36.2 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

रामपुरहाट एक ब्लॉक के तृणमूल कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष बने अभिषेक बनर्जी के मामा, राजनीतिक दलों में घमासान जारी

अभिषेक के मामा निहार मुखोपाध्याय और मामी पम्पा मुखोपाध्याय पिछले कुछ वर्षों से कुसुम्बा पंचायत में सक्रिय राजनीति में हैं. हालांकि, अभिषेक की मामी पम्पा मुखोपाध्याय को पंचायत चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार ने हरा दिया था.

बीरभूम, मुकेश तिवारी : पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले के रामपुरहाट एक ब्लॉक के तृणमूल कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष के रूप में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Chief Minister Mamata Banerjee) के भाई और सांसद तथा तृणमूल कांग्रेस के महासचिव अभिषेक बनर्जी के मामा निहार मुखोपाध्याय को बनाया गया हैं. लोकसभा चुनाव से पहले हुए फेरबदल के बाद निहार मुखोपाध्याय को बीरभूम के रामपुरहाट एक ब्लॉक के अध्यक्ष का प्रभार मिला है. जिसे लेकर तृणमूल कांग्रेस के पार्टी नेताओं के साथ ही अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं, कार्यकर्ताओं के बीच शोरगुल शुरू हो गया है. इससे पहले इस पद पर सैयद सिराज जिम्मी कार्यरत थे .रामपुरहाट एक ब्लॉक के बड़साल ग्राम पंचायत के तहत ही बोगतुई गांव में गत वर्ष 21 मार्च को बम और गोली मारकर तृणमूल के नेता तथा उप प्रधान भादु शेख की हत्या के कारण बच्चों समेत 10 निर्दोष ग्रामीणों को जिंदा जलाकर हत्या कर दी गई थी.

मामा निहार मुखोपाध्याय कुसुम्बा पंचायत में सक्रिय राजनीति में हैं

घटना के दो दिन बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घटना स्थल का दौरा किया. आरोप तत्कालीन रामपुरहाट एक ब्लॉक के तृणमूल ब्लॉक अध्यक्ष अनारुल हुसैन पर लगा था. इसके बाद मुख्यमंत्री ने उन्हें पद से हटाने और गिरफ्तार करने का आदेश दिया था. बीरभूम जिला तृणमूल कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष व दबंग नेता अनुब्रत मंडल के नेतृत्व में सैयद सिराज जिम्मी को ब्लॉक अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी गयी थी. तब से वह रामपुरहाट एक ब्लॉक के तृणमूल पार्टी ब्लॉक अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाल रहे थे.अभिषेक के मामा निहार मुखोपाध्याय और मामी पम्पा मुखोपाध्याय पिछले कुछ वर्षों से कुसुम्बा पंचायत में सक्रिय राजनीति में हैं.

Also Read: Photos : केंद्रीय विद्यालय आसनसोल में कौशल दीक्षांत समारोह का सीधा प्रसारण, छात्रों ने उठाया लुत्फ
तृणमूल कांग्रेस में कोई न्यूनतम लोकतंत्र नहीं है : संजीव बर्मन

हालांकि, अभिषेक की मामी पम्पा मुखोपाध्याय को पंचायत चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार ने हरा दिया था. इसके अलावा गत वर्ष ही जब अभिषेक बनर्जी की नवजोआर यात्रा बीरभूम पहुंची थी तब अभिषेक बनर्जी अपने मामा के घर भी गए थे. इसके बाद प्रदेश तृणमूल कांग्रेस पार्टी की ओर से राज्य भर के तृणमूल कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष की जारी तालिका में रामपुरहाट एक ब्लॉक के तृणमूल कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष के रूप में निहार मुखोपाध्याय को अध्यक्ष नियुक्त किया गया. विपक्ष ने इसे भाई-भतीजावाद की राजनीति बताकर इसकी आलोचना की है.इस संदर्भ में सीपीएम नेता संजीव बर्मन ने कहा, ”तृणमूल कांग्रेस में कोई न्यूनतम लोकतंत्र नहीं है ? वे जमींदारी प्रथा में विश्वास करते हैं, जमींदार ही पार्टी चलाते हैं.

Also Read: WB News : कोलकाता पुस्तक मेले का आगाज कल से, ममता बनर्जी करेंगी बुक फेयर का उद्घाटन
भाजपा ने भी तृणमूल पार्टी को परिवार वाद पर किया कटाक्ष 

उस परंपरा के मुताबिक अभिषेक बनर्जी के मामा को यह पद संभालने के लिए दिया गया है. इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं है. जब ममता बनर्जी ने ज़िम्मी को ब्लॉक अध्यक्ष बनाया वो भी जमींदारी प्रथा के अनुरूप और अब पार्टी का फैसला भतीजा लेता है. अब मामा को जिम्मेदारी दी गई है. ब्लॉक के पूर्व अध्यक्ष सैयद सिराज जिम्मी ने कहा, मैं ममता बनर्जी का सिपाही हूं. मुझे जो जिम्मेदारी दी गई है, मैं उसे पूरा करूंगा.’ मैं पद के लिए राजनीति नहीं करता. मैं लोगों की सेवा के लिए राजनीति करता हूं. इसलिए मुझे इस बात का कोई अफसोस नहीं है. लेकिन इसे लेकर भाजपा के नेताओं ने तृणमूल पार्टी को परिवार वाद की पार्टी करार देकर तीखी आलोचना कर रही है.

Also Read: ईडी टीम पर हमले के बाद बोले शुभेंदु अधिकारी : भयानक! बंगाल में कानून-व्यवस्था बदहाल, राज्य में रोहिंग्या

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें