22.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

पश्चिम बंगाल: बंद मकान में धड़ल्ले से बनाई जा रही थीं नकली दवाइयां, एक करोड़ की नकली दवा बनाने की सामग्री जब्त

STF Raid: पश्चिम बंगाल स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने छापेमारी कर नकली नशीली दवाइयों के अलावा ब्रांडेड कंपनियों की नकली दवाइयां बनानेवाली सामग्री बरामद की है.

कोलकाता, विकास कुमार गुप्ता: पश्चिम बंगाल पुलिस के स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) की टीम ने नकली नशीली दवाइयों के अलावा ब्रांडेड कंपनियों की नकली दवाइयां बनानेवाले एक ठिकाने का पर्दाफाश किया है. हुगली जिले के मगरा थानाक्षेत्र में स्थित खाली पड़े एक मकान के भीतर चोरी-छिपे चल रही ब्रांडेड कंपनियों की नकली दवाइयां बनाने वाली फैक्ट्री से एक करोड़ रुपये से ज्यादा की नकली दवाइयां बनाने की सामग्री जब्त की गयी हैं. इसके अलावा जिन मशीन से नकली दवाइयां बनायी जाती थीं, उन मशीनों के अलावा नकली दवा बनाने के लिए जिन केमिकल का इस्तेमाल किया जाता था, उन्हें जब्त कर लिया गया है. एसटीएफ की तरफ से जिले के ड्रग कंट्रोलर अधिकारी को भी इसकी सूचना दी गयी है. इधर, इस घटना के बाद से उस मकान को सील कर दिया गया है.

कैसे हुआ खुलासा
एसटीएफ सूत्र बताते हैं कि 21 फरवरी को कांचरापाड़ा-गाईघाटा रोड में बंगाल एसटीएफ की टीम ने गुप्त जानकारी के आधार पर 40 लाख रुपये मूल्य की नशीली दवा से भरी एक ट्रक को कब्जे में ले लिया था. उस ट्रक के चालक उपेंद्र कुमार महतो जो कोलकाता के मेंगोलेन का रहनेवाला है, उसे गिरफ्तार कर लिया था. उपेंद्र से पूछताछ में पता चला कि यह दवाइयां बनगांव इलाके में वह ले जा रहा था. इसके बाद इसे बांग्लादेश भेजा जाना था. उपेंद्र से पूछताछ में यह भी पता चला कि हुगली जिले के मगरा थानाक्षेत्र में स्थित एक मकान है, जिसका मेन गेट बाहर से हमेशा बंद रहता है. इस मकान के भीतर बड़ी फैक्ट्री है, जिसमें ही चोरी-छिपे यह नशीली दवाओं के अलावा अन्य ब्रांडेड कंपनियों की नकली दवाइयां बन रही हैं. वहीं से वह जब्त की गयी 40 लाख की दवाओं को ट्रक में लोड किया था.

ED Raid in Bengal: TMC के फरार नेता शाहजहां शेख के करीबियों के यहां ईडी की छापेमारी, जानें मामला

मकान में घुसते ही पुलिस अधिकारियों के उड़े होश
पुलिस सूत्र बताते हैं कि उपेंद्र से मिली जानकारी के बाद जब वे हुगली जिले के मगरा इलाके में उक्त मकान में गये तो वहां नशीली दवाइयों की नकली दवा बनाने के लिए मशीन, प्लास्टिक का डब्बा, ब्रांडेड कंपनियों का लेबल और काफी तरह का पाउडर और केमिकल जब्त किया गया. इस जानकारी के बाद पुलिस ने उस गोदाम में मौजूद करीब एक करोड़ रुपये मूल्य की नकली दवाइयां बनानेवाली केमिकल एवं पाउडर के अलावा वहां मौजूद अन्य सामग्री को जब्त कर लिया है. इसके बाद पूरे गोदाम व मकान को सील कर दिया गया है. रेड के समय वहां कोई मौजूद नहीं मिला. एसटीएफ की टीम अब इस गिरोह के अन्य सदस्यों तक पहुंचने के लिए लगातार छापेमारी कर रही है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें