31.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बिहार के स्कूलों में होली पर युवाओं की टोली ने मचाया उत्पात, छिपकर बचे मास्टर साहब, जो भी दिखे हुए सराबोर

होली के रंग में सराबोर लोगों ने स्कूल में जमकर धमाल मचाया. फगुआ टोली ने स्कूलों में पहुंचकर शिक्षकों और विद्यार्थियों को रंगों से सराबोर कर दिया

ऋषव मिश्रा कृष्णा, भागलपुर. भागलपुर जिले के नवगछिया प्रखंड के मध्य विद्यालय भरोसा सिंह टोला कदवा के प्रधानाध्यापक विनय कुमार की एक तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल है. विनय कुमार का पूरा शरीर कीचड़ से तर ब तर नजर आ रहा है. वह एक वर्ग कक्ष में खड़े नजर आ रहे हैं. मालूम हो कि शिक्षा विभाग के आदेश के अनुसार होली के दिन सोमवार को जिले के सभी सरकारी स्कूल खुले रहे. हालांकि अधिकांश स्कूलों में बच्चे नहीं पहुंचे थे. लेकिन शिक्षक समय से विद्यालय पहुंच गए. स्कूल खुलने के बाद सभी प्रकार की क्रियाएं यथा हाजिरी बनाना, सेल्फी ले कर भेजने जैसे कार्य किए गए.

शिक्षक की आपबीती

विनय कुमार ने बताया कि रोजाना की तरह वे समय से विद्यालय पहुंचे थे और बच्चों का इंतजार कर रहे थे. कुछ बच्चे आए भी लेकिन कुछ देर बाद ही युवकों का एक बड़ा हुजूम विद्यालय परिसर में दाखिल हो गया. सभी होली है… जैसी बातें जोर-जोर से बोल रहे थे. उन्होंने किसी का विरोध नहीं किया. हालांकि उन्होंने सबों से कहा कि वह अपनी ड्यूटी पर हैं. इसलिए उनके कपड़े को खराब ना करें तो अच्छा है.

लेकिन किसी ने उनकी बात नहीं मानी और उन पर कीचड़ डाल ही दिया. इतना होने के बाद भी उन्होंने विद्यालय नहीं छोड़ा और कपड़ों से कीचड़ वगैरह हटा कर अपनी ड्यूटी में लग गए. शाम में उन्होंने विभागीय स्तर से होने वाले वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में भी हिस्सा लिया. विनय कुमार ने बताया कि शाम में उनकी तबीयत कुछ खराब हो गई थी. ग्रामीण चिकित्सक से उन्होंने दवाई ली है. अब वे बिल्कुल ठीक हैं.

कई जगहों पर छिप कर बचे शिक्षक

सोशल मीडिया में कई ऐसे वीडियो वायरल है जिसमें शिक्षकों को रंग लगाते हुए देखा जा रहा है. हालांकि वैसे वीडियो की पुष्टि प्रभात खबर नहीं करता है. लेकिन कई शिक्षकों ने अपना नाम उजागर न करने की शर्त पर बताया कि उन लोगों के स्कूलों में बड़ी संख्या में ग्रामीण होली खेलने पहुंच गए थे अधिकांश शिक्षक छिप कर बचे. लेकिन जो शिक्षक नजर पर चढ़े उन्हें सराबोर और कर दिया गया.

शिक्षक नेता ने कहा

शिक्षक नेता राणा कुमार झा ने कहा कि आजाद भारत में पहली बार ऐसा हुआ कि होली के दिन शिक्षकों ने परिवार से दूर रह कर विद्यालय का संचालन किया. शिक्षा विभाग के इस निर्णय से परिलक्षित होता है की शिक्षा विभाग शिक्षकों के प्रति जरा भी संवेदनशील नहीं है. श्री झा ने बताया कि उन्होंने स्थानीय पदाधिकारी के समक्ष 25 मार्च को विद्यालयों में छुट्टी घोषित कर दिए जाने की मांग की थी.

ऐसा वीडियो भी आया सामने

एक तरफ होली के दिन स्कूल खुलने के बाद शिक्षकों को रंग लगाने का वीडियो सामने आ रहा था तो दूसरी तरफ नवगछिया प्रखंड के मध्य विद्यालय सिमरा का भी वीडियो सामने आया. वीडियो चेतना सत्र का था जिसमें स्कूल के विद्यार्थी अपने परिधानों में सुसज्जित होकर चेतना सत्र में भाग लेते देखे गए. जानकारी मिली है कि यहां पर बिना किसी व्यवधान के विधिवत विद्यालय का संचालन किया गया.

Also read : होली पर स्कूल पहुंचने में शिक्षकों का हुआ बुरा हाल, भड़के पप्पू यादव ने गिरिराज सिंह से पूछा ये सवाल

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें