1. home Hindi News
  2. national
  3. bsf detected a cross border tunnel in samba foiled terrorists plan amarnath yatra amh

क्‍या अमरनाथ यात्रा है आतंकियों के निशाने पर ? BSF के आईजी ने सुरंग मिलने के बाद कही ये बात

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने जम्मू-कश्मीर के सांबा जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास एक भूमिगत सीमापार सुरंग का पता लगाया है. सीमा पार से निरंतर प्रयासों को विफल करने में BSF को सफलता प्राप्त हुई है. खासकर आगामी अमरनाथ यात्रा की बात करें तो सुरंग का पता लगाना एक बड़ी सफलता है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सीमापार सुरंग
सीमापार सुरंग
pti

जम्मू-कश्मीर में सुरंग मिलने के बाद सुरक्षाबल मुस्‍तैद हैं. जम्मू के सांबा इलाके में बाड़ के पास सामान्य क्षेत्र में एक संदिग्ध सुरंग मिलने के बाद सुरक्षा बढ़ा दी गई है. मामले को लेकर डी.के. बूरा (आईजी BSF जम्मू) ने कहा कि BSF को बुधवार शाम बड़ी सफलता मिली है. हमारी टीम का सुरंग तलाश से संबंधित जो अभ्यास चल रहा था, उसमें हमारी टीम ने एक सुरंग की तलाश की है जो लगभग 150 मीटर लंबी है. उन्होंने आगे कहा कि सीमा पार से जो घुसपैठ का लगातार प्रयास किया जा रहा है, उसे नाकाम करने में हम सफल रहे हैं.

क्‍या अमरनाथ यात्रा है आतंकियों के निशाने पर

डीके बूरा ने आगे बताया कि मैं सफलता के लिए बधाई देता हूं. उन्होंने कहा कि सुरंग की लंबाई 150 मीटर है. सीमा से बाड़ तक 100 मीटर और आगे 50 मीटर ये लंबी है. सीमा पार से निरंतर प्रयासों को विफल करने में हमें सफलता प्राप्त हुई है. खासकर आगामी अमरनाथ यात्रा की बात करें तो सुरंग का पता लगाना एक बड़ी सफलता है. आपको बता दें कि सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने जम्मू-कश्मीर के सांबा जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास एक भूमिगत सीमापार सुरंग का पता लगाया है. इसके बारे में संदेह है कि इसका इस्तेमाल आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के दो आत्मघाती हमलावरों ने किया था. इस खबर के बाद सुरक्षा बढ़ा दी गई है और सुरक्षाबल और चौकस हो गये हैं.

ऐसी सुरंगों की संख्या बढ़कर 11 हो गई

यहां आपको बता दें कि पीएम मोदी के दौरे के पहले जम्मू के सुंजवां इलाके में 22 अप्रैल को सीआईएसएफ की बस पर हमला करने के बाद सुरक्षा बलों ने दोनों आत्मघाती हमलावरों को मार गिराया था. उक्त घटना के लगभग एक पखवाड़े बाद सीमापार सुरंग की जानकारी सामने आई है. पिछले 16 महीनों में अंतरराष्ट्रीय सीमा के नीचे बीएसएफ द्वारा खोजी गई यह पहली ऐसी संरचना है, जिससे पिछले एक दशक में पता लगायी गई ऐसी सुरंगों की संख्या बढ़कर 11 हो गई है. यदि आपको याद हो तो पिछले साल, बल ने जनवरी में कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर में दो सुरंगों की जानकारी सामने आई थी. बीएसएफ जम्मू फ्रंटियर के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस बाबत ट्वीट किया गया और कहा गया कि बीएसएफ जम्मू के सतर्क सैनिकों ने सांबा अंतरराष्ट्रीय सीमा क्षेत्र के पास एक सुरंग का पता लगाया, पाकिस्तान के नापाक मंसूबों को विफल कर दिया गया.

संधू ने संदिग्ध सुरंग की कुछ तस्वीरें साझा की

मामले को लेकर बीएसएफ (जम्मू) के उप महानिरीक्षक एस पी एस संधू का बयान भी सामने आया है. उन्होंने कहा है कि सांबा में बाड़ के पास एक सामान्य क्षेत्र में एक छोटा सी जगह का पता चला है, जिसे एक संदिग्ध सुरंग माना जा रहा है. बल के जनसंपर्क अधिकारी संधू ने संदिग्ध सुरंग की कुछ तस्वीरें साझा की और कहा कि अंधेरे के कारण आगे की खोज नहीं की जा सकी. सुबह रोशनी में विस्तृत खोज की जाएगी. मीडिया रिपोर्ट की मानें तो 'अंतरराष्ट्रीय सीमा से 150 मीटर की दूरी पर और सीमा की बाड़ से 50 मीटर की दूरी पर एक नई खोदी गई सुरंग का पता लगाया गया है जो पाकिस्तानी चौकी चमन खुर्द (फियाज) के सामने है. ये भारत की ओर से 900 मीटर की दूरी पर है. इसकी शुरुआत सीमा चौकी चक फकीरा से लगभग 300 मीटर और अंतिम भारतीय गांव से 700 मीटर की दूरी पर है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें