35.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

तेजस्वी पर लालू यादव के फैसले के बाद सबकी नजर नीतीश पर, मलहम लगायेंगे या कार्रवाई करेंगे?

पटना : राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की अध्यक्षता में आज हुईराजद विधायकों व नेताओं की बैठक में यह ठोस फैसला लिया गया कि तेजस्वी यादव बिहार के उपमुख्यमंत्री पद से इस्तीफा नहीं देंगे. राजद नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी ने यहजानकारीदेते हुए कहाकि महागंठबंधन अटूट है. हालांकि वेमीडिया के इस सवालसेबचते दिखे कि […]

पटना : राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की अध्यक्षता में आज हुईराजद विधायकों व नेताओं की बैठक में यह ठोस फैसला लिया गया कि तेजस्वी यादव बिहार के उपमुख्यमंत्री पद से इस्तीफा नहीं देंगे. राजद नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी ने यहजानकारीदेते हुए कहाकि महागंठबंधन अटूट है. हालांकि वेमीडिया के इस सवालसेबचते दिखे कि नीतीश कुमार क्यों इस मुद्दे पर साथ नहीं हैं? उन्होंने इसके जवाब मेंकहाकि बैठक में इस पर कोई चर्चा नहीं हुई है. वहीं, राजद के एक दूसरे नेता जगदानंद सिंह ने दावा किया कि नीतीश कुमार ने कल उनके नेता लालू प्रसाद यादव से फोन पर बात की थी.

बहरहाल,नीतीश केस्टैंड के मुद्दे पर सिद्दीकी का कुछ नहीं कहना या यह कहना कि बैठक में इस पर बात नहीं हुई के राजनीतिक मायने तलाशे जा रहे हैं. राजद के आज के बयान के बाद अब सबकी नजर कल नीतीश कुमार की अध्यक्षता में जनता दल यूनाइटेड के विधायकों व नेताओं की होने वाली बैठक पर टिकी है.

जरूर पढ़ें :क्या विपक्ष को 2019 के लिए नीतीश कुमार को अपना नेता मान लेना चाहिए?

समझा जाता है कि नीतीश कुमार इस बैठक कोई अहम फैसला ले सकते हैं. इस बीच विपक्षी दल नीतीश कुमार पर दबाव बनाने के लिए उनके पहले के स्टैंड का बार-बार उल्लेख कर रहे हैं. नीतीश कुमार पूर्व में औसत या सामान्य आराेपों के आधार पर अपने चार मंत्रियों जीतन राम मांझी, रामनंदन सिंह, अवधेश कुशवाहा व रामाधार सिंह से इस्तीफा ले चुके हैं. विपक्ष इसे पूरे मामले को नीतीश के उच्च नैतिक मानदंड से जोड़ रहा है और कह रहा है कि आप अपनी ही परंपरा को कायम रखें.

विपक्ष के दूसरे नेताओं व जदयू का मलहम

विपक्ष के दूसरे बड़े नेताओं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव व तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने लालू प्रसाद यादव का खुले तौर पर समर्थन किया है और कहा है कि सत्ताधारी भाजपा परेशान करने के लिए विपक्ष के साथ ऐसा कर रही है. वहीं, लालू के करीबी गंठबंधन पार्टनर जदयू ने आधिकारिक रूप से कुछ नहीं कहा है.

हालांकि, आज जदयू के नेता शरद यादव ने जरूर लालू के घाव पर थोड़ी महरम लगायी. उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद यादव का उत्पीड़न किया जा रहा है. शरद ने कहा कि आज जो देश में महागंठबंधन की प्रक्रिया चल रही है उसको तोड़ने के लिए ऐसा किया जा रहा है. हालांकि शरद यादव कई बार ऐसे बयान देते रहे हैं जो उनकी पार्टी के स्टैंड से अलग लगता है और उनके बयान को पार्टी की अधिकृत लाइन मानना थोड़ी जल्दबाजी होगी.

मनी लाउंड्रिंग मामला : लालू की सांसद बेटी मीसा को ED का समन, दामाद शैलेश आज नहीं हुए पेश

जीतन राम मांझी का नीतीश पर हमला

हिंदुस्तान आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने सोमवार को कहा कि नीतीश कुमार सुविधा की राजनीति करते हैं. उन्होंने कहा कि उनमें यह हिम्मत नहीं है कि वे तेजस्वी यादव को उपमुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के लिए कहें. उल्लेखनीय है कि तेजस्वी यादव के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले में सीबीआइ ने एफआइआर दर्ज की है. उन्होंने कहा है कि जो भी किसी भी जांच एजेंसी के द्वारा आरोपी बनाये गये हैं उनका इस्तीफा होना चाहिए, नहीं तो यह संदेश जायेगा कि जनता की इन्हें चिंता नहीं है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें