नगालैंड : बलात्कार के आरोपी की पीट कर हत्या, तीन अधिकारी निलंबित

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

दीमापुर/कोहिमा : नगालैंड के दीमापुर में बलात्कार के एक आरोपी को जेल से घसीट कर बाहर निकालने और भीड की पिटाई में उसके मारे जाने के एक दिन बाद पुलिस अधीक्षक और जेल अधीक्षक सहित शहर के तीन वरिष्ठ अधिकारियों को शुक्रवार को निलंबित कर दिया गया. साथ ही, घटना के न्यायिक जांच के भी आदेश दिए गए हैं. हालांकि, यहां स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में बताई जा रही है.पुलिस ने बताया कि भीड पर पुलिस गोलीबारी में घायल पांच लोगों में से एक व्यक्ति ने कल दम तोड दिया. मृतक की पहचान सवु के रुप में की गई है. दीमापुर में घटना के बाद पडोसी असम को केंद्र ने हाई अलर्ट पर रखा है क्योंकि बलात्कार का आरोपी फरीद खान इसी राज्य का माना जा रहा है. खान ने एक नगा महिला से कई बार बलात्कार किया था. उसे 25 फरवरी को गिरफ्तार किया गया था.

कथित बलात्कार से भडकी भीड बृहस्पतिवार को केंद्रीय कारागार में घुस गई, खान को बाहर निकाला और पीट पीट कर उसे मार डाला. नगालैंड के मुख्यमंत्री टीआर जेलियांग के प्रेस अधिकारी करई चवांग ने बताया कि राज्य कैबिनेट की एक बैठक में जिले के कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, केंद्रीय कारागार अधीक्षक को निलंबित करने का फैसला किया गया.

हालात पर काबू करने में नाकाम रहने को लेकर उन्हें निलंबित किया गया है. बैठक में उन सभी संदिग्ध लोगों को भी गिरफ्तार करने का फैसला किया गया है जिन्होंने जेल से संदिग्ध को खींच कर बाहर निकाला। आरोपी को नंगा कर दिया गया और पीट पीट कर उसे मार डाला गया.चवांग ने मृतक आरोपी की पहचान फरीद खान के रुप में की है. दीमापुर के पुलिस अधीक्षक मीरन जमीर ने इससे पहले बताया था कि भीड पर पुलिस गोलीबारी में एक व्यक्ति घायल हो गया. उन्होंने बताया कि कार्रवाई में कुल मिलाकर चार पांच लोगों को चोट पहुंची. जमीर ने बताया कि पुलिस जेल पर भीड के हमले को नहीं रोक सकी क्योंकि सुरक्षाकर्मी कम थे और भीड में कई स्कूली बच्चे शामिल थे.

बलात्कार के आरोपी के बांग्लादेशी प्रवासी होने की खबरों के बारे में पूछे जाने पर जमीर ने कहा, ‘‘फिलहाल मैं आपको कुछ नहीं कह सकता और यह जांच का विषय है.’’ गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि हमने नगालैंड सरकार से घटना के बारे में एक रिपोर्ट मंगाई है. गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों से घटना के बारे में बात की और उनसे आवश्यक कार्रवाई करने को कहा. केंद्र सरकार ने पडोसी राज्य असम को अलर्ट कर दिया है और इससे निगरानी बढाने को कहा है ताकि नगालैंड से लगी इसकी सीमाओं पर कोई अप्रिय घटना नहीं हो.

असम सरकार की विज्ञप्ति के मुताबिक टेलीफोन पर वार्ता में नगालैंड के मुख्यमंत्री जेलियांग ने गोगोई को बताया कि घटना की जांच शुरु कर दी गई है और दोषी पाए जाने वालों को सजा दी जाएगी. उन्होंने यह भी कहा कि यदि अधिकारियों की ओर से चूक हुई है तो उनके खिलाफ भी आवश्यक कदम उठाए जाएंगे.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें