32.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

जेएसएससी पेपर लीक 2023 मामले में झारखंड के सीएम चंपाई सोरेन का बड़ा बयान, जानें क्या बोले

जेएसएससी सीजीएल 2023 पेपर लीक मामले में झारखंड के मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने बड़ा बयान दिया है. कहा कि पूरा देश पेपर लीक की समस्या से जूझ रहा है.

JSSC CGL 2023 Paper Leak Case| जेएसएससी सीजीएल 2023 पेपर लीक मामले में झारखंड के मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने बड़ा बयान दिया है. झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के पहले दिन शुक्रवार (23 फरवरी) को चंपाई सोरेन ने विधानसभा परिसर में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि झारखंड ही नहीं, पूरा देश पेपर लीक की समस्या से जूझ रहा है.

जेएसएससी पेपर लीक की जांच के लिए बनाई एसआईटी : सीएम

झारखंड के मुख्यमंत्री ने कहा कि इस समस्या से निजात पाने के लिए हमारी सरकार ने स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) बनाई है. बड़ी तेजी से इस मामले में जांच हो रही है. सभी आरोपी पकड़े जाएंगे. हमें थोड़ा इंतजार करना होगा, क्योंकि जांच में थोड़ा समय तो लगता है. जांच के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी भी होगी.

विधानसभा के अंदर और बाहर JSSC CGL 2023 पेपर लीक की सीबीआई जांच की मांग

बता दें कि झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के पहले दिन शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायकों ने सदन के अंदर और बाहर झारखंड राज्य कर्मचारी चयन आयोग (JSSC) की ओर से आयोजित जेएसएससी सीजीएल परीक्षा प्रश्न पत्र लीक मामले में जोरदार प्रदर्शन किया. सरकार से इसकी सीबीआई जांच की मांग की. इसी पर मुख्यमंत्री की ओर से यह जवाब आया है. इससे पहले प्रदीप यादव ने विधानसभा में कहा कि प्रश्न पत्र का लीक होना बेहद चिंता का विषय है. लेकिन, यह सिर्फ झारखंड में नहीं हो रहा है. बुलडोजर बाबा के उत्तर प्रदेश समेत देश में 43 जगहों पर प्रश्न पत्र लीक हुए हैं. सरकार ने इसकी जांच के आदेश दिए हैं.

Also Read : JSSC CGL 2023 पेपर लीक मुद्दे पर विधानसभा में जोरदार हंगामे के बीच 4981 करोड़ का अनुपूरक बजट पेश

28 जनवरी को हुई परीक्षा को करना पड़ा रद्द

यहां बताना प्रासंगिक होगा कि झारखंड में लंबे इंतजार के बाद 28 जनवरी 2024 और 4 फरवरी 2024 को एसएससी सीजीएल की परीक्षा की तिथि तय हुई थी. 28 जनवरी 2024 को परीक्षा हुई. सामान्य ज्ञान परीक्षा का पेपर लीक हो गया. अभ्यर्थियों का आरोप है कि परीक्षा से एक दिन पहले ही व्हाट्सएप पर प्रश्न पत्र वायरल हो गया था.

31 जनवरी को अभ्यर्थियों ने किया जेएसएससी कार्यालय का घेराव

इसके बाद झारखंड के अलग-अलग हिस्से से आए अभ्यर्थियों ने 31 जनवरी को नामकुम स्थित जेएसएससी कार्यालय का घेराव किया. जेएसएससी के चेयरमैन नीरज कुमार की कार पर भी हमला किया गया. तोड़फोड़ की गई. इस मामले में पुलिस ने 4 हजार से अधिक अज्ञात अभ्यर्थियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करक ली. 28 जनवरी को हुई परीक्षा को रद्द कर दिया गया. 4 फरवरी की परीक्षा भी स्थगित कर दी गई.

Also Read : JSSC Chairman Resigns: जेएसएससी के चेयरमैन नीरज सिन्हा ने दिया इस्तीफा, बताया ये कारण

पेपर लीक की सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं अभ्यर्थी

अभ्यर्थियों के विरोध को देखते हुए जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया. कई लोगों की गिरफ्तारी भी हुई है. शुक्रवार को भी बिहार से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया, लेकिन अभ्यर्थी अभी भी सीबीआई जांच की मांग पर अड़े हैं. विधानसभा के पहले भी सदन में इसी मांग पर विपक्ष के विधायक वेल में आ गए थे. हालांकि, शोक प्रकाश के दौरान सभी विधायक अपनी-अपनी सीट पर चले गए.

सीबीआई जांच के लिए बढ़ते दबाव के बीच नीरज सिन्हा ने दिया इस्तीफा

जेएसएससी सीजीएल 2023 पेपर लीक मामले में सीबीआई जांच के लिए बढ़ते दबाव के बीच जेएसएससी के चेयरमैन नीरज सिन्हा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने मुख्य सचिव को प्रेषित इस्तीफे में लिखा है कि वह व्यक्तिगत कारणों से पदत्याग कर रहे हैं, लेकिन सूत्र बताते हैं कि सरकार ने उन्हें इस्तीफा देने के लिए कहा था. नीरज कुमार की जगह प्रशांत कुमार को जेएसएससी के अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें