1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. twitter bans misleading ads related to climate change rjv

Twitter ने जलवायु परिवर्तन से जुड़े भ्रामक विज्ञापनों पर लगायी रोक, पढ़ें पूरी खबर

कंपनी ने हाल ही में अपनी नयी नीति को रेखांकित करते हुए एक बयान में कहा, विज्ञापनों को जलवायु संकट के बारे में महत्वपूर्ण चर्चा से अलग नहीं होना चाहिए.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
twitter
twitter
fb

Twitter, Climate Change: ट्विटर ने कहा है कि वह अब अपनी साइट पर उन विज्ञापनदाताओं को अनुमति नहीं देगा, जो जलवायु परिवर्तन पर वैज्ञानिक मत से असहमति रखते हैं. ट्विटर के वैश्विक स्थिरता प्रबंधक केसी जुनोद ने ब्लॉग पोस्ट में कहा, हम मानते हैं कि ट्विटर पर जलवायु इनकारवाद का मुद्रीकरण नहीं किया जाना चाहिए, और यह कि गलत तरीके से प्रस्तुत करने वाले विज्ञापनों को जलवायु संकट के बारे में महत्वपूर्ण बातचीत से अलग नहीं होना चाहिए.

माइक्रोब्लॉगिंग साइट ने गूगल की नीति की तर्ज पर यह फैसला लिया है. कंपनी ने हाल ही में अपनी नयी नीति को रेखांकित करते हुए एक बयान में कहा, विज्ञापनों को जलवायु संकट के बारे में महत्वपूर्ण चर्चा से अलग नहीं होना चाहिए. यह घोषणा पृथ्वी दिवस के अवसर पर की गयी.

माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने पृथ्वी दिवस के मौके पर जलवायु परिवर्तन को लेकर वैज्ञानिक सहमति के खिलाफ जाने वाले भ्रामक विज्ञापनों पर प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया है. बकौल ट्विटर, हमारे प्लैटफॉर्म पर जलवायु परिवर्तन से संबंधित भ्रामक विज्ञापनों के जरिये पैसे कमाने का काम और इनकी वजह से जलवायु संकट पर महत्वपूर्ण चर्चा से भटकाव नहीं होना चाहिए.

नयी नीति के तहत ट्विटर पर भ्रामक विज्ञापन जो जलवायु परिवर्तन पर वैज्ञानिक सहमति का खंडन करते हैं. प्रतिबंध होंगे, जिसमें ऐसे अभियान शामिल हैं जिनमें हिंसा, अपवित्रता या व्यक्तिगत हमले शामिल है. हालांकि, कंपनी ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि क्या इस बदलाव से यूजर्स के पोस्ट पर असर पड़ेगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें