25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

रांची : झारक्राफ्ट की पूर्व सीइओ रेणु की बेटी के खाते में एक माह में जमा हुए 27.71 लाख

शकील अख्तर रांची : झारक्राफ्ट की पूर्व सीइओ रेणु गोपीनाथ की बेटी चंद्रलेखानाथ के बचत खाते में दिसंबर 2017 में 14 दिनों के अंदर 27.71 लाख जमा हुए थे. रेणु गोपीनाथ के करीबी गिजो जॉनी के खाते में दो माह (अगस्त से सितंबर 2017) में 18.32 लाख नकद जमा हुए. सिर्फ इतना ही नहीं खुद […]

शकील अख्तर
रांची : झारक्राफ्ट की पूर्व सीइओ रेणु गोपीनाथ की बेटी चंद्रलेखानाथ के बचत खाते में दिसंबर 2017 में 14 दिनों के अंदर 27.71 लाख जमा हुए थे. रेणु गोपीनाथ के करीबी गिजो जॉनी के खाते में दो माह (अगस्त से सितंबर 2017) में 18.32 लाख नकद जमा हुए. सिर्फ इतना ही नहीं खुद रेणु गोपीनाथ ने 10 लाख रुपये निवेश करने के लिए कई बैंक खातों से होकर इस पैसे को गुजारा. इसके साथ ही इन तीनों के अलग-अलग बैंक खातों के माध्यम से एक-दूसरे को पैसा ट्रांसफर किया गया.
रेणु गोपीनाथ दो मई 2016 से 24 अप्रैल 2018 तक झारक्राफ्ट की सीइओ रहीं. उन्होंने यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (डोरंडा) में दो बैंक खाते खोले.
पांच जुलाई 2017 को उन्होंने यूबीआइ में 40 हजार रुपये जमा कर चालू खाता संख्या 380301010150651 और पांच हजार रुपये जमा कर बचत खाता संख्या 380302010166364 खोला. उनके करीबी गिजो जॉनी ने 20 जुलाई को इसी बैंक में चालू खाता संख्या 380301010150653 खोला. हालांकि उन्होंने खाता खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज नहीं जमा किये. खाता खोलते वक्त उन्होंने सिर्फ ट्रेडर होने का उल्लेख किया .
रेणु गोपीनाथ ने 24 जुलाई को बचत खाता में 50 हजार रुपये नकद जमा किया. उन्होंने अपने एक्सिस बैंक के अकाउंट से 30 अगस्त को 10 लाख रुपये यूबीआइ के चालू खाता (करंट अकाउंट) में ट्रांसफर किया.
इसमें से सात लाख रुपये उनकी बेेटी चंद्रलेखानाथ ने अपने किसी अकाउंट से 29 अगस्त 2017 को मां रेणु गोपीनाथ के एक्सिस बैंक के खाते में ट्रांसफर किया था. 30 अगस्त को खुद रेणु गोपीनाथ ने दूसरे अकाउंट से अपने एक्सिस बैंक के अकाउंट में 1.5 लाख रुपये ट्रांसफर किये थे.
जबकि 17 अगस्त को दो लाख रुपये नकद जमा हुए थे. 30 अगस्त को यूबीआइ के चालू खाता में रुपये ट्रांसफर होने के बाद उन्होंने इसे यूबीआइ के ही अपने बचत खाता में ट्रांसफर किया. इसके बाद उसी दिन इस पैसे को यूबीआइ के बचत खाता में ट्रांसफर किया और निवेश (यूनियन कैपिटल ओरियेंटेड फंड सीरीज-8) किया.
एक माह में 27.71 लाख रुपये जमा
रेणु गोपीनाथ की बेटी चंद्रलेखा ने 48 हजार रुपये नकद जमा कर बचत खाता खोला था. 13 दिसंबर को इसी अकाउंट में छह लाख रुपये जमा किये गये. 14 दिसंबर को 1.97 लाख रुपये जमा किये गये.
18 दिसंबर को रेणु गोपीनाथ ने बेटी चंद्रलेखा के खाते में 20 हजार रुपये जमा किये. 22 दिसंबर को 10 हजार रुपये किसी अकाउंट से ट्रांसफर और 16 हजार रुपये जमा किये गये. इस तरह सिर्फ 10 दिन में चंद्रलेखा के खाते में सभी स्रोतों से कुल 10 लाख 47 रुपये जमा हुए. 22 दिसंबर को ही इसमें से 10 लाख रुपये यूनियन कैपिटल प्रोटेक्शन फंड में निवेश हुआ. इसके बाद 28 और 29 दिसंबर को चंद्रलेखा के खाते में फिर नौ-नौ लाख यानी दो दिन में 18 लाख रुपये जमा हुए. इस तरह चंद्रलेखा के बचत खाते में एक ही महीने में कुल 27.71 लाख रुपये जमा हुए.
चंद्रलेखा नाथ के खाते में जमा नकद राशि का विवरण
तिथि राशि
12-12-2017 48,000.00
13-12-2017 6,00,000.00
14-12-2017 1,97,000.00
16-12-2017 1,10,000
22-12-2017 16,000.000
28-12-2017 9,00,000.00
29-12-2017 9,00,000.00
गिजो जानी के खाते में जमा नकद का ब्योरा
तिथि राशि
11-8-2017 1,98,000.00
22-9-2017 8,00,000.00
25-9-2017 5,34,000.00
26-9-2017 3,00,000.00
मैं करोड़पति थी और अब भी करोड़पति हूं : रेणु
रेणु गोपीनाथ ने बैंकों में जमा रुपये और लेन-देन के सिलसिले में पूछे गये सवालों का जवाब देते हुए कहा कि वह झारक्राफ्ट में सीइओ बनने से पहले भी करोड़पति थीं और अब भी करोड़पति हैं.
अपनी बेटी के खाते में जमा पैसों के बारे में कहा कि उनके पति की प्रोपर्टी बिकी थी. वही पैसा बेटी के खाते में जमा किया गया है. उन्होंने गिजो जॉनी को अपना बिजनेस पार्टनर बताया. हालांकि यह बताने से इनकार किया कि वह उनके साथ किस चीज का व्यापार करती हैं.
अपने एक खाते से दूसरे खाते में पैसा ट्रांसफर कर इंवेस्ट करने से जुड़े मामले में कहा कि एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में पैसा ट्रांसफर करना ना तो मना है, ना ही अपराध है. सीइओ रहते हुए यूनियन बैंक में चालू खाता खोलने से जुड़े सवालों के जवाब में कहा कि उस वक्त बैंक मैनेजर उनकी मित्र थी. बैंक का टारगेट पूरा करने के लिए खाता खोला था.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें