1. home Hindi News
  2. national
  3. kisan andolan manoj tiwari has invited cm arvind kejriwal to his residence to explain the benefits of farm laws 2020 aml

Kisan Andolan: कृषि कानूनों के फायदे बताने के लिए मनोज तिवारी ने केजरीवाल को बुलाया अपने घर

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
भाजपा सांसद मनोज तिवारी
भाजपा सांसद मनोज तिवारी
फाइल फोटो

Kisan Andolan नयी दिल्ली : भाजपा सांसद मनोज तिवारी (Manoj Tiwary) ने नये कृषि कानून (Farm Laws) पर शंकाएं दूर करने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) को अपने आवास पर आमंत्रित किया है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मेरे आवास पर आएं मैं उनके संदेहों को दूर करूंगा. आम आदमी पार्टी सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को दावा किया था कि नये कृषि कानूनों से किसानों को नुकसान ही होगा. फायदा कोई भी नहीं होगा.

इससे पहले भी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल नये कृषि कानूनों का विरोध करते रहे हैं. उन्होंने कृषि कानूनों की कॉपी भरे सदन में फाड़ी भी थी. केजरीवाल किसान आंदोलन के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे किसानों से दिल्ली बॉर्डर पर मुलाकात भी की है. केजरीवाल पर निशाना साधते हुए तिवारी ने कहा कि केजरीवाल किसी को भी अपने घर में प्रवेश नहीं करने देते और जन प्रतिनिधियों से मिलने से परहेज करते हैं. इसलिए वे मेरे आवास पर आएं.

बता दें कि भाजपा शासित नगर निगमों के तीन महापौर और अन्य भाजपा नेता मुख्यमंत्री आवास के बाहर 13 दिनों तक धरने पर बैठे रहे. लेकिन केजरीवाल ने उनसे मुलाकात नहीं की थी. तिवारी ने केजरीवाल को ट्वीट कर उन्हें रविवार की दोपहर तीन बजे लुटियंस दिल्ली में मदर टेरेसा क्रेसेंट के अपने आधिकारिक निवास पर आमंत्रित किया और मीडिया के सामने कृषि कानूनों का लाभ बताने की पेशकश की.

मनोज तिवारी ने ट्वीट कर कहा कि आइए, किसानों के हित के लिए रचनात्मक राजनीति करें. केजरीवाल और उनकी पार्टी ने कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों का समर्थन किया है. केजरीवाल ने शुक्रवार को ट्वीट किया था कि भाजपा कहती है कि इन कानूनों से किसानों को नुकसान नहीं होगा. लेकिन उनका क्या लाभ है.

मनोज तिवारी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कृषि कानूनों के लाभ के बारे में बताया तथा केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने बार-बार आश्वासन दिया है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) और मंडियां बनी रहेंगी. तिवारी ने कहा कि इसके बाद भी, अगर अरविंद केजरीवाल को तीनों कृषि कानूनों में कोई लाभ नहीं दिखता है और उन्हें कुछ संदेह हैं, तो वह मेरा निमंत्रण स्वीकार कर सकते हैं. मुझे उन्हें कृषि कानूनों का लाभ बताने में खुशी होगी.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें