1. home Hindi News
  2. state
  3. west bengal
  4. ministers of mamata banerjee cabinet contesting election from bjp and congress side all details you want to know about bengal chunav fourth phase election 2021 mtj

चौथे चरण का चुनाव 10 अप्रैल को, ममता बनर्जी की कैबिनेट के एक मंत्री भाजपा, दूसरे कांग्रेस के टिकट पर लड़ रहे चुनाव

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
चुनाव से पहले ममता बनर्जी को छोड़ गये कई विधायक और मंत्री
चुनाव से पहले ममता बनर्जी को छोड़ गये कई विधायक और मंत्री
प्रभात खबर

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में चौथे चरण का चुनाव 10 अप्रैल को होने जा रहा है. इस चरण में ममता बनर्जी की कैबिनेट के एक मंत्री भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं, तो दूसरे मंत्री कांग्रेस के टिकट पर चुनाव के मैदान में तृणमूल कांग्रेस के खिलाफ ताल ठोंक रहे हैं.

ममता बनर्जी कैबिनेट के वन मंत्री रहे राजीव बनर्जी ने चुनाव की घोषणा से पहले भाजपा का दामन थाम लिया और हावड़ा जिला के डोमजूर से विधानसभा का चुनाव लड़ रहे हैं. क्रिकेटर लक्ष्मीरतन शुक्ला इसी जिला से विधायक चुने गये थे. ममता बनर्जी ने उन्हें खेल मंत्री की जिम्मेदारी सौंपी थी.

लक्ष्मीरतन शुक्ला ने चुनाव से पहले ही मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने खेल की सेवा करने के उद्देश्य से मंत्री पद से इस्तीफा दिया. कहा जा रहा था कि शुक्ला भी भाजपा में शामिल होंगे, लेकिन पूर्व क्रिकेटर ने अब तक ऐसा नहीं किया गया. हावड़ा जिला से ममता की कैबिनेट में तीन मंत्री बनाये गये थे, उनमें से सिर्फ अरूप राय विधानसभा का चुनाव लड़ रहे हैं.

हुगली जिला से भी ममता ने तीन विधायकों को मंत्री बनाया था. इनमें से एक अब्दुल मन्नान इस बार चांपदानी से चुनाव लड़ रहे हैं. वह कांग्रेस के टिकट पर तृणमूल कांग्रेस को चुनौती दे रहे हैं. तृणमूल ने चांपदानी से अब्दुल मन्नान की जगह अरिंदम गाईन को अपना उम्मीदवार बनाया है.

दक्षिण 24 परगना जिला से कैबिनेट में चार विधायकों को जगह मिली थी. इनमें से अब्दुर रज्जाक मोल्ला का टिकट तृणमूल ने काट दिया है. वह भांगड़ से चुनाव लड़ते थे. जावेद अहमद खान को कसबा से, पार्थ चटर्जी को बेहला पश्चिम से और अरूप विश्वास को टालीगंज से फिर से टिकट दिया गया है.

उत्तर बंगाल में विनय कृष्ण बर्मन का टिकट कटा

उत्तर बंगाल के कूचबिहार जिला से दो लोगों को ममता बनर्जी की पिछली सरकार में मंत्री बनाया गया था. अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित माथाभांगा सीट से जीतकर विधानसभा पहुंचे विनय कृष्ण बर्मन और नाटाबाड़ी के विधायक रवींद्रनाथ घोष को ममता की सरकार में मंत्री बनाया गया था.

इस बार विनय कृष्ण बर्मन का टिकट काट दिया गया. उनकी जगह माथाभांगा से गिरींद्र नाथ बर्मन को चुनाव लड़ाया जा रहा है. तृणमूल कांग्रेस ने तीन मंत्री का टिकट काट दिया. हावड़ा, हुगली, दक्षिण 24 परगना और कूचबिहार से पिछली कैबिनेट में 12 मंत्री थे, इनमें से सिर्फ 7 ही वर्ष 2021 का चुनाव लड़ रहे हैं.

उल्लेखनीय है कि चौथे चरण में प्रदेश के 5 जिलों की 44 सीटों पर विधानसभा के चुनाव होने जा रहे हैं. चौथे चरण के लिए हावड़ा की 9, दक्षिण 24 परगना की 11, हुगली जिला की 10, अलीपुरदुआर जिला की 5 और कूचबिहार की 9 विधानसभा सीटों के लिए 10 अप्रैल को मतदान होना है.

तृणमूल को चुनौती दे रहे हैं ममता कैबिनेट के ये मंत्री

  • राजीव बनर्जी ने तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया और डोमजूर से चुनाव लड़ रहे हैं.

  • अब्दुल मन्नान का तृणमूल ने टिकट काटा, तो वह कांग्रेस में शामिल हो गये और चांपदानी से ही टीएमसी को चुनौती देने के लिए तैयार हैं.

इन 7 मंत्रियों को फिर से मिला टिकट

  • हावड़ा मध्य से अरूप रॉय को फिर से पार्टी ने चुनाव लड़ने का मौका दिया है.

  • सप्तग्राम से तपन दासगुप्ता एक बार फिर तृणमूल के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे.

  • चंदननगर से इंद्रनील सेन फिर से चुनाव लड़ रहे हैं.

  • कसबा से पार्टी ने जावेद अहमद खान को फिर से अपना उम्मीदवार बनाया है.

  • बेहला पश्चिम से शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी पर ममता बनर्जी ने फिर से भरोसा जताया है.

  • टॉलीगंज से अरूप विश्वास को फिर से टिकट दिया गया है.

  • कूचबिहार के नाटाबाड़ी विधानसभा सीट से पिछला चुनाव जीतने वाले रवींद्रनाथ घोष को फिर से तृणमूल का टिकट मिला है.

टिकट कटने के बाद नहीं की TMC से बगावत

  • दक्षिण 24 परगना के भांगड़ से चुनाव जीतने वाले अब्दुर रज्जाक मोल्ला का टिकट तृणमूल ने काटा, तो उन्होंने बगावत नहीं की.

  • कूचबिहार जिला में अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित विधानसभा सीट माथभांगा से विनय कृष्ण बर्मन का टिकट कटा, तो भी वह पार्टी के साथ बने रहे.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें