1. home Home
  2. entertainment
  3. bhojpuri
  4. khesari lal yadav life story from struggling days to becoming bhojpuri superstar

पापा चना बेचते थे तो एक्टर लिट्टी-चोखा, ऐसी गरीबी में गुजरा भोजपुरी सुपरस्टार Khesari Lal का बचपन

Khesari Yadav के लाखों चाहने वाले है, लेकिन इस सफलता के मुकाम तक पहुंचने के लिए उन्होंने बहुत संघर्ष मेहनत किया हैं. आज उनके पास गाड़ी, बंगला, बैंक बैंलेंस सबकुछ है, लेकिन उनका बचपन बेहद गरीबी में बीता है.

By Divya Keshri
Updated Date
Khesari Lal Yadav life story
Khesari Lal Yadav life story
Instagram

Bhojpuri news: भोजपुरी सुपरस्टार खेसारी लाल यादव (Khesari Lal Yadav) ने अपनी कड़ी मेहनत से इंडस्ट्री में अपनी पहचान बना ली हैं. आज वो किसी पहचान के मोहताज नहीं है. दुनिया भर में उनके लाखों चाहने वाले है, लेकिन इस सफलता के मुकाम तक पहुंचने के लिए उन्होंने बहुत संघर्ष किया हैं. आज उनके पास गाड़ी, बंगला, बैंक बैंलेंस सबकुछ है, लेकिन उनका बचपन बेहद गरीबी में बीता है.

खेसारी बताते हैं कि उनके पिता दिन में चना बेचते थे और रात में एक कंपनी में गार्ड का काम किया करते थे. खेसारी बताते हैं चने में प्याज डालने के लिये पैसा न होने पर कई बार उनके पिता सड़ा हुआ प्याज मार्केट से उठा लाते थे और सड़ा भाग निकालकर ठीक बची प्याज से चने बनाते थे.

खेसारी ने यह भी बताया कि उनके जन्म के वक्त उनका मिट्टी का घर बारिश में घर ढह गया था. गांव में जिनका ईंट का घर था, उनके यहां जाकर उनकी मां ने उन्हें जन्म दिया था. खेसारी बताते हैं कि वे बहुत छोटे ही थे तभी उनकी मां पिता जी की मदद करने दिल्ली चली गईं और वहीं रहने लगीं. दिल्ली में उनके पिता संजय कालोनी, ओखला में एक छोटी सी झोपड़ी में रहते थे.

खेसारी 6 साल के थे तबसे वे गांव पर ही अपने चाचा के साथ रह रहे थे. खेसारी के तीन भाई हैं. और उनके चाचा के चार लड़के हैं. आज भी वे संयुक्त परिवार में ही रहते हैं. खेसारी ज्यादा पढ़े-लिखे नहीं हैं. वे खुद बताते हैं कि उन्होंने मैट्रिक की परीक्षा दी है बस.

खेसारी बताते हैं कि बचपन में उनके सारे भाइयों के पास एक ही पैंट होता था, जो सबसे पहले खेसारी के बड़े भाई पहना करते थे. उसके बाद जब वह छोटा होने लगता था तो वही छोटे भाईयों को दे दिया जाता था. ऐसे पैंट ट्रांसफर होता रहता था. खेसारी बताते हैं कि विशेष अवसर पर एक ही तरह के कपड़े से सबके लिये कपड़े सिलवाये जाते थे. वे याद करते हैं सातों भाईयों ने बड़े भाई की शादी में एक जैसे ही कपड़े पहने थे.

खेसारी की तो शादी भी बहुत पहले हो गई थी वह भी बिना दहेज क्योंकि उनके पिता को यह मंजूर नहीं था. गानों के जरिए फेमस होने से पहले फेमस होने से पहले खेसारी और उनकी पत्नी ने लिट्टी-चोखा भी बेचा है. खेसारी रामायण, महाभारत गाने के शो किया करते थे. वे जागरण वगैरह में भी गाते थे. इन शो में मिल पैसे से कैसेट रिकॉर्ड कराया करते थे. करीब तीन कैसेट उनकी पहले फ्लॉप हो गई इसके बाद चौथी कैसेट से उनकी किस्मत बदली.

मनोज तिवारी ने 'ससुरा पड़ा पईसा वाला' से भोजपुरी सिनेमा को वह ट्रेंड दे दिया, जहां से हर भोजपुरी गायक हीरो बन रहा था. यही वह दौर था जब खेसारी की मेहनत रंग लाई और उनकी किस्मत बदल गई. आज खेसारी भोजपुरी सिनेमा के जाने-माने एक्टर हैं. उनके नाम कई सुपरहिट फिल्में हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें