस जमा कर डॉक्यूमेंट्स अपलोड कर अपनी सीट 24 जून तक कन्फर्म करनी होगी. दूसरे राउंड का सीट आवंटन 27 जून, तीसरे का चार जुलाई, चौथे का 10 जुलाई को होगा. अंतिम यानी पाचवें राउंड का सीट आवंटन 17 जुलाई को होगा. इस प्रकार संपूर्ण काउंसेलिंग प्रक्रिया पांच राउंड में संपन्न होगी, जिसकी फाइनल रिपोर्टिंग 22 जुलाई तक करनी होगी.

ऐसे फिल करें कॉलेज व ब्रांच च्वाइस

विद्यार्थियों को जोसा काउंसेलिंग में 121 संस्थानों की 600 से अधिक प्रोग्रामों की च्वाइस फिलिंग का अवसर एक बार ही दिया गया है, अतः विद्यार्थी ज्यादा-से-ज्यादा कॉलेजों के विकल्प को अपनी प्राथमिकता के घटते क्रम में भरें. एक्सपर्ट आहूजा के अनुसार विद्यार्थी गत वर्षों की कॉलेजों की ओपनिंग व क्लोजिंग रैंकों को देखते हुए कॉलेजों को चुनने के ट्रेंड का अनुमान लगा सकते हैं. विद्यार्थी अपनी रैंक के अनुसार गत वर्षों के क्लोजिंग रैंक से नीचे के रैंक वाले कॉलेज ब्रांचों को भी अपनी रुचि अनुसार कॉलेज प्राथमिकता सूची के क्रम में शामिल कर सकते हैं. जोसा काउंसेलिंग में कॉलेजों को भरने से पूर्व अपनी प्राथमिकता के कॉलेजों की सूची कागज पर बनाकर उसका आकलन कर ही ऑनलाइन भरें, ताकि गलती होने की आशंका न रहे. विद्यार्थी कॉलेज च्वाइस लॉक करने से पूर्व अवश्य चेक करें, क्योंकि लॉक करने के बाद उसमें बदलाव संभव नहीं होगा.

पहला अलॉटमेंट ओपन रैंक से होगा

कॉलेज सीट आवंटन में सबसे पहला सीट आवंटन ओपन रैंक पर ही किया जायेगा. ओपन रैंक पर सीट नहीं मिलने पर कैटेगिरी वाले स्टूडेंट्स को उनके कैटेगिरी रैंक के अनुसार कॉलेज सीट आवंटित किया जायेगा. इस प्रकार कैटेगिरी वाले विद्यार्थियों को ओपन व कैटेगिरी, दोनों में से सीट रैंक के अनुसार मिल सकती है.

ऑनलाइन रिपोर्टिंग में आवश्यक दस्तावेज

एक्सपर्ट आहूजा के अनुसार जोसा काउंसेलिंग में सीट आवंटन के बाद विद्यार्थियों को ऑनलाइन रिपोर्टिंग में 10वीं, 12वीं की अंक तालिका, कैटेगिरी सर्टिफिकेट, कैंसल्ड चैक की फॉटोकॉपी, मेडिकल सर्टिफिकेट आदि स्कैन कर अपलोड करने होंगे. इडब्ल्यूएस व ओबीसी के विद्यार्थियों को एक अप्रैल 2024 के बाद का कैटेगिरी सर्टिफिकेट देना होगा. अन्यथा उनकी कैटेगिरी निरस्त कर ओपन रैंक से सीट आवंटित की जायेगी.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें