1. home Hindi News
  2. national
  3. a face mask to kill the corona virus has been made in mumbai sur

मुंबई में बना 'कोरोना किलर मास्क'! कीमत से लेकर खासियत तक, जानें पूरी बात

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कोरोना वायरस फेस मास्क
कोरोना वायरस फेस मास्क
Photo: Twitter

नयी दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी को हराने के लिए अलग-अलग तरीके खोजे जा रहे हैं. वैक्सीन इसका स्थायी समाधान है लेकिन कई उपकरण भी बनाए गए जिसकी मदद से कोरोना को हराया जा सकता है. मुंबई में एक ऐसा ही मास्क बनाया गया है जिसके संपर्क में आते ही कोरोना वायरस का खात्मा हो जाता है. मुंबई के एक स्टार्टअप ने नैनोटेक्नॉलजी का इस्तेमाल करते हुए ये वैक्सीन तैयार किया है.

मुंबई स्थित स्टार्टअप ने बनाया ये मास्क

जानकारी के मुताबिक मुंबई में एक स्टार्टअप थरमैसेंस ने ये मास्क बनाया है. ये मास्क ना केवल कोरोना वायरस को मुंह और नाक के जरिए शरीर में प्रवेश करने से रोकता है बल्कि मास्क की बाहरी परत में चिपके वायरस का भी पूरी तरह से खात्मा कर देता है.

भारत और अमेरिकी लैब से मिली है मान्यता

दावा किया गया है कि इस मास्क को इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन फॉर स्टेंडर्डटाइजेशन प्रमाणित अमेरिकी प्रयोगशाला और भारत में नेशनल एग्रेडेशन बोर्ड फॉर टेस्टिंग कैलिब्रेशन लेब्रोटरी से मान्यता मिली है. मास्क को जिस कपड़े से बनाया गया है उसमें नैनोटेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है. कहा जा रहा है कि इस मास्क को धोकर 60 से लेकर 150 बार तक इस्तेमाल किया जा सकता है.

कोरोना वायरस का खात्मा करेगा मास्क

ये मास्क खास क्यों है. कंपनी ने इसका भी जवाब दिया है. यदि हवा में कोरोना का वायरस मौजूद है तो वो मास्क में चिपक जाता है. किसी समय आप मास्क को हाथ से छूते हैं. मास्क उतारकर फिर बिना हाथ धुले मुंह या नाक छूते हैं तो कोरोना वायरस आपके शरीर में प्रवेश कर जाता है. लेकिन, इस मास्क के संपर्क में आते ही कोरोना का वायरस मर जाता है.

कितनी होगी कोरोना किलर मास्क की कीमत

अमेरिकी लैब ने दावा किया है कि ये मास्क 5 मिनट में 93 प्रतिशत कोरोना वायरस को मार देता है. 1 घंटे में 99.99 प्रतिशत कोरोना वायरस का खात्मा कर देता है. मतलब कि इस वायरस में 100 फीसदी वायरस खात्मे की गारंटी है. कहा जा रहा है कि कोरोना के खात्मे के लिए बना ये मास्क जब बाजार में आएगा तो इसकी कीमत प्रति मास्क 300 रूपये से लेकर 500 रुपये तक होगी.

इस मास्क का कितनी बार उपयोग किया जा सकेगा, ये इस बात पर निर्भर करता है कि धोने के लिए किस माध्यम का इस्तेमाल किया गया है. कोरोना वायरस महामारी से निपटने की दिशा में ये सराहनीय प्रयास है.

Posted By- Suraj Thakur

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें