वशिष्ठ नारायण सिंह के नाम पर बिहार में केंद्रीय विश्वविद्यालय की मांग लोकसभा में उठी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली : भाजपा नेता राजीव प्रताप रूड़ी ने विख्यात गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह के शोध कार्यों का उल्लेख करते हुए बुधवार को लोकसभा में कहा कि उनके नाम पर बिहार में एक केंद्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना की जानी चाहिए. सदन में शून्यकाल के दौरान सारण से लोकसभा सदस्य रूड़ी ने कहा कि वशिष्ठ नारायण ने गणित के क्षेत्र में व्यापक शोध किये हैं और ऐसे में उनके कार्यों को लेकर शोध संस्था भी बनायीजाये.

रूडी ने कहा कि वशिष्ठ नारायण का नाम पूरी दुनिया में था और नासा ने भी उनका लोहा माना था. उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट किया. भाजपा नेता ने कहा कि वशिष्ठ नारायण सिंह के नाम पर बिहार में एक केंद्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना की जाये. वशिष्ठ नारायण सिंह का गत 24 नवंबर को निधन हो गया था. वह लंबे समय से अस्वस्थ चल रहे थे.

शून्यकाल में ही भोपाल से भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने भोपाल गैस त्रासदी के पीड़ितों का मुद्दा उठाया और आरोप लगाया कि इस मामले के आरोपी एंडरसन को कांग्रेस की सरकार ने भगाया था. ‘‘हजारों को मारने वाला व्यक्ति भाग गया. यह आतंकवाद है.' इसे लेकर उनके और कांग्रेस के सदस्यों के बीच तीखी नोकझोंक हुई.

जदयू के कौशलेंद्र कुमार ने रेलवे अंडरपास की डिजाइन को लेकर सवाल उठाया तो लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने उनसे सहमति जताते हुए सदन में मौजूद रेल मंत्री पीयूष गोयल से कहा कि वह इस मामले का संज्ञान लें. कांग्रेस के जसवीर सिंह गिल ने शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी का जल्द चुनाव कराने की मांग की. भाजपा के अरविंद धर्मपुरी, बसपा के कुंवर दानिश अली और कई अन्य सदस्यों ने अपने अपने क्षेत्रों के मुद्दे उठाये.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें