26 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Bhagalpur News : डीबीए चुनाव की मतगणना जारी, सैयद मोतहर अली कोषाध्यक्ष निर्वाचित

जिला विधिज्ञ संघ (डीबीए), भागलपुर में सत्र 2024-26 सत्र के चुनाव को लेकर विगत 18 मई को हुए मतदान के बाद बुधवार को भी चौथे दिन काउंटिंग की प्रक्रिया अधूरी रही.

जिला विधिज्ञ संघ (डीबीए), भागलपुर में सत्र 2024-26 सत्र के चुनाव को लेकर विगत 18 मई को हुए मतदान के बाद बुधवार को भी चौथे दिन काउंटिंग की प्रक्रिया अधूरी रही. हालांकि बुधवार को एक और पद के पर विजेता की घोषणा की गयी. जिला विधिज्ञ संघ चुनाव में कोषाध्यक्ष (ट्रेजरर) पद के लिए पांच अधिवक्ताओं के बीच मुकाबला था. जिसमें सैयद मोतहर अली को सबसे ज्यादा मत मिलने के बाद निर्वाचित किया गया. मिली जानकारी के अनुसार सैयद मोतहर अली को कुल 552 मत प्राप्त हुए जबकि उनके प्रतिद्वंदि रहे नीरज कुमार सिंह को 476 मत प्राप्त हुए. उनके साथ मैदान में अधिवक्त पंकज कुमार शांडिल, फुलन सहाय और संतोष कुमार ठाकुर भी मैदान में थे.

बुधवार रात 8 बजे तक मतपत्रों की गिनती की गयी. इसके बाद गिनती किये गये मतपत्रों और जिन मतपत्रों को नहीं गिना गया है उन्हें अलग पेटियों में दोबारा सील कर स्ट्रांग रूम में रख दिया गया है. बता दें कि मतगणना के पहले दिन यानी 19 मई को देर से और एक ही टेबल होने की वजह से मतगणना की प्रक्रिया शुरू किये जाने की वजह से छंटनी की कार्रवाई भी पूर्ण नहीं की जा सकी थी. इसके बाद 20 मई को देर शाम तक दो टेबल लगाकर मतपत्रों की छंटनी की प्रक्रिया पूर्ण की गयी, इसके बाद 21 मई को भी अध्यक्ष और महासचिव पद के की मतगणना को पूर्ण कर निर्वाचित पदाधिकारियों के नाम की घोषणा की गयी. दो टेबल होने की वजह से गिनती में हो रही देरी को लेकर 22 मई यानी बुधवार को मतगणना के लिए तीन टेबल और मतगणना के लिए पदाधिकारियों की संख्या में भी बढ़ोतरी की गयी. इसके बावजूद भी बुधवार शाम तक शेष बचे 9 पदों में से एक ही पद के निर्वाचित पदाधिकारी की घोषणा की जा सकी. इधर निर्वाची पदाधिकारी ने गुरवार को शेष बचे 8 पदों के नाम की घोषणा देर शाम तक पूरा कर लिये जाने की संभावना जताई है. बता दें कि रात में चली काउंटिंग प्रक्रिया के दौरान कई बार बिजली जाने और लाइट की व्यवस्था नहीं होने के बाद हुए विरोध के बाद मतगणना की प्रक्रिया को रोका गया.

राज्य में भागलपुर डीबीए पहला संघ जिसमें 4-5 दिनों तक चल रही मतगणना की प्रक्रिया

डीबीए चुनाव में अपनायी गयी प्रक्रिया को असंवैधानिक होने और नियम के विरुद्ध कार्रवाई किये जाने को लेकर अधिवक्त अजीत कुमार सोनू और कपिल देव कुमार चार दिनों तक अनशन पर बैठे रहे. इसके बाद मंगलवार को अध्यक्ष और महासचिव से आश्वासन मिलने के बाद अनशन को खत्म किया गया. चल रही मतगणना प्रक्रिया पर सवाल उठाते हुए अजीत कुमार सोनू ने आरोप लगाया है कि 2024-26 सत्र के लिए हुआ डीबीए चुनाव इलेक्शन नहीं बल्कि सिलेक्शन है. उन्होंने बताया कि भागलपुर डीबीए ने पूरे राज्य में सबसे ज्यादा दिनों तक काउंटिंग प्रक्रिया करने वाले संघों में रिकॉर्ड कायम किया है. आज तक इतने लंबे समय तक किसी भी विधिज्ञ संघ ने मतगणना नहीं की है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें