1. home Hindi News
  2. health
  3. gym and fitness center will open from tomorrow guidelines body building latest news lockdown unlock health news khul raha hai gym 1 november prt

आठ महीनों बाद कल से खुलेंगे जिम और फिटनेस सेंटर, इन गाइडलाइंस का करना होगा पालन

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date

Gym and Fitness Center : कोविड-19 के कारण राजधानी के सभी जिम और फिटनेस सेंटर 20 मार्च से बंद हैं. अब राज्य सरकार से इन सेंटर को एक नवंबर सेे खोलने की अनुमति मिल चुकी है. जिम संचालक गाइडलाइन का पालन करते हुए सैनिटाइज कराने से लेकर सभी इक्वीपमेंट्स को री-अरेंज करने में लग चुके हैं. कोई सात महीनों से बंद जिम को सैनिटाइज करा रहा है, तो कोई सोशल डिस्टैंसिंग के लिए घेरा बनाने की तैयारी में है. जिम संचालकों का कहना है कि राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देश के अनुरूप जिम को दोबारा खोला जायेगा. इसकी तैयारी चल रही है. सैनिटाइजेशन से लेकर सभी इक्वीपमेंट्स को फिर से व्यवस्थित किया जा रहा है. दूसरी तरफ जिम में पसीना बहानेवालों के चेहरे पर भी खुशी दिखने लगी है. सभी खुद को सेहतमंद बनाये रखने के लिए जिम जाने के लिए उत्सुक हैं. वह भी पूरी सुरक्षा के साथ.

ये होगा न्यू नॉर्मल

  1. हर बैच में सैनिटाइजेशन की व्यवस्था

  2. स्टाफ और ट्रेनर की कोविड टेस्ट रिपोर्ट को डिस्प्ले किया जायेगा

  3. जगह-जगह ऑटोमेटिक हैंड सैनिटाइजर की होगी व्यवस्था

  4. हाउस कीपिंग स्टाफ पीपीइ किट में एक्सरसाइज करायेंगे

  5. हर बैच में करीब 15-15 मेंबर शामिल होंगे

  6. मेंबर को मास्क, डिस्पोजेबल ग्लव्स दिया जायेगा

  7. हर ट्रेडमिल के बीच टेंपर्ड ग्लास लगा रहेगा

  8. इनक्वायरी करने वाले लोग को जिम में वर्चुवल विजिट कराया जायेगा

सेहत के लिए काफी अच्छा होता है सर्दी का मौसम : एक्सपर्ट कहते हैं कि जिम खुलने से नियमित व्यायाम करने वालों की परेशानी भी दूर होने जा रही है. इधर, सर्दी का मौसम भी सेहत के हिसाब से काफी उपयुक्त माना जाता है. आयुर्वेद व आधुनिक मेडिकल साइंस में भी सर्दी के मौसम को स्वास्थ्य के लिए गुणकारी माना गया है. इस मौसम में प्रकृति हमारे शरीर को तंदरूस्त रखने मेें मदद करती है. पाचनतंत्र बेहतर होता है. हर चीज आसानी से पच जाती है. इस मौसम मेें लोग बीमार भी कम पड़ते हैं. ऐसे में जिम में ज्यादा से ज्यादा पसीना बहाकर खुद को स्वस्थ रखा जा सकता है़

सबको विश्वास है कि जिंदगी फिर से पटरी पर लौटेगी : कोविड 19 के दौरान हुए लॉकडाउन के पहले से ही जिम, फिटनेस सेंटर बंद किये जा चुके थे. फिटनेस सेंटर बंद होने से सैकड़ों लोग बेरोजगारी की मार झेल रहे हैं. कई छोटे जिम संचालकों ने आर्थिक परेशानी को देखते हुए जिम बंद कर नये रोजगार की तलाश शुरू कर दी. कोई बचत के पैसे से घर-परिवार का खर्च उठाता रहा. इस लॉकडाउन में जिम संचालकों को लाखों रुपये का नुकसान हुआ. अब राज्य सरकार द्वारा जारी आदेश के बाद जिम संचालकों और उससे जुड़े कर्मियों की उम्मीद फिर से जग उठी है. सबको विश्वास है कि जिंदगी फिर से पटरी पर लौटेगी.

राजधानी में सौ से अधिक जिम : रांची में 100 से अधिक जिम हैं, जिसमें 10 से अधिक बड़े जिम हैं. गली-मोहल्ले में भी कई जिम सेंटर चलते हैं. लॉकडाउन के कारण इन सेंटर में काम करने वाले ट्रेनर, सफाई कर्मी, डाइटिशियन आदि की नौकरी दांव पर लगी थी. जिम संचालकों ने बताया कि बड़े जिम में 20-25 कर्मचारी, ट्रेनर, सफाई कर्मी आदि काम करते हैं. छोटे जिम में यह संख्या चार-पांच होती है. स्थिति यह हो गयी थी कि इसमें काम करने वाले कर्मचारी दूसरे रोजगार की ओर मुड़ चुके थे. कई जिम सेंटर, तो हमेशा के लिए बंद होने की स्थिति में पहुंचे चुके थे.

कहते हैं डॉक्टर : सर्दी का मौसम शरीर के लिए सबसे अच्छा समय माना जाता है. इस मौसम में आप जो चीज भी खाते हैं, वह अासानी से पच जाती है. इस मौसम में मिलने वाली साग-सब्जियों में मिलनेवाले पोषक तत्व ज्यादा गुणकारी होते हैं. मौसम में नमी होने के कारण वायरस का फैलाव तेजी से होता है. वायरस ज्यादा समय तक जिंदा भी रहता है, इसलिए इंफ्लूएंजा की चपेट में आने की संभावना रहती है. नियमित व्यायाम व संतुलित भोजन करें, तो यह सबसे हेल्दी मौसम है़

-डॉ विद्यापति, फिजिसियन रिम्स

जिम खुलने का इंतजार

काफी लंबे समय से जिम बंद होने के कारण घर में ही एक्सरसाइज कर रहे थे. अब खुद को फिट रखने के लिए जिम सावधानी के साथ जायेंगे. इक्वीपमेंट्स को टच करने से पहले उसे खुद सैनिटाइज जरूर करेंगे.

-प्रिंस, पिस्का मोड़

सुरक्षा के साथ एक्सरसाइज की तैयारी है. खुद ही सैनिटाइजर का उपयोग करूंगी़ सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करते हुए इक्विपमेंट्स का इस्तेमाल करना है़

- भावना प्रिया, नामकुम

ट्रेनर्स ने कहा

जीवन में पहली बार ऐसी परेशानी देखी : आठ महीने से घर में हूं. जिम और फिटनेस वाले जो इसी काम पर निर्भर थे, उनकी लाइफ रूक सी गयी थी. बमुश्किल जीवन कट रहा था. फैमिली को कैसे चलाया जाये, इसके लिए सोचने को विवश हुए. अब जिम खुलने के आदेश से फिर से उम्मीद जगी है. जीवन में पहली बार इस तरह की परेशानी का सामना करना पड़ा.

-अंजन विश्वकर्मा, फिटनेस एक्सपर्ट

हुआ लाखों रुपये का नुकसान : राज्य सरकार ने हमारी परेशानी को देखते हुए खोलने की अनुमति मिली है. गाइडलाइन का पालन करते हुए जिम को सैनिटाइज किया जा रहा है. इसकी तैयारी शुरू हो चुकी है. इक्वीपमेंट्स को री-अरेंज किया जा रहा है. अनलॉक मसीमित लोगों के साथ काम करने की तैयारी है, ताकि धीरे-धीरे जीवन पटरी पर लौटे.

-पीयूष, संचालक, फिटनेस जिम

सभी गाइडलाइन को किया जायेगा फॉलो : जिम संचालकों और उनसे जुड़े स्टाफ को काफी परेशानी हुई है. अब जब फिटनेस सेंटर खुलने का आदेश जारी हुआ है, तो पूरे दिशा-निर्देश का पालन करते हुए जिम खोलने की तैयारी है. इन सात-आठ महीने में लाखों रुपये का नुकसान उठाना पड़ा है. अब सुरक्षा की दृष्टि से सभी गाइडलाइन को फॉलो करना है.

-अनमोल शर्मा, तलवलकर्स

सोशल डिस्टैंसिंग का भी पूरा ख्याल रखा जायेगा : 20 मार्च से सभी फिटनेस सेंटर बंद हैं. इस कारण काफी परेशानी का सामना करना पड़ा. इस कोरोनकाल में करीब चार से पांच लाख रुपये का नुकसान हो चुका है. अब राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देश के अनुसार जिम खोलने की तैयारी है.जिम को सैनिटाइज किया जा रहा है. साथ ही सोशल डिस्टैंसिंग का भी पूरा ख्याल रखा जायेगा.

-सुनीता सरार्फ, फिटनेस सेंटर

Posted by : Pritish Sahay

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें