1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. bhagalpur mp ajay kumar mandal surrenders in court in case of assault ksl

Bhagalpur: सांसद अजय कुमार मंडल ने मारपीट के मामले में अदालत में किया आत्मसमर्पण, मिली जमानत

कहलगांव एनटीपीसी का कार्य करा रही कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर दिलीप बसाक से मारपीट सहित अन्य गंभीर आरोप में तत्कालीन कहलगांव विधायक व वर्तमान जदयू सांसद अजय कुमार मंडल ने आत्मसमर्पण कर दिया.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Bhagalpur: अजय कुमार मंडल
Bhagalpur: अजय कुमार मंडल
सोशल मीडिया

Bhagalpur: कहलगांव एनटीपीसी के द्वितीय चरण का कार्य करा रही कंपनी मेसर्स विजय इंडस्ट्रीज एंड प्रोजेक्ट्स लिमिटेड के प्रोजेक्ट मैनेजर पश्चिम बंगाल के बांकादाह बाकुड़ा निवासी दिलीप बसाक से मारपीट, अपमानित करने, मोबाइल छिनतई सहित अन्य गंभीर आरोप में तत्कालीन कहलगांव विधायक व वर्तमान जदयू सांसद अजय कुमार मंडल ने मंगलवार को आत्मसमर्पण कर दिया.

कोर्ट ने तय तिथि पर सांसद को अदालत में उपस्थित रहने को कहा

प्रबल दत्ता की एमपी-एमएलए कोर्ट में सांसद मंडल प्रातःकालीन सत्र में अपने अधिवक्ता के साथ पहुंचे. आत्मसमर्पण सह जमानत अर्जी दाखिल कर सांसद ने आत्मसमर्पण किया. विशेष न्यायाधीश ने जमानत अर्जी पर सुनवाई करते हुए जमानत दे दी. सांसद को तय तिथि पर उपस्थिति देने को कहा गया है. ताकि सुनवाई त्वरित गति से पूरी करायी जा सके.

सुनवाई में अनुपस्थित रहने पर कोर्ट ने जारी किया था वारंट

विशेष अदालत ने मामले में चल रही सुनवाई में लगातार अनुपस्थित रहने पर अजय कुमार मंडल सहित अन्य आरोपितों पर 26 मार्च, 2022 को वारंट जारी कर दिया था. न्यायालय ने घोघा थानाध्यक्ष को वारंट तामिल करने का निर्देश जारी किया था.

क्या है मामला

21 फरवरी, 2006 को जब प्रोजेक्ट मैनेजर दिलीप बसाक कांट्रेक्टर एसोसिएशन की बैठक समाप्त कर ट्रांजिट कैंप की गेट से निकल रहे थे. इसी क्रम में धर्मेंद्र कुमार सिंह व विकास मंडल सामने आकर पूछा कि हमलोगों को ठेका का काम देने के बारे में क्या सोचा है. हमारा वर्क आर्डर मंगायेंगे कि नहीं.

फंड की कमी से नयी पार्टी को काम देना अभी संभव नहीं : बसाक

बसाक ने उन्हें तब जवाब दिया था, हेड ऑफिस मुंबई के अधिकारी ने कहा है कि अभी फंड की कमी के चलते जो हमारे यहां कार्यरत हैं. उन्हीं ठेकेदारों को हम काम नहीं दे पा रहे हैं. बसाक ने कहा था कि ऐसी स्थिति में नयी पार्टी को काम देने की स्थिति में अभी नहीं हैं. बसाक के जबाव देने पर उनलोगों ने धमकी दी थी कि बसाक जी आपको कोई बचा नहीं पायेगा, तब बसाक पिंटू सिंह की मोटरसाइकिल पर बैठकर सत्कार चौक पर महादेव आटो मेसन पीसीओ बूथ पर चले गये थे.

अनिल मिश्रा ने फोन कर बुलाया था टीटीएस क्वॉर्टर 

उक्त घटना के कुछ देर बाद ही अनिल मिश्रा ने उन्हें फोन किया कि आप अपने टीटीएस क्वॉर्टर में पहुंच जाये. हमलोग कुछ बात करना चाहते हैं. बसाक ने तब उन्हें कहा था कि नहीं मैं अभी क्वॉर्टर नहीं आ सकता. अभी आपसे बात करने की स्थिति में नहीं हूं, आपलोग हमें मारने की धमकी दे रहे हो.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें