27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

गोलीकांड की जांच करने भोरे पहुंचे एसपी, मिले कई महत्वपूर्ण इनपुट

भोरे में हुए गोली कांड का फर्द बयान नहीं आने से चौथे दिन भी प्राथमिकी दर्ज नहीं हो सकी. वहीं मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी स्वर्ण प्रभात ने घटनास्थल पर पहुंचकर पूरे कांड की बारीकी से जांच की.

भोरे. भोरे में हुए गोली कांड का फर्द बयान नहीं आने से चौथे दिन भी प्राथमिकी दर्ज नहीं हो सकी. वहीं मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी स्वर्ण प्रभात ने घटनास्थल पर पहुंचकर पूरे कांड की बारीकी से जांच किया. एसपी खजुरहां जाकर घटनास्थल की जांच की. एसपी के साथ एसआइटी की पूरी टीम के साथ थानाध्यक्ष अनिल कुमार भी मौजूद रहे. पुलिस अधीक्षक ने थानाध्यक्ष से घटनास्थल के बारे में पूरी जानकारी ली और अपराधियों के आने तथा जाने के रास्ते के बारे में पूछा. इसके अलावा उन्होंने कांड की जांच कर रही एसआइटी टीम से भी बात की और अब तक हुई कार्रवाई की अद्यतन जानकारी ली. एसपी ने जल्द ही मामले की खुलासा करने का दावा किया. वहीं उन्होंने बताया कि कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि कुछ नाम सामने आये हैं. घायल व्यक्ति के इलाज के कारण फर्द बयान में देरी हुई है. बयान आते ही प्राथमिकी दर्ज कर मामले का खुलासा कर लिया जायेगा. शुक्रवार को भोरे थाना क्षेत्र के नोनिया छापर गांव निवासी तुलसी सिंह के पुत्र अरविंद कुमार सिंह खजुरहां में स्थित आजाद मोटर गैरेज पर अपनी स्कॉर्पियो को ठीक करा रहे थे. इसी दौरान बाइक सवार तीन अपराधियों ने उनके सिर में गोली मार दी थी. घटना के बाद तत्काल ही उन्हें भोरे रेफरल अस्पताल ले जाया गया. जहां से गंभीर स्थिति में गोरखपुर रेफर कर दिया गया. गोरखपुर से भी लखनऊ भेजा गया. लेकिन लखनऊ में उनका ऑपरेशन नहीं हो सका. अब पूरी उम्र गोली उनके शरीर में ही रहेगी. फर्द बयान के लिए पुलिस लगातार पीड़ित के संपर्क में है. लेकिन अभी तक उसका बयान दर्ज नहीं हो सका है. अरविंद कुमार सिंह दुबई में अपना कारोबार करते हैं. इसके अलावा रामाश्रय सिंह के कारोबार की भी देखरेख करते हैं. अपराधियों ने उन्हें क्यों टारगेट किया. अभी तक यह पहेली बनी हुई है. इसे सुलझाने की कोशिश में पुलिस लगातार लगी हुई है. इस मामले में अभी तक कुल सात लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है. इनसे कड़ी पूछताछ की जा रही है. पुलिस को उनके बयान का इंतजार है, जिससे यह स्पष्ट हो सके कि इस घटना में कौन-कौन लोग शामिल हैं.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें