विधानसभा चुनाव 2019 : 19 साल के झारखंड के लिए भाजपा जरूरी, जल, जंगल, जमीन पर आंच नहीं आयेगी : पीएम मोदी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

चुनावी सभा : खूंटी में 34 और जमशेदपुर में 44 मिनट तक लोगों से रूबरू हुए पीएम मोदी, बोले

आदिवासी के हितों की रक्षा का ट्रैक रिकॉर्ड रहा है भाजपा का

रांची : खूंटी के बिरसा स्टेडियम में मंगलवार को आयोजित जनसभा में प्रधानमंत्री करीब 34 मिनट तक बोले. भाषण की शुरुआत मुंडारी से करते हुए मोदी ने भीड़ को अपनी ओर खींचा. साथ ही कहा कि कांग्रेस और उसके साथियों से सावधान रहने की जरूरत है. इनका इतिहास, इनके कारनामे जानते हैं.

इनका एजेंडा झारखंड को लूटना है. कांग्रेस और झामुमो की राजनीति छल-स्वार्थ की है, भाजपा कर्म व सेवा की भावना से काम करती है. यह चुनाव 19 साल के झारखंड को नयी ताकत देगा. आदिवासी हितों के प्रति भाजपा की प्रतिबद्धता देख झारखंड को भरोसा मिला है कि जल-जंगल और जमीन पर कोई आंच नहीं आयेगी. श्री मोदी ने कहा कि आदिवासी हितों की रक्षा का ट्रैक रिकॉर्ड भाजपा का रहा है. अटल जी की भाजपा सरकार ने झारखंड-छत्तीसगढ़ अलग राज्य बनाया. आजादी के बाद पहली बार आदिवासियों के लिए अलग मंत्रालय भाजपा सरकार ने ही बनाया. प्रधानमंत्री ने भाजपा के वरिष्ठ नेता कड़िया मुंडा को संगठन शास्त्र का अपना गुरु बताया, तो केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा की तारीफ की.

बिरसा मुंडा से लेकर अलबर्ट एक्का की शहादत को याद किया, वहीं टाना भगतों के गांधी प्रेम की सराहना की. पीएम मोदी ने कांग्रेस-झामुमो पर सीधा हमला करते हुए लोगों को इन दलों से सावधान रहने को कहा. धारा 370 और रामजन्म भूमि विवाद पर फिर मोदी ने अपनी बातें रखीं.

जनता कह रही है झारखंड पुकारा, भाजपा दोबारा

प्रधानमंत्री ने कहा : डबल इंजन की सरकार में विकास तेज और स्थायी होता है. यहां की जनता सहज रूप से कह रही है झारखंड पुकारा, भाजपा दोबारा. सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास हमारा मूलमंत्र है. उन गांवों में जहां बिजली पहुंचना मुश्किल था, वहां तक बिजली पहुंची. ऐसे क्षेत्र जहां विरोधी दल झांकने नहीं आते थे, वहां सड़कें पहुंचीं जिनको कांग्रेस-झामुमो ने झोपड़ी में छोड़ दिया था, उनको घर मिला.

कांग्रेस को कठघरे में खड़ा किया

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर हमला बोला. कहा : आपके के पड़ोस के राज्य में झूठ बोल कर कांग्रेस वाले सत्ता पर बैठ गये, लेकिन एक वादा पूरा नहीं किया. लोकसभा चुनाव के समय भाजपा ने जो संकल्प किया, उसे पूरा कर रही है. किसानों को पीएम निधि दिया, छोटे किसान, खेतिहर मजदूर, छोटे व्यवसायी को 60 साल बाद पेंशन देने जैसे वादे पूरे हुए. आदिवासी क्षेत्रों में एकलव्य विद्यालय, शहीद परिवारों को स्कॉलरशिप का वादा पूरा हुआ.

धारा 370 और राम जन्मभूमि पर भी बोले

प्रधानमंत्री ने कहा : अनेक मुद्दे जो दशकों से लटके थे, उनका समाधान भी हुआ. जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हट चुकी है. अब केंद्र शासित प्रदेश को विकास व विश्वास के पथ पर ले जाने की जिम्मेदारी आदिवासी अंचल में जन्मे, पले-बढ़े उप राज्यपाल जी के कंधों पर है. राम जन्मभूमि के जिस विवाद को कांग्रेस व सहयोगी दलों ने लटकाये रखा, वह भी शांतिपूर्ण ढंग से हल हुआ. अनके वादे जो हमने किये, जमीन पर उतर चुके हैं.

झारखंड को ताकतवर, समृद्ध और सशक्त बनाना है

कहा : झारखंड 19 साल का हो गया है. जैसे 19 साल के बच्चे के लिए मां-बाप गंभीरता से सोचते हैं, वैसे ही झारखंड के लिए सोचना होगा. जितनी जवाबदेही झारखंड के लोगों की है, उतनी ही मेरी भी है. पांच साल बाद झारखंड 25 का हो जायेगा, इसको ताकतवर, समृद्ध और सशक्त बनाना है.

आदिवासी के योगदान का देश भर में हो रहा प्रचार-प्रसार

उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार ने डिस्ट्रीक मिनरल फंड बनाया. यहां के खनिज का हिस्सा मिल रहा है. पहले यह नहीं होता था. राज्य को पांच हजार करोड़ मिले. 70 साल में कांग्रेस, जिसका सहयोगी झामुमो भी रहा, कभी इसकी याद नहीं आयी. आदिवासी हितों के प्रति इसी प्रतिबद्धता ने लोगों का विश्वास बढ़ाया है. भाजपा आदिवासी के योगदान को देश भर में प्रचारित-प्रसारित कर रही है. बिरसा मुंडा संग्रहालय बन रहा है. पूरे देश में आदिवासी संस्कृति, कला को सहेजने का काम हो रहा है. मेरी कोशिश है कि देश दुनिया के लोग झारखंड घूमने-फिरने आयें. यहां की संस्कृति, प्रकृति देखें. झारखंड में पर्यटन बढ़े. उद्योग लगें. प्रधानमंत्री ने लोगों से अपील की कि भारी संख्या में मतदान करें. कांग्रेस-जेएमएम के झूठ का पर्दाफाश करें, बेनकाब करें. कमल निशान पर वोट कर झारखंड को ताकत दें.

कौन-कौन थे मौजूद : केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, भाजपा के वरिष्ठ नेता कड़िया मुंडा, एसटी मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविचार नेताम, सहप्रभारी नंदकिशोर यादव, सांसद संजय सेठ, असम के सांसद दिलीप सैकिया, महेश पोद्दार, विधायक नीलकंठ सिंह मुंडा, सीपी सिंह, नवीन जायसवाल, रामकुमार पाहन, कोचे मुंडा, समरी लाल सहित कई प्रत्याशी मौजूद थे.

राज्य और आदिवासियों के हित की बात

डबल इंजन की सरकार में विकास तेज और स्थायी होता है, झारखंड के भविष्य के बारे में सोचना होगा

आदिवासी हितों के प्रति भाजपा प्रतिबद्ध, जल-जंगल और जमीन पर कोई आंच नहीं आने दी जायेगी

आदिवासी विभूतियों और नेताओं का सम्मान

बिरसा से लेकर अलबर्ट एक्काकी शहादत को याद किया, टाना भगतों के गांधी दर्शन को सराहा

कड़िया को संगठन शास्त्र सिखाने वाला अपना गुरु बताया, तो केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा की तारीफ की

कांग्रेस-झामुमो पर हमला

रामजन्म भूमि विवाद को कांग्रेस

व सहयोगी दलों ने लटकाये रखा, वह शांतिपूर्ण ढंग से हल हुआ

कांग्रेस और उसके साथियों से सावधान रहें, झारखंड के प्राकृतिक संसाधनों पर है इनकी नजर

ये लोग सत्ता में वापसी के लिए छटपटा रहे हैं, फिर से सत्ता में आये, तो फिर से झारखंड लूटेंगे

पड़ोस के राज्य में झूठ बोल कर कांग्रेस वाले सत्ता पर बैठ गये, पर एक भी वादा पूरा नहीं किया

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें