1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. champaran east
  5. purvi champaran people throws stone at police 3 injured in bhopatpur bajhiya

सड़क दुर्घटना में छात्र की मौत से आक्रोशितों का पुलिस पर पथराव, स्कूल में की तोड़फोड़, तीन जख्मी

भोपतपुर बझिया के निजी विद्यालय के छात्रावास के छात्र की सड़क दुर्घटना में मौत से आक्रोशित परिजनों ने शनिवार को विद्यालय में जमकर तोड़फोड़ की. पुलिस को स्कूल में बंधक बना कर बाहर से पथराव शुरू कर दिया. पथराव में तीन पुलिस कर्मी सहित आधा दर्जन लोग घायल हो गये.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
घायल पुलिसकर्मी और पथराव करते लोग
घायल पुलिसकर्मी और पथराव करते लोग
प्रभात खबर

पूर्वी चंपारण में कोटवा के भोपतपुर बझिया के निजी विद्यालय के छात्रावास के छात्र की सड़क दुर्घटना में मौत से आक्रोशित परिजनों ने शनिवार को विद्यालय में जमकर तोड़फोड़ की. पोस्टमार्टम के बाद शव पहुंचते ही लोग उग्र हो गये. कोटवा-भोपतपुर मार्ग को जाम कर दिया.

पुलिस को बंधक बना किया गया पथराव

मौके पर पहुंची भोपतपुर ओपी पुलिस को स्कूल में बंधक बना कर बाहर से पथराव शुरू कर दिया. पथराव में तीन पुलिस कर्मी सहित आधा दर्जन लोग घायल हो गये. घायलों में ओपी प्रभारी जितेंद्र कुमार, सिपाही सुवेंद्र शर्मा, सिपाही विनोद तिवारी शामिल हैं. घायलों का प्राथमिक इलाज एक निजी नर्सिंग होम में कराया गया.

शव को सड़क पर रख कर जाम किया गया 

घटना के बाद कई थानों की पुलिस पहुंची और स्थिति को नियंत्रित किया. घटना के संबंध में बताया जाता है कि मृत छात्र 15 वर्षीय रितेश कुमार के शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों ने भोपतपुर ओपी के पास सड़क पर रख कर जाम कर दिया. इधर घटना से नाराज ग्रामीणों ने उग्र होकर विद्यालय पर हमला बोल तोड़-फोड़ शुरू कर दिया. मौके पर पहुंचे भोपतपुर ओपीध्यक्ष ने ग्रामीणों को समझा कर स्कूल में प्रवेश किया. इसके बाद ग्रामीणों ने स्कूल को बाहर से बंद कर पुलिस टीम को बंधक बना बाहर से पथराव शुरू कर दिया.

पुलिस ने उपद्रव कर रहे लोगों को खदेड़ा

इधर ग्रामीणों के उग्र रूप एवं पथराव को देख मृतक के परिजन शव लेकर वहां से केसरिया थाना के महम्मदपुर गांव चले गये. इसके बाद पुलिस एक्शन में आयी और उपद्रव कर रहे लोगों को खदेड़ा. परिजन आरोप लगा रहे थे कि कोटवा पुलिस प्राथमिकी दर्ज नहीं कर रही है. मामले में कोटवा के प्रभारी थानाध्यक्ष केशव कुमार सिंह ने बताया कि परिजनों के आवेदन पर स्कूल संचालक हृदयानंद श्रीवास्तव एवं अंकुश साकेत पर पहले ही प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी है.

स्कूल संचालक फरार हैं

इधर स्कूल संचालक घटना के बाद होस्टल को खाली कर स्कूल बंद कर फरार हैं. इस संबंध में भोपतपुर ओपी प्रभारी जितेंद्र कुमार ने बताया कि जैसे ही शव पहुंचा आसपास के कुछ उपद्रवियों ने मौके का लाभ उठाकर स्कूल में तोड़फोड़ की और पुलिस टीम पर हमला किया गया है. सभी को चिह्नित कर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी. बता दें कि कोटवा के दीपउ में शुक्रवार को छात्रावास से विद्यालय के निजी काम से बाइक से मोतिहारी गए युवक की वापसी के दौरान सड़क दुर्घटना में मौत हो गयी. छात्र विद्यालय के हॉस्टल में रहकर पढ़ाई करता था.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें