25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Chaitra Navratri 2023: चैत्र नवरात्रि आज से शुरू, यहां जानिए शुभ मुहूर्त, कलश स्थापना विधि और पूरी तिथि

Chaitra Navratri 2023: हिंदू धर्म में चैत्र नवरात्रि का खास महत्व है. पूरे नौ दिन भक्त श्रद्धा से माता रानी की आराधना करते हैं. आइए जानते हैं क्या कहते हैं पंडित जितेंद्र शास्त्री से चैत्र नवरात्रि कब है. शुभ मुहूर्त कब है, चैत्र नवरात्रि 2023 तिथि, कलश स्थापना विधि के बारे में पूरी जानकारी.

Chaitra Navratri 2023: हिंदू धर्म में चैत्र नवरात्रि का खास महत्व है. नवरात्रि के पूरे नौ दिनों को मां दुर्गा का दिन कहा जाता है. पूरे नौ दिन भक्त श्रद्धा से माता रानी की आराधना करते हैं. इस साल 2023 चैत्र नवरात्रि 22 मार्च से शुरू है. आइए जानते हैं क्या कहते हैं पंडित जितेंद्र शास्त्री, कब है चैत्र नवरात्रि, शुभ मुहूर्त कब है, चैत्र नवरात्रि 2023 पूरी तिथि, कलश स्थापना विधि के बारे में.

चैत्र नवरात्रि 2023 कब है (Chaitra Navratri 2023 Date)

इस बार चैत्र नवरात्रि की शुरुआत 22 मार्च से है. पंडित जितेंद्र शास्त्री ने बताया इस साल चैत्र नवरात्रि (Chaitra Navratri Kab Hai) 22 मार्च दिन बुधवार से आरंभ है और समापन 30 मार्च 2023 को है.

Also Read: Chaitra Navratri 2023 Live: चैत्र नवरात्रि आज से शुरू, जानें घटस्थापना मुहूर्त, पूजा विधि और डिटेल्स
चैत्र नवरात्रि शुभ मुहूर्त

पंडित जितेंद्र शास्त्री के अनुसार चैत्र नवरात्रि का शुभ मुहूर्त (Chaitra Navratri 2023 Shubh Muhurat) 22 मार्च 2023 दिन बुधवार से सुबह 6 बजकर 30 मिनट से शुरू है और उसी दिन सुबह 7 बजकर 32 तक है. इस शुभ मुहूर्त में घट स्थापना यानी कलश स्थापना करना चाहिए.

चैत्र नवरात्रि 2023 पूरी तिथि (Chaitra Navratri 2023 Tithi)

  • चैत्र नवरात्रि (Chaitra Navratri ) प्रथम दिन (22 मार्च 2023) – प्रतिपदा तिथि, मां शैलपुत्री पूजा, कलश स्थापना है.

  • चैत्र नवरात्रि (Chaitra Navratri ) दूसरा दिन (23 मार्च 2023) – द्वितीया तिथि, मां ब्रह्मचारिणी की पूजा होगी.

  • चैत्र नवरात्रि (Chaitra Navratri) तीसरा दिन (24 मार्च 2023) – तृतीया तिथि, मां चंद्रघण्टा की पूजा होगी.

  • चैत्र नवरात्रि (Chaitra Navratri) चौथा दिन (25 मार्च 2023) – चतुर्थी तिथि, मां कुष्माण्डा की पूजा होगी.

  • चैत्र नवरात्रि (Chaitra Navratri) पांचवां दिन (26 मार्च 2023) – पंचमी तिथि, मां स्कंदमाता की पूजा होगी.

  • चैत्र नवरात्रि छठा दिन (27 मार्च 2023) – षष्ठी तिथि, मां कात्यायनी की पूजा होगी.

  • चैत्र नवरात्रि सातवां दिन (28 मार्च 2023) – सप्तमी तिथि, मां कालरात्री की पूजा होगी.

  • चैत्र नवरात्रि आठवां दिन (29 मार्च 2023) – अष्टमी तिथि, मां महागौरी की पूजा, महाष्टमी है.

  • चैत्र नवरात्रि नवां दिन (30 मार्च 2023) – नवमी तिथि, मां सिद्धीदात्री पूजा, दुर्गा महानवमी, राम नवमी(Ram Navami 2023) (दसवें दिन नवरात्रि व्रत का पारण किया जाएगा)

Also Read: Chaitra Navratri 2023 कब है? 21 या 22 मार्च, जानें सही तारीख, शुभ मुहूर्त और कलश स्थापना विधि
चैत्र नवरात्रि कलश स्थापना विधि

  • चैत्र नवरात्रि मां देवी को पूरी तरह से समर्पित होते हैं. नवरात्रि के पहले ही दिन घटस्थापना यानी कलश स्थापना की जाती है. यह दिन बेहद खास होता है.

  • कलश स्थापना शुरू करने से पहले सूर्य के उदय होने से पहले उठे और मां धरती का आशीर्वाद लेते हुए, नहाकर साफ कपड़ा पहने.

  • जिस जगह पर कलश को स्थापित करना है उस स्थान को साफ कर लें.

  • लाल रंग का कपड़ा बिछाकर मां देवी की प्रतिमा स्थापित करें.

  • कपड़े पर थोड़े चावल रख ले. एक छोटी सी मिट्टी के पात्र में जौ रख दें.

  • उस पात्र पर जल से भरा हुआ कलश स्थापित करें.

  • कलश पर स्वास्तिक बना लें और उसमें अक्षत, सिक्का, साबुत सुपारी डालकर पान के पत्ते रखें. एक नारियल ले उस पर चुनरी से लपेट लें उसे कलश से बांधे.

  • कलश के ऊपर उस नारियल को रख लें. इसके बाद दीपक, सिंदूर, अक्षत, दही, फूल, फल आदि का आह्वान करते हुए कलश की पूजा करें.

  • इस दिन मां देवी की पूजा तांबा की कलश से करें.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें