पटना : टीपीएस कॉलेज के प्रोफेसर की गोली मार हत्या

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
आपसी विवाद में हत्या मान रही है पुलिस, मिला घटना का सीसीटीवी फुटेज
पटना : घर से पैदल कॉलेज जा रहे टीपीएस कॉलेज के पाॅलिटिकल साइंस के प्रोफेसर शिवनारायण राम (55 वर्ष) की बुधवार को दिन में करीब 10:45 बजे गोली मारकर हत्या कर दी गयी. वह चांदमारी रोड नंबर-8 से कॉलेज जा रहे थे. पहले से घात लगा कर बैठे शूटर ने उनके सिर में गोली मार दी. उसके बाद शूटर पैदल ही जनता फ्लैट पार्क तक आया, वहां पर उसका साथी बाइक स्टार्ट करके खड़ा था. फिर दोनों फरार हो गये.
बाइक लाल रंग की थी. हत्या के वक्त कचरा उठाने वाली गाड़ी रोड नंबर-8 में खड़ी थी और उसका म्यूजिक तेज था. उसकी आड़ में शूटरों ने गोली मारी. पुलिस ने गाड़ी चालक अवधेश कुमार से दो घंटे तक पूछताछ की. हत्या के बाद स्थानीय पुलिस व रंगदारी सेल की टीम पहुंची.
पास के एक मकान से सीसीटीवी फुटेज मिला, जिसमें शूटर दिख रहा है. पुलिस ने तलाश शुरू कर दी है. प्रोफेसर की हत्या का कनेक्शन कॉलेज से ही जुड़ा हुआ है. पुलिस को कुछ क्लू हाथ लगे हैं. कुछ छात्र-छात्राओं से पूछताछ की है. प्रोफेसर के फोन का सीडीआर भी निकलवाया गया है. पुलिस का कहना है कि मोबाइल से हत्या का राज खुलेगा क्योंकि हत्या में रंजिश साफ दिख रही है. क्योंकि शूटरों ने सीधे सिरे में गोली मारी है. फिलहाल जांच जारी है.
जमीन का मामला और डांस टीचर से हुए विवाद पर पुलिस कर रही है जांच
पूर्वी इंद्रानगर में है प्रोफेसर का निजी मकान
रोहतास जिले के दिनारा, मलिया बाग के मूल निवासी शिवनारायण राम की पहले भागलपुर में किसी कॉलेज में पोस्टिंग थी. सात साल पहले वे पटना आये थे. कंकड़बाग थाना क्षेत्र के पूर्वी इंद्रानगर में प्रोफेसर का निजी मकान है. उनका एक लड़का है, जिसका नाम अंकित है.
शिवनारायण के पिता बिहारी लाल एडीएम के पद से रिटायर्ड हैं. शिवनारायण तीन भाई थे. दूसरे भाई शैलेंद्र हैं, जो सहायक अध्यापक हैं. तीसरे भाई नेवी में हैं. तीनों भाइयों ने एक ही जमीन पर काफी बड़े एरिया में मकान बनवा रखा है.
हत्या के बाद पुलिस गांव से जुड़े किसी जमीन विवाद को लेकर जांच कर रही है. हत्या की दूसरी वजह उनके परिवार से जुड़ी हुई है. पुलिस के मुताबिक प्रोफेसर की पत्नी प्रोफेसर से उम्र में काफी छोटी हैं. उन्हें कोई डांस टीचर डांस सिखाने आता था. पिछले दिनों उससे कुछ विवाद हुअा था. पुलिस उस मामले को भी खंगाल रही है. एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा का कहना है कि हत्या के पीछे आपसी विवाद का मामला लग रहा है.
चिरैयाटांड़ पुल के पास विरोध में सड़क जाम
प्रोफेसर की हत्या के बाद चिरैयाटांड़ पुल के पास टीपीएस कॉलेज के छात्रों ने सड़क जाम कर दिया. हत्यारोपितों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर छात्रों ने सड़क पर टायर जला कर प्रदर्शन किया. मौके पर पहुंची पुलिस ने जाम समाप्त कराया.
नौकर आकाश ने टिफिन देकर घर से
भेजा था : प्रोफेसर के आवास पर उनके गांव का रहने वाला नौकर आकाश कई दिनों से काम कर रहा है. वही रोज उनके लिए खाना बनाता था और बैग तैयार करता था. उसने बताया कि साहब को शूगर था.
इसलिए वह आलू से परहेज करते थे. वे हरी सब्जी खाते थे. बुधवार की सुबह उसने रोटी और बीन्स की भुजिया बनायी थी. उनको नाश्ता कराया और टिफिन में भी यही खाना पैक करके दिया था. वे दो मोबाइल फोन इस्तेमाल करते थे, एक मोबाइल फोन वे घर पर ही छोड़कर निकले थे. वहीं घर में काम करने वाली रीता ने बताया कि साहब शांत स्वभाव के थे.
नौकर के पास आया फोन, घर में मच गया कोहराम
पटना : घर में काम करने वाले नौकर आकाश ने बताया कि उसके ही मोबाइल पर फोन आया कि प्रोफेसर की हत्या हो गयी है. उसने घरवालों को बताया. इस पर घर में कोहराम मच गया. भागकर लाेग घटना स्थल पर पहुंचे.
वहां पर देखा तो पुलिस के लोग मौजूद थे. उन्हें इलाज के लिए पीएमसीएच ले जाया गया था. परिवार के लोग पीएमसीएच पहुंचे. वहां पर मरचरी हाउस में शव को रखा गया था. घटना से आहत घरवालों का रो-राे कर बुरा हाल हो रहा था. पूरा परिवार पोस्टमार्टम हाउस पर मौजूद था लेकिन लोग न तो पुलिस से बात कर रहे थे और न ही मीडिया से.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें