27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

किसानों को जैविक तरीके से खेती करने पर प्रखंड स्तरीय कर्मशाला में दिया गया बल

खरीफ 2024 में चलाये जा रहे योजनाओं के बारे में विस्तार पूर्वक दी गयी जानकारी

खरीफ महाभियान 2024 अंतर्गत प्रखंड स्तरीय कर्मशाला सह प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन बुधवार को प्रखंड के किसान भवन के प्रशाल में किया गया. कार्यक्रम का उद्घाटन अनुमंडल कृषि पदाधिकारी रंजीत कुमार झा, परियोजना उपनिदेशक आत्मा के शशिकांत झा, जूट अनुसंधान के वरीय वैज्ञानिक दिवाकर पासवान, प्रखंड कृषि पदाधिकारी आजमनगर अनिल सिंह समेत अन्य ने दीप जलाकर किया. मौके पर सदर प्रखंड के आठ पंचायत के बीटीएम, एटीएम, कृषि समन्वयक, किसान सलाहकार, प्रगतिशील किसान के अलावा दो दर्जन से अधिक किसान मौजूद थे. इस दौरान किसानों को सरकार द्वारा खरीफ 2024 में चलाये जा रहे योजनाओं के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गयी. अनुमंडल कृषि पदाधिकारी रंजीत कुमार झा ने किसानों को जैविक तरीके से खेती, मिलेटस लगाने को लेकर विशेष बल दिया गया. आत्मा के उपपरियोजना निदेशक शशिकांत झा ने खरीफ मौसम में किसानों को होने वाली समस्याओं से अवगत कराया. साथ ही इसके निदान को लेकर विचार व्यक्त किये गये. कलस्टर में खेती करने संबंधित सहित कई तरह की जानकारी दी. सहायक पाट अधिकारी मौली ने जूट की खेती एवं उनके मूल सम्बर्द्धन पर विशेष रूप से प्रकाश डाला. प्रखंड कृषि पदाधिकारी अनिल कुमार सिंह ने योजनाओं के संबंध में विस्तृत जानकारी दी गयी. उनके द्वारा बताया गया, सरकार द्वारा चलायी जा रही प्रदर्श योजना एवं अन्य योजनाओं को कलेस्टर में कराने के लिए निर्देश प्राप्त हुआ है. इस बार कृषि विभाग द्वारा सभी योजनाओं को पच्चीस एकड़ के कलेस्टर में एक राजस्वग्राम में करने का निर्देश है. ताकि किसानों द्वारा समेकित रूप से फसल का उत्पादन किया जा सकें. मौके पर को-ऑडिनेटर कुंदन कुमार, कृषि समन्वयक बरखा रानी, कृषि समन्वयक स्वीटी कुमारी, किसान सलाहकार अमोल कुमार, संजू कुमारी समेत अन्य किसान सलाहकार मौजूद थे.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें