भाजपा कार्यकारिणी : नरेंद्र मोदी ने बताया 7S का महत्व, कहा - आचरण-नीति में यह दिखे

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date


इलाहाबाद : संगम नगरी में जारी भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी का आज दूसरा व अंतिम दिन है.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज इलाहाबाद में भाजपा कार्यकारिणी को संबोधित करते हुए थोड़े भावुक हो गये. उन्होंने भावुक होते हुए कहा कि शरीर का कण-कणऔर जीवन का पल-पल इस देश को समर्पित है.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा कार्यकर्ताओं को आज सात मंत्र दिये. ये हैं : सेवाभाव, संतुलन, संयम, समन्वय, साकारात्मक, सद्भावना, संवाद. प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे आचरणव नीति में इनका असर दिखना चाहिए.

आज कार्यकारिणी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीके संबोधन के बादपरेड ग्राउंड में एक जनसभा होनी है.पीएम नरेंद्र मोदी इसकोसंबोधित कर उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव के अभियान की शुरुअात करेंगे. इससे पहले प्रधानमंत्री आज कार्यकारिणी में शामिल होने के लिए जाने से पहले शहीद चंद्रशेखर पार्क गये और वहां चंद्रशेखर आजाद की प्रतिमा को नमन किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शहीद स्थल को नमन करने के साथ पुष्प भी अर्पित किये. उसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केपी कॉलेज के लिए रवाना हो गये.


कल की कार्यकारिणी की बैठक में आर्थिक प्रस्ताव पेश किये जाने के बाद आज भी कार्यकारिणी में दो प्रस्ताव पेश किये जाने की संभावना है. बैठक में पांच राज्यों खासकर उत्तप्रदेश के चुनाव पर भी चर्चा होगी और इसके लिए सांगठनिक ताना-बाना कैसा हो इस पर बात होगी. वरिष्ठ केंद्रीय मंत्री व पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी ने पार्टी के द्वारा कृषि के क्षेत्र में किये जा रहे कार्यों का प्रेस कान्फ्रेंस में उल्लेख भी किया.


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम 6.20 बजे दिल्ली के लिए रवाना भी हो जायेंगे.

भ्रष्टाचार मुक्त निर्णय प्रक्रिया से देश की अर्थव्यवस्था को मिल रही है मदद : भाजपा


इलाहाबाद: अपनी उपलब्धियां गिनाते हुए भाजपा ने आज कहा कि दो साल पहले नरेंद्र मोदी सरकार के सत्ता में आने के बाद से अर्थव्यवस्था को लाभ मिला है तथा निर्णय करने की प्रक्रिया मजबूत हुई है. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने यहां कहा कि सरकार ने समन्वित आर्थिक दृष्टिकोण अपनाया जिसके परिणामस्वरूप अर्थव्यवस्था का विकास 7.9 प्रतिशत हो गया है तथा कृषि विकास ‘‘नकारात्मक स्थिति' से बाहर आ रही है. उन्होंने भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी में पारित प्रस्ताव के बारे में संवाददाताओं को बताया, ‘‘कृषि विकास अब 2.4 प्रतिशत है जो पूर्वमें शून्य दशमलव दो प्रतिशत पर था...स्थिति नकारात्मक थी.' गडकरी ने कहा कि पूर्ववर्ती संप्रग शासनकाल में 3.5 करोड बैंक खाते थे. किंतु प्रधानमंत्री जन धन योजना के शुरू होने के बाद से खाताधारकों की संख्या बढकर 21.80 करोड़ हो गयी जिसमें से कई डेबिट कार्ड और बीमा दुर्घटना जैसी सुविधाओं का लाभ भी ले रहे हैं. देश के कृषक समुदाय के उत्थान के लिए सरकार की प्रतिबद्धता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि अगले चार साल में लंबित सिंचाई योजनाओं को पूर्ण करने के लिए केंद्रीय बजट में 50 हजार करोड़ रुपये आवंटित किये गये हैं. उन्होंने कहा कि एक समय था जब यूरिया को पाने के लिए झगड़े हुआ करते थे. अब 25 लाख टन यूरिया उत्पादित की जा रही है तथा यह आसानी से उपलब्ध है. उन्होंने कहा कि यूरिया में नीम कोटिंग ने यह सुनिश्चित किया है कि अन्य उद्देश्यों के लिए इसकी काला बाजारी नहीं हो.

बिजली क्षेत्र की उपलब्धता का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि देश में कोयले का अधिशेष उत्पादन हुआ जिससे ताप बिजली उत्पादन में वृद्धि हुई है. गडकरी ने कहा कि भ्रष्टाचार मुक्त निर्णय पक्रिय ने यह सुनिश्चित किया है कि देश में अब नीतिगत अपंगुता नहीं है. भाजपा की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक का आज अंतिम दिन है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें