1. home Home
  2. world
  3. corona third wave has a big impact on children in america more than 2 lakh children infected in 7 days aml

कोरोना की तीसरी लहर का बच्चों पर बड़ा असर, अमेरिका में सच हो रही आशंका! 7 दिनों में 2.5 लाख बच्चे संक्रमित

अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स (आप) ने बुधवार को प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा कि अगस्त के अंतिम सप्ताह में 250,000 से अधिक बच्चों में कोविड-19 के ताजा मामले पाये गये थे.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
तीसरी लहर में बच्चों के संक्रमित होने की आशंका.
तीसरी लहर में बच्चों के संक्रमित होने की आशंका.
Twitter

नयी दिल्ली : कोरोना की तीसरी लहर बच्चों पर ज्यादा असर करेगी. ऐसी आशंका भारत के लिए जतायी गयी थी. अब यह आशंका अमेरिका में सच साबित होती दिख रही है. 7 दिनों में रिकॉर्ड 2.5 लाख बच्चे कोरोना संक्रमित हुए हैं. जानकारों का कहना है कि बिना तैयारी के स्कूल खोलने की वजह से बच्चे संक्रमित हो रहे हैं. हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक अभी 2500 से ज्यादा बच्चे अस्पतालों में हैं.

अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स (आप) ने बुधवार को प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा कि अगस्त के अंतिम सप्ताह में 250,000 से अधिक बच्चों में कोविड-19 के ताजा मामले पाये गये थे. कोविड-19 महामारी शुरू होने के बाद से नये बाल चिकित्सा मामलों की यह उच्चतम साप्ताहिक दर है. यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) के आंकड़ों से पता चला है कि बच्चों के अस्पताल ताजा कोविड-19 मामलों में उछाल के कारण तनाव में हैं.

6 सितंबर तक सप्ताह में लगभग 2,500 बच्चों को कोरोना संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था. सीडीसी की रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि अगस्त 2020 तक 55,000 से अधिक युवाओं को कोविड-19 के साथ अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जिनका कोई पूर्व चिकित्सा इतिहास नहीं था. हालांकि संक्रमण से संबंधित मौतें अभी भी बड़े पैमाने पर नहीं हुई हैं. फिर भी, बुधवार तक इस संक्रमण के कारण लगभग 520 बच्चों की मौत हो चुकी थी.

सीडीसी ने 3 सितंबर को एक रिपोर्ट जारी की जिसमें डेल्टा संस्करण के कारण बच्चों के अस्पताल में भर्ती होने की दर में पांच गुना वृद्धि देखी गई. इसी जून-अगस्त की अवधि में, चार साल से कम उम्र के बच्चों और 12 से 17 साल की उम्र के बच्चों के लिए अस्पताल में भर्ती होने की दर 10 गुना अधिक थी. 3 सितंबर की एक अन्य सीडीसी रिपोर्ट में पाया गया कि हालांकि जून से अगस्त तक बच्चों के लिए अस्पताल में भर्ती होने की दर बढ़ी, लेकिन उच्च टीकाकरण वाले राज्यों में वे कम थे.

रोचेस्टर मेडिकल सेंटर विश्वविद्यालय में बाल रोग की प्रोफेसर और एक सदस्य डॉ मैरी कैसर्टा ने कहा कि यह उन बच्चों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है जो टीकाकरण के योग्य हैं और उन्हें टीका लगाया जाना चाहिए. उन्होंने टीकाकरण के अलावा मास्क पहनने, हाथ धोने, हमारी सामाजिक दूरी बनाए रखने की भी सलाह दी है. उन्होंने कहा कि इसके अलाव अभी खुद को बचाने का कोई दूसरा तरीका नहीं है.

एक रिपोर्ट के अनुसार सभी अमेरिकी राज्यों में कोरोना संक्रमण मामलों में वृद्धि देखी गई है, लेकिन पूरे देश में संख्या असमान रही है. 11 राज्यों ने पिछले सप्ताह 150,000 से अधिक बाल चिकित्सा मामलों और तीन राज्यों में 10,000 से कम बाल चिकित्सा मामलों की रिपोर्ट की. टेनेसी, साउथ कैरोलिना, रोड आइलैंड, नॉर्थ डकोटा, अर्कांसस और मिसिसिपी में प्रति 100,000 बच्चों पर सबसे ज्यादा मामले हैं.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें