शराबबंदी को लेकर आदिवासी महिलाओं ने किया सवाल, हमारे घर बारात कैसे आयेगी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पटना : बिहार में शराबबंदी को लेकर मुहिम पर पहुंची पुलिसकीटीम से बगहा मेंआदिवासी महिलाओं ने अजीबोगरीब सवालपूछ डाला. जिसके बाद पुलिस की टीम बेबस दिखने लगी.दरअसल, शराबबंदी को लेकर प्रदेश के बगहा में जब पुलिसकी टीमपहुंची,तब इलाके से ताल्लुक रखने वाली आदिवासी महिला नेपुलिसकेवरिष्ठ अधिकारी से सवाल पूछतेहुए कहा, शराब बंद करा दिजिएगा तो फिर हमारी बेटियों की शादी कैसे होगी.

जानकारी के मुताबिक आदिवासी बाहुल्य बगहा में शराबबंदी के लिए गांवों में पहुंच रही पुलिस के सामने रोजाना ऐसी परेशानियां आ रही हैं. बगहाउन इलाकाेंमें आता है जहां शराब सिर्फ आदत ही नहीं बल्कि परंपराओं में शामिल हो चुकी है. यहां घर-घर में शराब बनती है. अब शराबबंदीके आगे वर्षों पुरानी यह परंपरा थमनेलगी है.

हर घर में बन रही शराब को रोकने के लिए जब पुलिस ने मुहिम शुरू की तो रोजाना ऐसी समस्याएं सामने आने लगी.सूत्रोंकी मानें तो शराबबंदी को लेकर लोगों को जागरूक करने में पुलिस के सामने इस तरह की अनेकों परेशानियां आ रही हैं, लेकिन अधिकारी इस अभियान के सफल होने का भी पूरा भरोसा है.

आपको बता दें कि प्रदेश के मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने कहा है कि शराब संबंधी महिलाओं की शिकायत को गंभीरता से लिया जायेगा. इस संबंध में महिलाओं के फोन पर त्वरित कार्रवाई होगी. शराब बंदी को लेकर चल रही सरकार की तैयारी की सोमवार को समीक्षा बैठक में लिये गये निर्णय के बारे में उन्होंने कहा कि किसी के घर में भी शराब पकड़ा गया तो उसे जेल भेजा जायेगा. शराबबंदी की सरकारी तैयारी की गंभीरता को इससे समझा जा सकता है.

उन्होंने कहा कि फरवरी में शराब के अवैध व्यवसाय करने वाले दो हजार लोगों को पकड़ा गया. मार्च में यह संख्या बढेगी.अंजनी सिंह ने कहा कि शराब के गलत कारोबारी को मृत्यु दंड तक की सजा का प्रावधान किया गया है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें