1. home Hindi News
  2. national
  3. nikita kaul wife of pulwama attack martyr major vibhuti shankar dhaundiyal becomes army officer will serve the nation aml

पुलवामा हमले के शहीद मेजर विभूति शंकर की पत्नी बनीं सेना की अधिकारी, अब करेंगी देश की सेवा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
निकिता कौल के कंधे पर सितारे लगाते सेना के उच्च अधिकारी लेफ्टिनेंट जनरल वाई के जोशी.
निकिता कौल के कंधे पर सितारे लगाते सेना के उच्च अधिकारी लेफ्टिनेंट जनरल वाई के जोशी.
Twitter

नयी दिल्ली : पुलवामा आतंकवादी हमले (Pulwama Attack) में शहीद हुए सेना के जवान की पत्नी ने देश की सेवा के लिए आर्मी (Indian Army) ज्वाइन किया है. आज पहली बार सेना की वर्दी पहनकर वह भावुक हो गयीं. वर्दी में उन्होंने अपनी शहीद पति को श्रद्धांजलि अर्पित की. शहीद मेजर विभूति शंकर धौंदियाल (martyr Major Vibhuti Shankar Dhaundiyal) की पत्नी निकिता कौल (Nikita Kaul) भारतीय सेना में अधिकारी बनी हैं. सेना की उत्तरी कमान के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल वाई के जोशी ने उनके कंधों पर स्टार लगाये.

पहली बार आर्मी की वर्दी पहनने के बाद निकिता कौल भावुक हो गयीं. तमिलनाडु के चेन्नई में अधिकारियों की प्रशिक्षण अकादमी में उनके कंधे पर सितारे लगाये गये. रक्षा मंत्रालय, उधमपुर के पीआरओ ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर इस समारोह का वीडियो शेयर किया है. बता दें कि निकिता कौल के पति मेजर विभूति शंकर 2019 में पुलवामा में हुए हमले में शहीद हो गये थे.

सरकार ने मरणोपरांत मेजर विभूति को शौर्य चक्र से सम्मानित किया था. रक्षा मंत्रालय उधमपुर के पीआरओ ने ट्वीट किया कि मेजर विभूति शंकर धौंदियाल ने 2019 में पुलवामा में सर्वोच्च बलिदान दिया गया. उन्हें शौर्य चक्र (मरणोपरांत) से सम्मानित किया गया. आज उनकी पत्नी निकिता कौल ने सेना की वर्दी पहनी. यह उनकों सच्ची श्रद्धांजलि है. लेफ्टिनेंट जनरल वाई के जोशी ने उनके कंधों पर सितारे लगाये.

शहीद होने के 9 महीने पहले ही हुई थी शादी

मेजर विभूति शंकर की शादी उनके दुखद निधन से ठीक 9 महीने पहले ही हुई थी. और 9 महीने बाद वे अपनी पत्नी को अकेला छोड़कर देश की सेवा करते हुए शहीद हो गये. लेकिन, मेजर विभूति शंकर बलिदान व्यर्थ नहीं गया और उनकी पत्नी चुपचाप नहीं बैठीं. उन्होंने भारतीय सेना में शामिल होने और अपने पति को गौरवान्वित करने का प्रेरक निर्णय लिया.

अपने पति की शहादत के ठीक छह महीने बाद, निकिता ने शॉर्ट सर्विस कमीशन (एसएससी) का फॉर्म भरा. उन्होंने परीक्षा और सेवा चयन बोर्ड (SSB) के साक्षात्कार में भी सफलता प्राप्त की. इसके बाद वह अपने प्रशिक्षण के लिए चेन्नई में अधिकारी प्रशिक्षण अकादमी (OTA) में शामिल हो गईं और आधिकारिक तौर पर 29 मई, 2021 को लेफ्टिनेंट निकिता कौल धौंदियाल के रूप में भारतीय सेना में शामिल हो गईं.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें