सचिन तेंदुलकर ने संन्यास के बारे में पहली बार अक्तूबर 2013 में किया था विचार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली : महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने खुलासा किया कि उन्हें अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का पहला विचार उनके दिमाग में अक्तूबर 2013 में चैम्पियंस लीग टी20 मैच के दौरान आया था जो उनके अलविदा कहने के फैसले से एक महीने पहले ही था.

तेंदुलकर हाल में पेशेवर नेटवर्किंग साइट ‘लिंक्डइन' से ‘इंफ्लुएंसर' के तौर पर जुडे और उन्होंने ‘माई सेंकेड इनिंग्स' शीर्षक के लेख में आज उन्होंने लिखा, ‘‘अक्तूबर 2013 के दौरान दिल्ली में चैम्पियंस लीग मैच के दौरान ऐसा हुआ था. ' उन्होंने खेल के बाद अपनी जिंदगी के बारे में बताते हुए कहा, ‘‘मेरी सुबह जिम वर्कआउट के साथ शुरू होती है जो मैं पिछले 24 साल से कर रहा हूं. लेकिन उस दिन अक्तूबर की सुबह कुछ बदल गया. मैंने महसूस किया कि मुझे खुद को उठाने के लिये जोर लगाना पड़ा.
मैं जानता था कि जिम ट्रेनिंग मेरे क्रिकेट का अहम हिस्सा है जो पिछले 24 साल से मेरी जिंदगी का हिस्सा रही है. फिर भी यह अनिच्छा थी. क्यों? ' तेंदुलकर ने लिखा, ‘‘क्या ये संकेत थे...संकेत थे कि मुझे रुक जाना चाहिए? संकेत था कि जो खेल मेरे लिये इतना अहम रहा है, वह मेरी रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा नहीं होगा? '
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें