1. home Home
  2. national
  3. congress high command will not convince rebel navjot singh sidhu search for new state president of punjab begins vwt

Punjab Crisis : चरणजीत सिंह चन्नी ने दिया भरोसा, सिद्धू के साथ मिल-बैठकर सुलझा लेंगे मामला

बुधवार की सुबह पंजाब के मंत्री अमरिंदर सिंह राजा और परगट सिंह बागी नवजोत सिंह सिद्धू के घर पर उनसे मिलने गए थे. इस दौरान इन दोनों नेताओं ने उन्हें मनाने की बहुत कोशिश की.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि मेरी किसी से कोई व्यक्तिगत प्रतिद्वंद्विता नहीं है.
नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि मेरी किसी से कोई व्यक्तिगत प्रतिद्वंद्विता नहीं है.
Twitter

चंडीगढ़ : पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने बुधवार को कहा कि वे बागी हुए नवजोत सिंह सिद्धू के साथ मिल-बैठकर मामले को सुझला लेंगे. उन्होंने बुधवार को आयोजित प्रेसवार्ता में कहा कि अध्यक्ष पार्टी का हेड होता है, उसे मज़बूती से बात रखकर अपनी बात आगे लेकर आना होता है. मैंने आज भी नवजोत सिंह सिद्धू से फोन पर बात की है कि पार्टी सुप्रीम होती है. सरकार पार्टी की विचारधारा को मानती है और उसपर चलती है. आप आइये बैठकर बात कीजिए.

इससे पहले, बुधवार की सुबह पंजाब कांग्रेस में जारी घमासान के बीच प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे के बाद उनके घर पर कांग्रेसी नेताओं का जमावड़ा लगा रहा. इस बीच, खबर यह भी है कि कांग्रेस आलाकमान बागी हुए सिद्धू को अब अधिक और नहीं मनाया जाएगा. मीडिया की खबरों में इस बात का जिक्र किया जा रहा है कि पार्टी आलाकमान ने नए प्रदेश अध्यक्ष की तलाश तेज कर दिया है.

उधर, पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद बागी कांग्रेसी नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने बुधवार को कहा कि मेरा किसी से कोई व्यक्तिगत प्रतिद्वंद्विता नहीं है. उन्होंने कहा कि मेरे 17 साल के राजनीतिक कैरियर का एक उद्देश्य रहा है. मैंने आज तक बदलाव लाने और लोगों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए कदम उठाया है और यही मेरा राजनीतिक धर्म है.

उन्होंने कहा कि मैं पंजाब के मुद्दों के लिए लंबे समय तक लड़ता रहा. दागी नेताओं और अधिकारियों की व्यवस्था थी. अब आप उसी सिस्टम को दोबारा नहीं दोहरा सकते. मैं अपने सिद्धांतों पर कायम रहूंगा

उन्होंने कहा कि मैं अपनी नैतिकता और नैतिक अधिकार से समझौता नहीं कर सकता. मैं जो देख रहा हूं, वह पंजाब में मुद्दों और एजेंडा के साथ समझौता है. मैं आलाकमान का वेश नहीं बना सकता और न ही उन्हें भेष बदलने दे सकता हूं.

समाचार एजेंसी एएनआई की ओर से किए गए ट्वीट के अनुसार, बुधवार की सुबह पंजाब के मंत्री अमरिंदर सिंह राजा और परगट सिंह बागी नवजोत सिंह सिद्धू के घर पर उनसे मिलने गए थे. इस दौरान इन दोनों नेताओं ने उन्हें मनाने की बहुत कोशिश की कि वे अपना इस्तीफा वापस ले लें.

इस बीच, खबर यह भी है कि कांग्रेस आलाकमान ने पंजाब के प्रभारी हरीश रावत का दौरा रद्द कर दिया है. सूत्रों के हवाले से मीडिया में आ रही खबरों के अनुसार, कांग्रेस आलाकमान इस समय पूरी तरह मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के साथ खड़ा है. अब वह सिद्धू को मनाने के बजाए नए प्रदेश अध्यक्ष की तलाश शुरू कर दिया है. उधर, खबर यह भी है कि बुधवार को मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी कैबिनेट की आपात बैठक करेंगे.

हालांकि, इसके पहले खबर यह भी आ रही थी कि सिद्धू का कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष के पद से इस्तीफा देने के बाद उन्हें मनाने की कोशिश करेगी कि ऐसे नाजुक वक्त में वे अपना इस्तीफा वापस ले लें, लेकिन अब खबर आ रही है कि आलाकमान ने उन्हें मनाने का मन त्याग दिया है और उसने नए प्रदेश अध्यक्ष की तलाश शुरू कर दिया है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें