29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Arvind Kejriwal की पत्नी सुनीता केजरीवाल को नहीं दी गई आमने-सामने मुलाकात की इजाजत, AAP का आरोप-जेल में हो रहा अमानवीय व्यवहार

Arvind Kejriwal : अरविंद केजरीवाल के साथ तिहाड़ जेल में अमानवीय व्यवहार हो रहा है, इस तरह का व्यवहार अपराधियों के साथ भी नहीं होता है. यह आरोप संजय सिंह ने लगाया है.

Arvind Kejriwal : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जेल के अंदर केंद्र सरकार और पीएम मोदी के इशारे पर प्रताड़ित किया जा रहा है. यह आरोप आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने शनिवार को लगाया. संजय सिंह ने कहा कि जेल के अंदर अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल को उनसे आमने-सामने मिलने की इजाजत नहीं दी गई. यह बहुत ही अमानवीय है.

केजरीवाल को न्यूनतम अधिकारों से वंचित किया जा रहा

संजय सिंह ने मीडिया के सामने कहा कि तीन बार प्रचंड बहुमत से चुने गए दिल्ली के मुख्यमंत्री से जिस तरह का बर्ताव किया जा रहा है, वह तिहाड़ जेल के इतिहास में कभी नहीं हुआ था. जेल में बंद केजरीवाल को उनके न्यूनतम अधिकारों से वंचित किया जा रहा है. संजय सिंह ने कहा कि जेल मैन्युअल यह कहता है कि किसी को भी जेल प्रशासन फेस टु फेस मुलाकात करा सकता है, लेकिन अरविंद केजरीवाल को इस अधिकार से वंचित किया गया और उन्हें अपनी पत्नी से आमने-सामने मिलने नहीं दिया गया.

सुनीता केजरीवाल को नहीं दी गई फेस टु फेस मुलाकात की इजाजत

ज्ञात हो कि जब अरविंद केजरीवाल की पत्नी ने उनसे मिलने के लिए आवेदन डाला, तो उनसे जेल प्रशासन ने यह कहा कि वे उनसे फेस टु फेस नहीं मिल सकती हैं, लेकिन उन्हें खिड़की के जरिए मिलने की इजाजत दी गई. संजय सिंह ने आरोप लगाया कि इस तरह का अमानवीय व्यवहार सिर्फ और सिर्फ अरविंद केजरीवाल के मनोबल को तोड़ने और प्रताड़ित करने के लिए किया जा रहा है. मैं पूरी जिम्मेदारी के साथ यह कह रहा हूं कि एक अपराधी को भी जेल में फेस टु फेस मिलने की इजाजत दी जाती है, लेकिन तीन बार के मुख्यमंत्री को खिड़की के जरिए पत्नी से मिलने दिया जा रहा है, जिसमें शीशा लगा हुआ है.

नरेंद्र मोदी कर रहे तानाशाह बनने की कोशिश

संजय सिंह ने कहा कि जेल प्रशासन तो मोहरा हैं, उन्हें भारत सरकार की ओर से इस तरह के आदेश दिए जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि आज हमारी लड़ाई लोकतंत्र को बचाने की है. मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से यह गुजारिश कर रहा हूं कि वे दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से उनके अधिकार ना छीने, जो उन्हें संविधान ने दिए हैं. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि तानाशाह बनने की कोशिश प्रधानमंत्री ना करें. गौरतलब है कि अरविंद केजरीवाल को शराब घोटाला मामले में ईडी ने 21 मार्च को गिरफ्तार किया था. एक अप्रैल से वे 15 दिन की न्यायिक हिरासत में हैं. बीजेपी अरविंद केजरीवाल से लगातार नैतिकता के आधार पर इस्तीफा मांग रही है, लेकिन आप का कहना है कि केजरीवाल को किसी भी मामले में दोषी नहीं ठहराया गया है, इसलिए वे जेल से भी अपना काम करेंगे.

Also Read Lok Sabha Election 2024 : क्यों बीजेपी के स्टार प्रचारकों की सूची से हटाया गया एकनाथ शिंदे और अजीत पवार का नाम? जानें वजह

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें