25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

किचन में साड़ी के बने फंदे से लटका मिला किराना दुकानदार का शव, आत्महत्या की आशंका

किचन में साड़ी के बने फंदे से लटका मिला किराना दुकानदार का शव, आत्महत्या की आशंका

हर दिन की तरह दोपहर के खाने पर आया था घर, दुकान चली गयी थी पत्नी, लौट कर फंदे से लटका पाया तातारपुर थाना क्षेत्र के गोला घाट मोहल्ला स्थित लाल खां दरगाह लेन स्थित किराना दुकान के संचालक विकास कुमार साह (41) की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गयी. घर के किचन में विकास साड़ी के फंदे से लटका मिला. घटना के बाद मौके पर पहुंचे परिजन व आसपास के लोग उन्हें फंदे से उतार कर सीधा मायागंज अस्पताल पहुंचे. इस बात की जानकारी पड़ोसियों ने पुलिस को भी दी. इधर मायागंज अस्पताल पहुंचने पर चिकित्सकों ने उन्हें मृत घाेषित कर दिया. अस्पताल पहुंचे रिश्तेदारों और पड़ोसियों ने विकास द्वारा आत्महत्या किये जाने की बात कही. इधर तातारपुर पुलिस ने बताया कि उनकी टीम के पहुंचने से पूर्व ही शव को उतार उसे मायागंज अस्पताल ले जाया गया. इसकी वजह से घटनास्थल की जांच नहीं हो सकी. घटनास्थल से किसी भी प्रकार का सुसाइड नोट नहीं मिला है. अस्पताल में परिजनों का फर्द बयान दर्ज किया जायेगा. बयान में लगाये गये आरोपों के आधार पर केस दर्ज किया जायेगा. इधर पुलिस ने देर रात मायागंज अस्पताल पहुंच भी शव की जांच की. मृतक विकास राजेंद्र प्रसाद साह के बेटे थे. अस्पताल पहुंचे मृतक के चचेरे भाई ने बताया कि अचानक हल्ला हुआ कि विकास कुमार साह फंदे से लटके हुए हैं. इस पर वे लोग पहुंचे और शव को उतारा. उतारने के बाद जीवित होने की संभावना पर वे लोग उन्हें लेकर मायागंज अस्पताल पहुंचे. वहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. विकास की दुकान उसके घर के नीचे ही है. बंटवारे के बाद मां-पिता और विकास अलग अलग रहते थे. विकास के बड़े भाई पंकज कुमार साह दिल्ली में पूरे परिवार के साथ रहते हैं, जहां वह नौकरी करते हैं. पत्नी और पिता से मिली जानकारी के अनुसार हर दिन की तरह रविवार दोपहर 2 बजे विकास अपनी दुकान से घर पर खाना खाने गये थे. खाना खाने के दौरान विकास की पत्नी पोरशा सरकार दुकान पर बैठने के लिए आ गयी थी. हर दिन विकास खाना खाने के बाद दो घंटे तक आराम करता था. देर शाम साढ़े पांच बजे तब जब विकास वापस दुकान पर नहीं पहुंचा तो पत्नी उन्हें देखने के लिए घर पर गयी. उन्होंने कमरे में विकास को नहीं देखा. रसोई में आने पर उन्होंने देखा कि साड़ी के फंदे से विकास लटका हुआ है. इसके बाद पत्नी ने शोर मचाना शुरू किया था. 10 साल पूर्व विकास और पोरशा ने किया था लव कम अरेंज मैरेज परिजनों ने बताया कि विकास कोलकाता में रहकर पढ़ाई करता था. कोलकाता में ही उसकी नौकरी भी हुई थी. तभी विकास और पोरशा के बीच प्रेम हो गया था. दोनों के परिजनों के स्वीकृति के बाद दोनों ने अरेंज मैरेज किया. उक्त शादी से दोनों को एक साल साल का बेटा व्योम और एक 3 साल की बेटी है. पंखे का कंडेंशर बदलने पोते को विकास को बुलाने भेजा था मृत विकास के पिता राजेंद्र साह ने बताया कि उनके घर का पंखा खराब हो गया था. इसके लिए कंडेंशर बदलना था. इसके लिए उन्होंने पोते व्योम को उसके पिता को बुलाने के लिए भेजा था. व्योम जब अपने घर पर पिता को बुलाने के लिए गया तो घर का ग्रिल बंद था. काफी खटखटाने के बाद भी जब ग्रिल नहीं खुला तो उसने अपनी मां को इसकी जानकारी दी. पोरशा ने जब ग्रिल खोलकर देखा तो रसोई में फंदे से विकास का शव लटक रहा था. एक दिन पूर्व ही बेटे का एडमिशन कराया था मृतक के पिता ने बताया कि विकास के बेटे व्योम का एडमिशन एक दिन पूर्व ही सेंट जोसेफ स्कूल में हुआ था. वह बेटे के एडमिशन को लेकर पिछले कुछ महीनों से काफी परेशान था. पति-पत्नी के बीच विवाद की बात पर उन्होंने बताया कि विकास और पोरशा के बीच हल्का विवाद होता था, जो आम बात है. वहीं किसी भी तरह का कर्ज होने की बात से भी विकास के पिता ने इनकार कर दिया. इधर चचेरे भाई ने बताया कि विकास आम तरीके से ही अपना जीवन और परिवार चला रहा था.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें