35.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

लश्कर-ए-तैयबा का एजेंट गोपालगंज से गिरफ्तार, पिता ने कहा- मेरा बेटा देशद्रोही नहीं

गोपालगंज :बिहारके गोपालगंज में लश्कर-ए-तैयबा (आतंकी संगठन) से जुड़े एजेंट व एनएसयूआइ के जिलाध्यक्ष धन्नू राजा को एनआइए की टीम ने गिरफ्तार किया है. नगर थाना क्षेत्र के सरेया वार्ड संख्या एक से गुरुवार की देर शाम एनआइए की टीम ने गिरफ्तारी की थी. एनआइए ने गिरफ्तारी के बाद पहले पटना लेकर गयी, इसके बाद […]

गोपालगंज :बिहारके गोपालगंज में लश्कर-ए-तैयबा (आतंकी संगठन) से जुड़े एजेंट व एनएसयूआइ के जिलाध्यक्ष धन्नू राजा को एनआइए की टीम ने गिरफ्तार किया है. नगर थाना क्षेत्र के सरेया वार्ड संख्या एक से गुरुवार की देर शाम एनआइए की टीम ने गिरफ्तारी की थी. एनआइए ने गिरफ्तारी के बाद पहले पटना लेकर गयी, इसके बाद पूछताछ के लिए दिल्ली लेकर चली गयी.

खुफिया एजेंसी से जुड़े सूत्र बताते हैं कि धन्नू राजा के संबंध में खुफिया व सुरक्षा एजेंसियों को विगत 28 नवंबर को वाराणसी से गिरफ्तार लश्कर एजेंट अब्दुल नईम शेख से जानकारी मिली थी. शेख के पास से एनआइए को भारतीय सेना और देश के कई हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट के नक्शे व तस्वीरे बरामद की की गयी थी. इसके बाद से एनआइए धन्नू राजा की तलाश में जुटी थी.

गोपालगंज के पुलिस अधीक्षक मृत्युंजय कुमार चौधरी ने एनआइए के पहुंचने और धन्नू राजा को हिरासत में लेने की पुष्टी की है. धन्नू राजा छपरा जिले के खैरा ओपी के अफउर गांव निवासी फरोज आलम का पुत्र था. वह अपने नानी के घर सरेया मुहल्ले में बचपन से रहता था. परिजनों के मुताबिक गुरुवार की देर शाम सब्जी खरीदने के लिए से निकला था, इसी बीच एनआइए ने उसे गिरफ्तार किया.

एनआइए की कार्रवाई के बाद हाई अलर्ट
राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) की कार्रवाई के बाद गोपालगंज में हाई अलर्ट किया गया है. खुफिया एजेंसियों की अलर्ट के बाद पुलिस ने सर्तकता बढ़ा दी है. पुलिस अधीक्षक ने सभी थानों को चौकसी बढ़ाने के साथ ही संदिग्धों पर विशेष निगरानी रखने का निर्देश दिया है.

कांग्रेस ने किया किनारा
धन्नू राजा की गिरफ्तारी के बाद कांग्रेस ने अपने को पल्ला झाड़ते हुए किनारा किया है. कांग्रेस जिलाध्यक्ष इफ्तेखार हैदर ने बताया कि धन्नू राजा एनएसयूआइ में पहले था. पिछले कुछ दिनों से वह कांग्रेस का प्राथमिक सदस्य भी नहीं है और ना ही कांग्रेस को इससे कोई लेना-देना है.

क्या कहते हैं अधिकारी
गोपालगंज, एसपी मृत्युंजय कुमार चौधरी ने कहा कि एनआइए को धन्नू राजा के बारे में लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े होने की जानकारी पहले से मिली थी. बनारस में लश्कर-ए-तैयबा के एजेंट अब्दुल नईम शेख की गिरफ्तारी के बाद धन्नू राजा को हिरासत में लिया गया था. एक दिसंबर को गिरफ्तार कर एनआइए पूछताछ कर रही है.

पिता ने कहा, मेरा बेटा देशद्रोही नहीं हो सकता
राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) की कार्रवाई के बाद धन्नु राजा के पिता फिरोज आलम ने कहा कि मेरा बेटा देशद्रोही नहीं है. उसके रग-रग में देश के प्रति वफादारी है. धन्नु के पिता ने कहा कि बेटे का किसी आतंकी संगठन से कोई संबंध नहीं है. वह सिर्फ एक छात्र नेता है और गोपालगंज में कांग्रेस में एनएसयूआई का जिलाध्यक्ष है. अपने ससुराल में पहुंचे फिरोज आलम ने एनआईए की कार्रवाई से आहत थे. फिरोज को एनआईए की कार्रवाई के बारे में कोई जानकारी नहीं थी. गुरुवार की रात में एनआईए ने गिरफ्तार किया था.

शुक्रवार को सूचना पिता को मिली थी. शनिवार को गोपालगंज में ससुराल पहुंचने के बाद फिरोज पूरे मामले की जानकारी लेने के लिए सबसे पहले कांग्रेस कार्यालय में पहुंचे थे. जहां उन्हें किसी तरह की जानकारी नहीं मिली. पिता ने बताया कि पटना से एनआईए के मोबाइल से ही धन्नु ने कॉल किया था. शुक्रवार को कॉल करके धन्नु ने अपने को सुरक्षित होने की बात बतायी. इसके बाद से किसी तरह की कोई जानकारी नहीं मिल रही है. धन्नु की नानी कुरैसा खातुन को भी इसकी जानकारी नहीं है. बचपन से पालन-पोषण करके धन्नु को बड़ा करनेवाली नानी तश्कर-ए-तैयबा संगठन से जुड़े होने की बात सुनकर बेसुद पड़ी थी.

ये भी पढ़ें…तेजस्वी का नीतीश सरकार पर बड़ा हमला, कहा- बिहार बना “घोटालों का मैन्युफैक्चरर स्टेट”

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें