पटना : बरामद एके-47 निकली जबलपुर ऑर्डिनेंस फैक्टरी की, राइफल से फायरिंग होने का अनुमान

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पटना : मोकामा विधायक अनंत सिंह के घर से बरामद हथियारों का मुआयना एनआइए (नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी) की टीम ने भी किया है. इससे जुड़ी सभी जानकारी को एकत्र करके जांच शुरू कर दी गयी है.
ये प्रतिबंधित हथियार अवैध तरीके से विधायक के पास कैसे पहुंचे, इसके पूरे रूट की जांच की जा रही है. अब तक की जांच में यह लगभग फाइनल हो गया है कि बरामद एके-47 जबलपुर आयुद्ध फैक्टरी से ही गायब हुए हथियारों में एक है. वहां की फैक्टरी से करीब 150 एके-47 गायब हुई थीं, जिनमें करीब 80 ही अब तक बरामद हो पायी हैं. लेकिन यह हथियार इन तक कैसे और किसके माध्यम से पहुंचा, यह बेहद महत्वपूर्ण है. इसकी डिलिवरी कहां हुई थी. ये बातें उनसे पूछताछ के बाद ही स्पष्ट होगी. सू्त्रों के अनुसार शुरुआती जांच में पता चला है कि कुख्यात तस्कर इमरान आलम और नियाजुल रहमान से विधायक के किसी गुर्गे ने इसे खरीदा था.
इन तमाम मसलों को लेकर एनआइए भी अनंत सिंह से पूछताछ कर सकती है. ग्रेनेड को लेकर एनआइए खासतौर से जांच कर रही है. ये ग्रेनेड मुख्य रूप से आर्मी के उपयोग के लिए होते हैं या नक्सली ऑपरेशन में शामिल केंद्रीय सुरक्षा बलों या राज्य पुलिस की विशेष टुकड़ियों को ही ये मिलते हैं. इन हैंड ग्रेनेडों को स्थानीय स्तर पर नहीं बनाया जा सकता है.
ऐसी स्थिति में अब विधायक तक ये किस रूट से पहुंचे, इसकी गहन से जांच चल रही है. इस बात की भी आशंका जतायी जा रही है कि बिहार पुलिस के पास से ही कहीं ये चोरी तो नहीं हुए हैं. इन तमाम पहलुओं की फिलहाल जांच चल रही है. ग्रेनेडों पर दर्ज ‘मार्किंग’ का मिलान किया जा रहा है, ताकि यह स्पष्ट हो सके कि ये किस आयुद्ध कारखाने में बने हैं.
एके 47 राइफल से फायरिंग होने का अनुमान
पटना : विधायक अनंत सिंह के आवास से एके 47 राइफल व ग्रेनेड की जांच फोरेंसिक व एटीएस की टीम कर रही है. पुलिस को अंदेशा है कि बरामद किये गये राइफल से कई राउंड फायरिंग हुए हैं. हालांकि इसकी अधिकारी पुष्टि नहीं की गयी है. पुलिस सूत्रों की माने तो जांच कर रहे अधिकारियों को कुछ सबूत मिले हैं. इसमें पता लगा है कि बरामद एके 47 से काफी गोलियां दागी गयी है. बंदूक का बैरल काफी रगड़ खाया हुआ है. इसके अलावा बरामद दोनों ग्रेनेड पर दिये गये नंबर से कयास लगायी जा रही है कि दोनों ग्रेनेड सेना के हैं. पुलिस अधिकारियों के मुताबिक बहुत जल्द एफएसएल रिपोर्ट मिल जायेगी. इसके बाद पुष्टि हो जायेगी कि एके 47 से कितनी बार और कहां गोलियां दागी गयी है.
कानून अपना काम कर रहा है : अशोक चौधरी
पटना. राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी विधायक अनंत सिंह के पक्ष में उतर गये हैं. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से आग्रह किया है कि यूएपीए का इस्तेमाल करनेवाला बिहार पहला राज्य बने. श्री तिवारी ने कहा कि नीतीश कुमार गांधीजी का सबसे अधिक नाम लेते हैं. यूएपीए व्यक्ति को भी आतंकवादी घोषित कर सकता है. यह व्यक्तिगत स्वतंत्रता को हनन करने वाला कानून है. श्री तिवारी ने कहा कि न्याय दिखना भी चाहिए. ऐसे में बाढ़ की एएसपी जो जदयू के वरिष्ठ नेता की बेटी हैं . एेसे में उनको बाढ़ से तबादला कर देना चाहिए.
पहला राज्य न बने बिहार : िशवानंद
पटना : राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी विधायक अनंत सिंह के पक्ष में उतर गये हैं. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से आग्रह किया है कि यूएपीए का इस्तेमाल करनेवाला बिहार पहला राज्य बने. श्री तिवारी ने कहा कि नीतीश कुमार गांधीजी का सबसे अधिक नाम लेते हैं.
यूएपीए व्यक्ति को भी आतंकवादी घोषित कर सकता है. यह व्यक्तिगत स्वतंत्रता को हनन करने वाला कानून है. श्री तिवारी ने कहा कि न्याय दिखना भी चाहिए. ऐसे में बाढ़ की एएसपी जो जदयू के वरिष्ठ नेता की बेटी हैं . एेसे में उनको बाढ़ से तबादला कर देना चाहिए.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें