26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सोशल मीडिया के जरिये फिदायीन दस्ता तैयार करने की तैयारी में था हबीबुल्लाह

मोहम्मद हबीबुल्लाह बांग्लादेश में सक्रिय अपने आतंकवादी संगठन के आकाओं के कहने पर बंगाल में आतंकी मॉड्यूल तैयार कर रहा था. उसका प्रमुख कार्य इस संगठन से जुड़ने वाले नये युवाओं का ब्रेन वॉश करना था.

संवाददाता, कोलकाता/पानागढ़

पश्चिम बर्दवान जिले के कांकसा थाना क्षेत्र के मीर पाड़ा इलाके से शनिवार को छापामारी अभियान चलाकर राज्य पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने बांग्लादेश में प्रतिबंधित आतंकी संगठन अंसार-उल-इस्लाम के साथ जुड़े होने के संदेह में एक युवक को गिरफ्तार किया. गिरफ्तार आरोपी मोहम्मद हबीबुल्लाह (21) को रविवार को दुर्गापुर महकमा अदालत में पेश किया गया. कोर्ट ने आरोपी को 14 दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया.

एसटीएफ सूत्रों ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी से प्राथमिक पूछताछ के बाद पता चला कि वह पश्चिम बर्दवान में ‘शहादत’ नामक आतंकी मॉड्यूल तैयार कर रहा था. एसटीएफ को जानकारी मिली है कि सोशल मीडिया का उपयोग कर वह अपने आतंकी मॉड्यूल के लिए फिदायीन दस्ता तैयार कर रहा था. मोहम्मद हबीबुल्लाह बांग्लादेश में सक्रिय अपने आतंकवादी संगठन के आकाओं के कहने पर बंगाल में आतंकी मॉड्यूल तैयार कर रहा था. उसका प्रमुख कार्य इस संगठन से जुड़ने वाले नये युवाओं का ब्रेन वॉश करना था.

एसटीएफ को जानकारी मिली है कि हबीबुल्लाह सोशल मीडिया पर जाल फैलाकर पढ़े-लिखे युवकों को अपने गिरोह से जोड़ने का प्रयास करता था. इस्लामिक कट्टरपंथ में किसकी दिलचस्पी है, इसका पता लगाता था. इसके बाद ऑडियो मैसेज भेजकर उनका ब्रेनवॉश करता था. सूत्रों का दावा है कि हबीबुल्लाह को भी इसी तरह इस संगठन से जोड़ा गया था. कंप्यूटर साइंस का यह छात्र अपना ज्यादातर समय मोबाइल और लैपटॉप पर बिताता था. पड़ोसियों का दावा है कि वह इलाके में किसी से ज्यादा मेल-जोल नहीं रखता था. उसकी गिरफ्तारी के बाद उसके साथ इलाके में रहनेवाले निवासी यह स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं कि हबीबुल्लाह इतना भयावह उग्रवादी संगठन से जुड़ा होगा.

एसटीएफ सूत्रों को अबतक की पूछताछ में जो जानकारी मिली है, उससे माना जा रहा है कि हबीबुल्लाह ने ‘शहादत’ नामक जो नया मॉड्यूल तैयार करना शुरू किया था, उसका अर्थ है, आत्म-शहादत, यानी आत्मघाती आतंकवादी या ‘फिदायीन’. जिनमें जिहाद के लिए अपनी जान देने में संकोच न करने का दृढ़ संकल्प हो. सूत्रों का दावा है कि सलाहुद्दीन नासिर गिरोह का सरगना है, जो विदेश में छिपकर हबीबुल्लाह के जरिये इस आतंकी मॉड्यूल को संचालित कर रहा था. एसटीएफ की टीम उसतक पहुंचने की कोशिश कर रही है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें