रांची : केवल टापू पर स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा भर खड़ी दिख रही है

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
उत्तम महतो
रांची : मुख्यमंत्री रघुवर दास ने 12 जनवरी को बड़ा तालाब में स्वामी विवेकानंद के 33 फीट ऊंची आदमकद प्रतिमा का अनावरण किया था. उस दौरान मुख्यमंत्री ने बचे हुए काम को जल्द से जल्द पूरा करने का निर्देश भी दिया था. वहीं, कार्यक्रम स्थल पर मौजूद भवन निर्माण विभाग के पदाधिकारियों ने कहा था कि तीन माह के अंदर बाकी के बचे हुए काम को पूरा कर लिया जायेगा, लेकिन मौजूदा वक्त में स्थिति इसके एकदम उलट है.
मुख्यमंत्री द्वारा प्रतिमा के अनावरण के दौरान जो कार्य किये गये थे, उसके बाद से काम पूरी तरह से बंद पड़ा हुआ है. यहां से गुजरनेवालों को केवल तालाब के बीच में बने टापू पर खड़ी स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा भर दिख रही है. प्रभात खबर की टीम ने जब बड़ा तालाब के सौंदर्यीकरण कार्य का जायजा लिया, तो यहां स्टोर में कार्यरत एक कर्मचारी ने कहा कि होली के बाद से काम बिल्कुल बंद पड़ा हुआ है. सौंदर्यीकरण कार्य की रफ्तार को देख कर लगता है, जैसे इसे पूरा होने में अभी छह माह और लगेंगे.
सौंदर्यीकरण का कार्य सरकार की प्राथमिकता में शामिल है. टाइल्स सहित कुछ उपकरण नहीं उपलब्ध होने के कारण उसे बाहर से मंगाया जा रहा है. इस कारण थोड़ा विलंब हुआ है. सौंदर्यीकरण कार्य जल्द पूरा होगा.
सुनील कुमार, सचिव, भवन निर्माण विभाग
जो काम अब तक पूरे नहीं हुए
बड़ा तालाब सौंदर्यीकरण कार्य के तहत तालाब के चारों ओर पाथ वे का निर्माण होना था. तालाब में गिरने वाले गंदे नालों पर रोक लगानी थी. पाथ वे के किनारे किनारे बैठने के लिए बेंच व आकर्षक लाइटिंग करने की योजना थी. इसके अलावा स्वामी विवेकानंद के चारों ओर रंग बिरंगे फव्वारे लगाने की योजना थी. प्रतिमा के चारों ओर पार्क बनाने, 153 मीटर लंबे ब्रिज में अशोका लाइट व एंटिक पोल, इसके अलावा प्रतिमा के चारों ओर रेलिंग बनाने की योजना थी.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें