24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

इंद्रपुरी में नहर से मिला 11 जून की सुबह से लापता छात्रा का शव, हत्या की आशंका

नवीनगर में थाना मोड़ पर आक्रोशितों ने काटा बवाल

नवीनगर. 11 जून की सुबह घर से कोचिंग के लिए निकली नवीनगर की 16 वर्षीय छात्रा का शव रोहतास जिले के इंद्रपुरी थाना क्षेत्र के पटनवां भुइंया टोली के समीप नहर से बरामद किये जाने के बाद इलाके में सनसनी फैल गयी. मृतका की पहचान नवीनगर गैस गोदाम निवासी अभय कुमार सिंह की पुत्री श्रेया कुमारी के रूप में हुई है. घटना के विरोध में परिजनों के साथ शहर के लोगों ने नवीनगर थाना मोड़ के समीप जमकर बवाल मचाया. एक से डेढ़ घंटे तक पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की और आगजनी कर हत्या में शामिल लोगों की गिरफ्तारी की मांग की. आक्रोशितों ने पुलिस पर क्राइम कंट्रोल नहीं करने का आरोप लगाया. आक्रोशितों का कहना था कि नवीनगर में इस तरह की घटनाएं लगातार हो रही है, लेकिन पुलिस न तो अपराधियों पर शिकंजा कस रही है और न ही अपराध को रोकने में सफल हो रही है. सड़क जाम व आगजनी की सूचना पर नवीनगर थानाध्यक्ष मनोज कुमार पांडेय पहुंचे और आक्रोशितों को समझा-बुझाकर शांत कराने की कोशिश करने लगे. आक्रोशित एसडीपीओ को बुलाने की मांग कर रहे थे. अंतत: थानाध्यक्ष ने छात्रा की मौत मामले का जल्द उद्भेदन और गिरफ्तारी का आश्वासन दिया. तब आक्रोशित शांत हुए. थानाध्यक्ष ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का खुलासा होगा. बहुत जल्द घटना का उद्भेदन कर लिया जायेगा. क्या है मामला और कैसे मिला शव नवीनगर शहर के गैस गोदाम के पीछे वाले इलाके में रहने वाले अभय कुमार सिंह की पुत्री श्रेया कुमारी 11वीं की छात्रा थी. 11 जून की सुबह 6:15 बजे वह प्रीमियर कोचिंग जाने की बात कहकर घर से निकली थी. इसके बाद वह घर नहीं लौटी. काफी विलंब होने के बाद परिजनों को चिंता सताने लगी. कोचिंग से लेकर जान-पहचान वालों से परिजनों ने संपर्क किया, लेकिन कहीं अता-पता नहीं चला. 12 जून को श्रेया की मां उर्मिला देवी नवीनगर थाना पहुंची और बेटी के गायब होने से संबंधित आवेदन देकर खोजने की गुहार लगायी. पुलिस परिजनों से पूछताछ के आधार पर आगे की प्रक्रिया में जुट गयी. 13 जून की शाम रोहतास जिले के इंद्रपुरी थाना क्षेत्र के पटनवां भुइंया टोले के पास पश्चिमी संयोजक नहर से स्थानीय पुलिस ने शव बरामद किया. पता चला कि मृतका के पॉकेट में मोबाइल नंबर लिखा कागज बरामद हुआ, जिसके बाद पुलिस ने परिजनों को जानकारी दी. बदहवास परिजन इंद्रपुरी थाना पहुंचे, तब तक शव को पोस्टमार्टम के लिए सासाराम भेज दिया गया था. शुक्रवार की सुबह पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया. परिजन शव लेकर नवीनगर पहुंचे और आगे की प्रक्रिया पूरी की. इधर, जब घटना की जानकारी शहर के लोगों को मिली तो आक्रोश उबल पड़ा. थाना मोड़ के समीप परिजनों के साथ सैकड़ों लोगों ने आगजनी करते हुए विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया. मोबाइल चैट से खुलेगा मामला, तीन लोगों के नाम आये सामने श्रेया को गायब होने के बाद उसकी मां उर्मिला देवी ने गुमशुदगी से संबंधित जो आवेदन पुलिस को दिया है, उसमें एक किशोर के साथ-साथ श्रेया की सहपाठी और उसकी मां के नाम सामने आये है. उर्मिला ने पुलिस को दिये आवेदन में बताया है कि श्रेया के गायब होने के बाद जब घर के मोबाइल नंबर की जांच की तो टंडवा थाना क्षेत्र के एक गांव के किशोर के साथ 10 जून की रात साढ़े 10 बजे का चैट पाया गया. इसके अलावे श्रेया की एक सहपाठी और उसकी मां को भी श्रेया की मौत में कारक के रूप में देखा जा रहा है. उर्मिला ने बताया है कि जब श्रेया की सहपाठी की मां को फोन कर उससे बात कराने की गुहार लगायी, लेकिन बात नहीं करायी. श्रेया के अपहरण और उसकी हत्या में तीनों लोग शामिल है. अब पुलिस इन तीनों पर शिकंजा कसने के लिए तैयार है. उम्मीद है कि चंद घंटे में ही घटना का उद्भेदन हो जायेगा.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें