30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Lok Sabha Elections 2024: भाजपा को वोट मांगने का अधिकार नहीं, अनुपमा सिंह को वोट देकर जिताएं, धनबाद में बोलीं कल्पना सोरेन

Lok Sabha Elections 2024: कल्पना सोरेन ने कहा कि भाजपा को वोट मांगने का अधिकार नहीं है. वह पहले अपना वादा पूरा करे, फिर वोट मांगे. उन्होंने लोगों से धनबाद से इंडिया गठबंधन की प्रत्याशी अनुपमा सिंह को वोट देकर जिताने की अपील की.

Lok Sabha Elections 2024: निरसा (धनबाद), अरिंदम-झामुमो नेत्री कल्पना सोरेन ने कहा कि यह भाजपा बनाम जनता का चुनाव है. जैसे-जैसे बूंद से सागर भरता है, वैसे ही इंडिया महागठबंधन केंद्र में सरकार बनाएगा. इस चुनाव में भाजपा को वोट मांगने का कोई अधिकार नहीं है. भाजपा अपने किए गए वादे के अनुसार पहले रोजगार दिलाने का काम करे, फिर वोट मांगे. वे रविवार को निरसा के रामकनाली काली मंदिर मैदान में इंडिया गठबंधन की प्रत्याशी अनुपमा सिंह के चुनाव प्रचार के लिए पहुंची थीं. उन्होंने कहा कि अभी तक के हुए चुनाव में जो रुझान आई है, उनमें से चार सीट इंडिया गठबंधन जीत चुका है. आप अपना आशीर्वाद महागठबंधन की प्रत्याशी अनुपमा सिंह को वोट के रूप में देते हैं तो धनबाद से गुंडागर्दी समाप्त हो जाएगी.

संविधान बदलने का प्रयास कर रही है भाजपा
कल्पना सोरेन ने कहा कि भाजपा संविधान को बदलने का प्रयास कर रही है. वर्ष 2014 में जनता को भूल-भुलैया में रखकर 2 करोड़ लोगों को सालाना रोजगार देने की जुमलेबाजी कर सत्ता में आई. 2014 में किसानों की आय दोगुनी करने का झूठ सपना दिखाकर जुमलेबाजी की. पहले भाजपा वादा पूरा करे. फिर वोट मांगने के लिए आए. दस साल से नौकरी का इंतजार कर रहे युवाओं की उम्र पार हो गयी और आज अग्निवीर लाकर युवाओं को ठगा जा रहा है. केंद्र सरकार काम करने पर नहीं, जुमलेबाजी पर विश्वास रखती है.

Also Read: झामुमो प्रत्याशी कल्पना सोरेन ने गिरिडीह में किया रोड शो, लोगों का उमड़ा जनसैलाब

हेमंत सोरेन को झूठे मुकदमे में जेल में डाल दिया
कल्पना सोरेन ने कहा कि भाजपा ने सोचा कि हेमंत सोरेन अगर बाहर रहेंगे तो इंडिया गठबंधन और भी मजबूत हो जायेगा. इसलिए उन्हें झूठे मुकदमे में जेल में डाल दिया गया. जनता सब बात जानती है और झारखंड की एक-एक जनता आज हेमंत सोरेन के रूप में खड़ी है. वर्ष 2014 से झारखंड में हर वर्ग त्रस्त था. 2019 में लोगों का प्यार भरा जनादेश महागठबंधन को मिला. यह बात भारतीय जनता पार्टी को हजम नहीं हुई. हेमंत सोरेन ने अपनी जान की परवाह किए बगैर बस, ट्रेन एवं हवाई जहाज से कोरोनाकाल में झारखंडियों को लाया.

संताली एवं हिंदी में बोलीं कल्पना सोरेन
संताली एवं हिंदी में कल्पना सोरेन ने सभा को संबोधित किया. कांग्रेस प्रत्याशी अनुपमा सिंह, बेरमो विधायक अनूप सिंह, झामुमो नेता अशोक मंडल सहित अन्य के नेतृत्व में कल्पना सोरेन का भव्य स्वागत किया गया. अध्यक्षता कांग्रेस के जिलाध्यक्ष संतोष सिंह एवं संचालन झामुमो के जिलाध्यक्ष लखी सोरेन ने किया. इस अवसर पर दुर्गा सोरेन सेना के केंद्रीय अध्यक्ष विशाल वाल्मीकि सहित अन्य झामुमो में शामिल हुए. भव्य आदिवासी नृत्य प्रस्तुत किया गया.

निरसा में पानी की समस्या करुंगी दूर
लोकसभा प्रत्याशी अनुपमा सिंह ने कहा कि निरसा की जनता के सम्मान के लिए कल्पना सोरेन यहां आई हैं. अगर मैं सांसद बनती हूं तो एक वर्ष के अंदर निरसा से पानी की समस्या दूर कर दी जाएगी. कांग्रेस पार्टी की सरकार अगर केंद्र में बनती है तो प्रत्येक घर की एक महिला के खाते में हर वर्ष एक लाख यानी महीना में 8 हजार 500 रुपए दिया जाएगा. केंद्र में सरकार बनते ही 6 महीने के अंदर 30 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दी जाएगी. केंद्र सरकार जुमलेबाजी में फंसा रही है. धनबाद में बीजेपी प्रत्याशी 53 केसों की फाइल लेकर घूम रहे हैं और वोट मांग रहे हैं. राजनीति में सेवा के लिए आई हूं. राजेंद्र बाबू की पुत्रवधू हूं.

महागठबंधन की प्रत्याशी को जिताएं
बेरमो विधायक अनूप सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने ही आपके यहां कॉल इंडिया, सिंदरी फर्टिलाइजर, डीवीसी का निर्माण करवाया. एससी, एसटी व ओबीसी का रिजर्वेशन, 1932 का सम्मान हेमंत सोरेन ने दिया. 65 हजार पारा शिक्षकों को स्थाई नौकरी हेमंत सोरेन सरकार ने दी. हेमंत सोरेन केवल झारखंड ही नहीं पूरे हिंदुस्तान के लोकप्रिय नेता बन गए थे. यह बात विपक्षियों को रास नहीं आई. जुमलेबाजों की सरकार धर्म के नाम पर लड़ाने का काम कर रही है. कोल इंडिया व डीवीसी को बचाना है तो महागठबंधन को ही जिताना है. झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता अशोक मंडल ने महागठबंधन की प्रत्याशी को जीत दिलाने का आह्वान किया.

मौके पर ये थे मौजूद
मौके पर झामुमो नेता अशोक मंडल, राजद के राष्ट्रीय परिषद के सदस्य नईम खान, जिला परिषद सदस्य गुलाम कुरैशी, राजू खान, पूर्व जिला अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद सिंह, धरणीधर मंडल, कंशरी मंडल, डीएन प्रसाद यादव, दुर्गा दास, नवीन सिंह, मन्नू आलम, लखी देवी, तारापदो धीवर, रमेश टुडू, अनुराग सरकार, अमितेश सहाय, मदन महतो, शमशेर आलम, बबलू दास, डॉ संतोष कुमार राय, अर्जुन भुइंया, नीलम मिश्रा, मुकेश सिंह, तपन तिवारी, अपर्णा तिवारी, कैलाश मोदी, आस्तिक बाउरी, शमीम अंसारी, प्रशांत हेंब्रम, काजल चक्रवर्ती, तारकेश्वर यादव, राजाराम तिवारी, रामनाथ सोरेन, राजू झा, शशि भूषण तिवारी, विनोद सिंह सहित काफी संख्या में लोग मौजूद थे.

Also Read: EXCLUSIVE: सत्ता संभालने के सवाल पर बोलीं कल्पना सोरेन- निर्णय आलाकमान को लेना है, जो जवाबदेही मिली, निभा रही हूं

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें