CAA प्रदर्शन के दौरान पुलिस गोलीबारी में मारे गये दो लोगों के घर पहुंचे राहुल गांधी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

गुवाहाटी : कांग्रेस नेता राहुल गांधी सीएए विरोधी प्रदर्शन के दौरान सुरक्षाबलों की गोलीबारी में मारे गये सैम स्टैफोर्ड और दीपांजल दास के घर पहुंचे. संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ एक रैली को संबोधित करने के बाद राहुल यहां हातीगांव इलाके में स्थित स्टैफोर्ड के घर गये. गांधी एक दिवसीय असम दौरे पर थे.

उन्होंने 17 वर्षीय सैम की तस्वीर पर फूल चढ़ाकर उसे श्रद्धांजलि अर्पित की. सैम 12 दिसंबर को उस वक्त मारा गया जब उसके घर के पास सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों के खिलाफ पुलिस ने बल प्रयोग किया. स्टैफोर्ड के एक रिश्तेदार ने कहा कि कांग्रेस सांसद ने सैम के माता-पिता और परिवार के अन्य सदस्यों से मुलाकात कर अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की.

गांधी के साथ असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई और पार्टी के सांसद रिपुन बोरा व गौरव गोगोई भी थे. राहुल गांधी कामरूप जिले के चायगांव स्थित दास के घर भी गये. उन्होंने दास को श्रद्धांजलि देने के बाद उसके घरवालों से मुलाकात की और अपनी संवेदना व्यक्त की.

बेंगलुरु में सुरक्षा गार्ड की नौकरी करने वाली दीपांजल की बहन संगीता दास ने कहा, 'उन्होंने (राहुल गांधी) स्थानीय विधायक रिकीबुद्दीन अहमद से मेरे पिता को एक ई-रिक्शा देने और मेरे तथा मेरे दूसरे भाई के लिए गुवाहाटी में निजी क्षेत्र में नौकरी का इंतजाम करने को कहा है.' गुवाहाटी में 12 दिसंबर को सीएए का विरोध कर रहे लोगों पर पुलिस की गोलीबारी में दास की भी मौत हो गयी थी. राज्य में इस महीने सीएए विरोधी प्रदर्शन के दौरान सुरक्षाबलों की गोलीबारी में चार लोगों की जान चली गयी है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें